विज्ञापन
Story ProgressBack

पत्नी ने की थी पति की हत्या, एक साल पहले लापता युवक के मर्डर का राज...रोंगटे खड़े कर देगी

एक साल पहले संदिग्ध परिस्थिति में एक युवक लापता हुआ था. लेकिन अब इस लापता मामले में नया मोड़ सामने आया है. अब यह मामला ब्लाइंड मर्डर केस में तब्दील हो चुका है.

Read Time: 7 min
पत्नी ने की थी पति की हत्या, एक साल पहले लापता युवक के मर्डर का राज...रोंगटे खड़े कर देगी
आरोपी प्रेमी, मृतक और पत्नी

Rajasthan News: राजस्थान के बाड़मेर जिले के सदर थाना क्षेत्र में एक साल पहले संदिग्ध परिस्थिति में एक युवक लापता हुआ था. लेकिन अब इस लापता मामले में नया मोड़ सामने आया है. अब यह मामला ब्लाइंड मर्डर केस में तब्दील हो चुका है. बाड़मेर पुलिस ने इस मामले में रोंगटे खड़े कर देने वाला खुलासा किया है. पुलिस के मुताबिक, पत्नी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर हत्या के वारदात को अंजाम दिया था. युवक को घर से एक किलोमीटर तक कंधे पर टांग कर सड़क तक लाया गया और प्रेमी ने अपने घर के पास बने एख टांके के अंदर शव का डाल दिया था.

वहीं इस मामले में एसपी नरेंद्र सिंह मीणा ने यह भी कहा कि इस पूरी घटना की जांच में जुटी पुलिसकर्मियों की भूमिका भी संदिग्ध नजर आ रही है. ऐसे में जांच को प्रभावित करने के चलते पुलिसकर्मियों की भूमिका को लेकर भी जांच की जा रही है.

पति से झगड़ा कर पत्नी ने प्रेमी को बुलाया और हत्या कर दी

घटना 4 मई 2023 की है जब दो दिन पहले ही मृतक खरताराम की पत्नी अपने पीहर से पति के साथ रहने के लिए आई थी. वहीं पीहर आने से पहले शर्त रखी थी की मां बाप से अलग रखेगा तो ही उसके साथ रहेगी. इसके बाद मृतक के पिता ने घर से थोड़ी दूर स्थित अपने खेत में बेटे और बहू के लिए एक कमरा बना कर दे दिया. एक दिन दोनों इस कमरे में साथ रहे दूसरे दिन पत्नी के रिश्तेदार के यहां धार्मिक कार्यक्रम था. ऐसे में पत्नी वहां चली गई इसके बाद मृतक भी पत्नी के पीछे चला गया. जहां पति ने पत्नी के स्कूल समय के प्रेमी दिनेश पूरी को देख लिया. मृतक को पहले से ही पत्नी और दिनेश पुरी के बीच अफेयर का शक था. इसी बात को लेकर दूसरे दिन रात 4 मई को जब दोनों घर लौटे तो दोनों के बीच कहा-सुनी हो गई. इसके बाद पत्नी ने अपने प्रेमी दिनेश को घर बुलाया और दोनों ने मिलकर कुल्हाड़ी से खरताराम की हत्या कर दी.

पति के लापता होने की रचि साजिश

पत्नी और प्रेमी ने खरताराम की हत्या करने के बाद मृतक के खुद ही घर छोड़कर जाने एक झूठी कहानी रच डाली,पत्नी ने सबूत मिटाने के लिए रात को ही अपने कपड़े धो डाले और प्रेमी के घर आने के पैरो के निशान तक मिटा डाले. खरताराम के अपने आप घर छोड़ने की कहानी को सच साबित करने के लिए प्रेमी ने मृतक के जूते पहनकर लाश को घर से करीब एक किलोमीटर दूर सड़क तक लेकर गए और आगे अपने एक साथी को बुलाकर गाड़ी उसके सहयोग से अपने घर के पास बने सुनसान जगह पर पानी के टांके (टैंक) डाल दिया. पत्नी ने सुबह 5 मई को जल्दी उठकर पड़ोसियों के घर कहानी बताई की पति जल्दी उठकर घर से कही चला गया है. उसके फोन की सिमकार्ड भी निकालकर साथ ले गया. ऐसे में उसे अपने पिता को फोन करके बुलाना है जिसपर उसका पिता आया और उसे लेकर चला गया.

मृतक के माता-पिता ने पत्नी पर पहले ही लगाए थे हत्या के आरोप

युवक खरताराम के गायब होने की सूचना जब माता-पिता को लगी तो उन्होंने पत्नी से बेटे के बारे में पूछा लेकिन पत्नी ने खुद ही घर से गायब होने की मनगढ़ंत कहानी सुनाते हुए अपने पिता के साथ पीहर चली गई. इसके बाद मृतक के परिजन लगातार पत्नी और पीहर पक्ष पर रात में किसी को बुलाकर हत्या करवाने के लगा रहे थे. लेकिन मामले की जांच करने वाले पुलिसकर्मियों ने जांच में लापरवाही बरती जिसके चलते एक साल से आरोपी सबके सामने होते हुए भी पुलिस की गिरफ्त से दूर रहे. लेकिन लोकसभा चुनाव से पूर्व मृतक के परिजन बाड़मेर जिला कलेक्टर कार्यालय के आगे मामले को खुलासे को लेकर धरने पर बैठ गए. इसके बाद पुलिस के उच्च अधिकारियों ने 15 मई तक मामले का खुलासा करने का आश्वासन देकर धरना समाप्त करवाया गया था, जिस पर बाड़मेर पुलिस अधीक्षक नरेंद्र सिंह मीणा ने मामले को गंभीरता से लेते हुए बाड़मेर डिप्टी रमेश कुमार शर्मा के सुपर विजन और पुलिस थाना ग्रामीण के थानाधिकारी दिनेश लखावत के नेतृत्व में टीम का गठन कर जांच के निर्देश दिए. जिसके बाद तकनीकी सहायता से आरोपी की कॉल डिटेल और लोकेशन खंगाली गई तो पुलिस को आरोपी पर शक हुआ. जिसके बाद कड़ाई से पूछताछ की गई तो आरोपी दिनेश टूट गया और पूरी वारदात कबूल कर ली. इसके बाद आरोपी की निशानदेही पर पुलिस ने सुनसान जगह पर स्थित एक पानी के टैंक से मृतक की लाश को बरामद कर मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाने को कार्यवाही शुरू कर दी है.

पत्नी बनाती रही मनगढ़ंत कहानियां

पत्नी द्वारा मृतक खरताराम के गायब होने की मनगढ़ंत कहानी के पुलिस ने मृतक के मजदूर होने के चलते विगत 5 साल के दौरान मजदूरी के ठिकानों के बारे में जानकारी प्राप्त कर राजस्थान और गुजरात के कई इलाकों में जाकर पूछताछ वह तलाशी की गई. लेकिन कोई सुराग नहीं मिला,जिसके बाद शक की सुई पत्नी की तरफ गई. इसके बाद पुलिस की टीम ने साक्षी जताकर तकनीकी टीम के सहयोग से हर पहलू की बारीकी से जांच की तो पत्नी के स्कूल के प्रेमी दिनेश पुरी पुत्र जगराम पूरी उम्र 19 साल निवासी कगाऊ पुलिस थाना सदर को हिरासत में लेकर सख्ती से पूछताछ की गई. तो आरोपी ने मृतक खरताराम की पत्नी के साथ मिलकर हत्या करना स्वीकार कर लिया. हत्या के बाद शव रेगजीन के बोरे में डाल कर अपने घर के पास एक सुनसान जगह पर स्थित टांके में डालना कबूल कर लिया. इसके बाद पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर मृतक के शव को बरामद कर बाड़मेर के राजकीय अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया और मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवा कर परिजनों को सुपुर्द किया जाएगा.

पति को रास्ते से हटाने के लिए प्रेमी संग मिलकर की हत्या

पुलिस द्वारा पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह और मृतक की पत्नी दोनों ही एक ही स्कूल में पढ़ते थे.पढ़ाई के दौरान दोनों के बीच प्रेम प्रसंग चल रहा था लेकिन कुछ समय बाद विधि से संघर्षरत (नाबालिग किशोरी) की शादी सदुलानियो का तला सनावड़ा निवासी खरताराम से हो गई. लेकिन शुरुआत से ही वह खरताराम को पसंद नहीं करती थी. जिसके चलते हमेशा से ही दोनों के बीच लड़ाई झगड़ा होता रहता था. जिसके चलते वो ज्यादातर समय अपने मां बाप के घर ही रहती थी और वारदात के तीन चार दिन पहले ही मृतक के साथ परिवार से अलग रहने की शर्त पर लौटी थी. तीन दिन बाद 4 मई को दिनेश और मृतक खरताराम की पत्नी ने मिलकर पति खरताराम को अपने रास्ते से हटाने के लिए कुल्हाड़ी से वार कर हत्या कर दी 

पुलिस के अनुसार इस पूरी वारदात में आरोपी दिनेश पुरी ने सड़क पर एक अन्य युवक को भी बुलाया था. दोनों ने मिलकर लाश को ठेकाने लगाया था फिलहाल पुलिस ने आरोपी दिनेश पुरी को गिरफ्तार कर लिया है और बाकी आरोपियों को जल्द ही गिरफ्तार करने की बात कही है. वहीं बाड़मेर एसपी नरेंद्र सिंह मीणा के अनुसार मृतक के परिजनों ने नामजद लोगों के विरुद्ध हत्या के शक को लेकर मामला दर्ज करवाया था. लेकिन इस मामले में पूर्व में जांच अधिकारी एवं पुलिस कर्मियों ने जांच में लापरवाही बरती है.

आपको बता दें इस मामले में परिजनों ने मृतक की पत्नी सहित नामजद लोगों पर गंभीर आरोप लगाएं थे.लेकिन तत्कालीन जांच अधिकारियों ने पूछताछ तक नहीं की ऐसे में पुलिस की जांच पर भी सवालिया निशान खड़े हो रहे है और बाड़मेर एसपी ने भी पुलिस कर्मियों की भूमिका के बारे में भी जांच करने की बात कही है.

यह भी पढ़ेंः कार में दम घुटने से 3 साल की मासूम की मौत, शादी में आए माता-पिता को हुई थी यह गलतफहमी

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close