विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Aug 10, 2023

सवाई माधोपुर: 12वीं की छात्रा से टीचर की थी 'दोस्ती', कुएं से मिली लाश; रेप के बाद हत्या की आशंका

मामला सवाई माधोपुर का है. परिवार का आरोप है कि स्कूल के टीचर ने पहले छात्रा का अपहरण किया. आशंका जताई कि अपहरण करने के बाद रेप किया गया है. उसके बाद लड़की की हत्या कर दी गई है. आरोपी टीचर को पुलिस ने हिरासत में लिया है.

Read Time: 4 min
सवाई माधोपुर: 12वीं की छात्रा से टीचर की थी 'दोस्ती', कुएं से मिली लाश; रेप के बाद हत्या की आशंका
प्रतीकात्मक फोटो.
सवाई माधोपुर:

राजस्थान में अपराधों को लेकर विपक्ष की ओर से सरकार पर लगातार हमले किए जा रहे हैं. बीजेपी के नेता दावा करते हैं कि राज्य सरकार अपराधों पर अंकुश नहीं लगा रही है. इस बीच भीलवाड़ा के बाद सवाई माधोपुर में एक 12वीं क्लास की छात्रा के हत्या की खबर है. परिवार का आरोप है कि स्कूल के टीचर ने पहले छात्रा का अपहरण किया. आशंका जताई कि अपहरण करने के बाद रेप किया गया है. उसके बाद लड़की की हत्या कर दी गई है. आरोपी टीचर को पुलिस ने हिरासत में लिया है. उससे पूछताछ की जा रही है. उधर, टीचर को स्कूल से सस्पेंड कर दिया गया है. पुलिस मामले की जांच में जुटी है.

SP हर्षवर्धन अगरवाला ने बताया, "मामला सवाई माधोपुर के बौंली इलाके का है. 16 साल की लड़की 8 अगस्त से लापता थी. वह सरकारी स्कूल में पढ़ती थी. उसी स्कूल में पढ़ाने वाले टीचर रामरतन मीणा (33) के खिलाफ लड़की के पिता ने अपहरण की रिपोर्ट दर्ज कराई थी. मामला दर्ज होने के बाद CO मीना मीणा के नेतृत्व में बौंली थाना पुलिस ने सर्च ऑपरेशन शुरू किया. रात भर ग्रामीणों की मदद से थाना क्षेत्र के खेतों, विभिन्न स्थानों पर लड़की की तलाश की गई. 

कुएं से मिली लाश
बौंली थाना क्षेत्र के हनुतिया गांव में गुरुवार सुबह करीब 11:00 बजे कुएं से 16 साल की लड़की का शव बरामद हुआ था. कुएं के बाहर उसकी चप्पल पड़ी थी. उसी को देखकर पुलिस ने कुएं में देखा. अंदर लड़की की लाश तैर रही थी. शव बरामद होने के बाद परिवार वालों के साथ मिलकर ग्रामीणों ने प्रदर्शन किया.

टीचर और लड़की के बीच होती थी बातें 
जानकारी के मुताबिक, टीचर और लड़की के बीच मोबाइल पर बातें होती थी. ऐसे में ग्रामीणों ने आक्रोश जाहिर करते हुए  आरोपी टीचर के खिलाफ दुष्कर्म और हत्या का मामला दर्ज करने की मांग की है. इस बीच फॉरेंसिक टीम ने मौके पर पहुंचकर सूबत जुटाए. पुलिस प्रशासन ने ग्रामीणों को समझाया, लेकिन वो 7 सूत्री मांगों पर अड़े रहे.

प्रदर्शनकारियों ने रखी ये मांगें
-पीड़ित परिवार को एक करोड़ की आर्थिक सहायता.
-पीड़ित परिवार के एक व्यक्ति को सरकारी नौकरी.
-आरोपी टीचर को टर्मिनेट कर 302 के तहत केस दर्ज हो.
-आरोपी के लिए फांसी की सजा सुनिश्चित किया जाए.

आखिरकार 7 घंटे बाद बनी सहमति
गुरुवार शाम 5:00 बजे तक कई मांगों पर सहमति बन गई, लेकिन मुआवजा व सरकारी नौकरी की मांग पर सहमति न बन पाने के कारण शव का पोस्टमार्टम नहीं हो सका. करीब लगभग 7 घंटे बाद प्रशासन और ग्रामीणों में सभी मांगों को लेकर सहमति बनी. इसके बाद पुलिस ने शव को कब्जे में लिया और पोस्टमार्टम के लिए बौंली सीएचसी भेजा. पोस्टमॉर्टम के बाद शुक्रवार सुबह लाश परिजनों को सौंपा जाएगा. पुलिस इस मामले की हत्या, आत्महत्या, ऑनर किलिंग जैसे सभी एंगल से जांच में जुटी है.


 

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • 24X7
Choose Your Destination
Close