विज्ञापन
Story ProgressBack

यूट्यूबर एल्विश यादव की गिरफ्तारी और रिहाई पर उठे सवाल, जानें क्या है अंदर की बात?

राजस्थान पुलिस के उच्चाधिकारियों ने नोएडा पुलिस को जानकारी दी ,लेकिन नोएडा पुलिस ने राजस्थान पुलिस को यह कहते हुए मना कर दिया कि अभी एल्विश यादव पर आरोप साबित नहीं है और ना ही अभी वो वांडेड है. नोएडा पुलिस से बातचीत के बाद राजस्थान की सुकेत पुलिस ने एल्विश यादव को पूछताछ के बाद छोड़ दिया.

Read Time: 4 min
यूट्यूबर एल्विश यादव की गिरफ्तारी और रिहाई पर उठे सवाल, जानें क्या है अंदर की बात?
फाइल फोटो

Elvish Yadav Latest News: 'बिग बॉस ओटीटी 2' विनर और यूट्यूबर एल्विश यादव (Elvish Yadav) इन दिनों विवादों के घेरे में हैं. नोएडा पुलिस (Noida Police) ने सांपों के जहर की सप्लाई करने वाले एक गैंग का खुलासा किया. एल्विश यादव (Elvish Yadav) की रेव पार्टी में सापों के जहर और विदेशी लड़की की सप्लाई की बात सामने आई थी. एल्विश को शनिवार शाम कोटा में पूछताछ के लिए गिरफ्तार किया गया, लेकिन थोड़ी बाद उसे छोड़ दिया गया.

गौरतलब है रेव पार्टी में सांपों के जहर की सप्लाई व विदेशी लड़कियों को बुलाए जाने के मामले में विवादों में घिरे यूट्यूबर एल्विश यादव को बीती रात राजस्थान के कोटा की सुकेत थाना पुलिस ने विधानसभा चुनावों के मध्यनजर झालावाड़ रोड पर की जा रही नाकाबंदी के दौरान दबोच लिया था.

एल्विश यादव के खिलाफ नोएडा में रेव पार्टी में सांपों का जहर सप्लाई करने व विदेशी लड़कियों की सप्लाई करने का मामला दर्ज था. राजस्थान पुलिस के उच्चाधिकारियों ने नोएडा पुलिस को जानकारी दी, लेकिन नोएडा पुलिस ने राजस्थान पुलिस को यह कहते हुए मना कर दिया कि अभी एल्विश यादव पर आरोप साबित नहीं है और ना ही अभी वो वांडेड है.

रिपोर्ट के मुताबिक झालावाड़ रोड पर नाकाबंदी में तैनात सुकेत थानाधिकारी विष्णु सिंह ने नाकाबंदी के दौरान PB 65 AX0100 नंबर की एक  XUV 300 कार आई. कार में कार चालक सहित तीन अन्य लोग सवार थे, पुलिस पूछताछ में कार में सवार एक व्यक्ति अपना नाम बिगबॉस विनर व यूट्यूबर एल्विश यादव बताया. एल्विश का नाम सुनते ही सुकेत पुलिस ने उसे पकड़ लिया और उच्च अधिकारियों को सूचना दी.

राजस्थान पुलिस के उच्चाधिकारियों ने नोएडा पुलिस को जानकारी दी ,लेकिन नोएडा पुलिस ने राजस्थान पुलिस को यह कहते हुए मना कर दिया कि अभी एल्विश यादव पर आरोप साबित नहीं है और ना ही अभी वो वांडेड है. नोएडा पुलिस से बातचीत के बाद राजस्थान की सुकेत पुलिस ने एल्विश यादव को पूछताछ के बाद छोड़ दिया. सुकेत थानाधिकारी विष्णु सिंह ने बताया कि एल्विश यादव के साथ उसके अन्य तीन दोस्त भी थे.

एल्विश ने पूछताछ में बताया कि वो महाराष्ट्र से आ रहा था और दिल्ली जा रहा था. बड़ी बात यह है कि एल्विश यादव की तलाश के लिए नोएडा पुलिस द्वारा तीन टीमें गठित की गई है, लेकिन झालावाड़ रोड पर नाकाबंदी के दौरान सुकेत पुलिस द्वारा एल्विश को पकड़ने के बावजूद नोएडा पुलिस ने इंकार कर दिया कि यह वांछित नही हैं.

एल्विश बोले. सांसद के ऊपर करेंगे मानहानि का केस

रेव पार्टी करने और जहरीले सापों के जहर की तस्करी के आरोपों के बीच एल्विश यादव को लेकर चर्चा बढ़ गई है. हालांकि एल्विश को इंडस्ट्री और फैंस का लगातार सपोर्ट मिल रहा है, तो वहीं, प्रकरण के बाद एल्विश यादव ने सांसद मेनका गांधी के ऊपर मानहानि का केस करने की बात भी कहीं है.

मेनका गांधी ने 5 आरोपियों को गिरफ्तार करवाया

भाजपा सांसद मेनका गांधी की संस्‍था पीपल फॉर एनिमल्‍स ने स्टिंग ऑपरेशन के जरिए 5 आरोपियों को गिरफ्तार करवाया था.  इस प्रकरण पर मेनका गांधी ने मीडिया से बातचीत में एल्विश यादव की गिरफ्तारी की मांग की थी. साथ ही कहा था कि एक बेजुबान जानवर को परेशान किया,उनके जहर की तस्करी की गई, उनके संस्था की नजर एल्विश पर थी.

यह भी पढ़ें-  एल्विश यादव के खिलाफ नोएडा के थाने में FIR दर्ज, सांपों का जहर सप्लाई करने का आरोप

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close