विज्ञापन
Story ProgressBack

CHO Paper Leak Case: 2020 में 5 लाख में पेपर खरीदकर पाई थी CHO की नौकरी, SOG ने अब किया गिरफ्तार, कई और रडार पर

CHO Paper Leak Case: पेपर लीक मामले में एसओजी की टीम ने एक और आरोपी को गिरफ्तार किया है. CHO भर्ती परीक्षा 2020 के पेपर लीक मामले में एसओजी ने आज सामुदायिक स्वास्थ्य अधिकारी को गिरफ्तार किया है.

Read Time: 3 min
CHO Paper Leak Case: 2020 में 5 लाख में पेपर खरीदकर पाई थी CHO की नौकरी, SOG ने अब किया गिरफ्तार, कई और रडार पर
5 लाख रुपए में पेपर खरीद कर नौकरी पाने वाला सीएचओ गिरफ्तार.

CHO Paper Leak Case: राजस्थान में पेपर लीक के मामले में एसओजी लगातार कार्रवाई कर रही है. जूनियर इंजीनियर और एसआई भर्ती परीक्षा में कई शातिरों को गिरफ्तार करने के बाद अब एसओजी की टीम 2020 में हुए सामुदायिक स्वास्थ्य अधिकारी (CHO) की परीक्षा से पेपर लीक मामले की छानबीन में जुट गई है. इस कड़ी में शुक्रवार को एसओजी को एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी. एसओजी ने 2020 में पांच लाख रुपए में पेपर खरीद कर सामुदायिक स्वास्थ्य अधिकारी की परीक्षा पास करने वाले एक आरोपी को गिरफ्तार किया है. आरोपी इस समय चूरू के मेघनगर उप स्वास्थ्य केंद्र में नौकरी कर रहा था. 

दरअसल पेपर लीक मामले में एसओजी की टीम ने एक और आरोपी को गिरफ्तार किया है. CHO भर्ती परीक्षा 2020 के पेपर लीक मामले में एसओजी ने आज सामुदायिक स्वास्थ्य अधिकारी को गिरफ्तार किया है. नरेश नामक सामुदायिक स्वास्थ्य अधिकारी पर आरोप है कि उसने यूनिक भांबू से 5 लाख रुपए में पेपर खरीदा था. आरोपी नरेश फिलहाल मेघनगर उप स्वास्थ्य केंद्र में कार्यरत था.

पहले से गिरफ्तार व्यक्ति की निशानदेही पर गिरफ्तार हुआ नरेश

सामुदायिक स्वास्थ्य अधिकारी 2020 परीक्षा पेपर लीक मामले में पहले से गिरफ्तार आरोपी रमेश कुमार कालेर से पूछताछ में एसओजी की टीम को नरेश के बारे में जानकारी मिली. एसओजी को पता चला कि नरेश ने रमेश को 5 लाख रुपए दिए थे और रमेश के माध्यम से यूनिक भांबू से पेपर खरीदा था. इसी इनपुट के आधार पर एसओजी ने चुरू जिले के मेघनगर में कार्यरत नरेश कुमार को गिरफ्तार किया. 

कई और सरकारी कर्मचारी एसओजी की रडार पर

एसओजी की टीम पेपर लीक के कई मामलों की जांच कर रही है. अलग - अलग मामलों में बड़ी संख्या में सरकारी कर्मचारी एसओजी की रडार पर हैं. आने वाले दिनों में कुछ और गिरफ्तारियां हो सकती हैं. एसओजी की टीम में आरोपी सरकारी कर्मियों को ट्रैक करने और उन पर कार्रवाई के लिए एक अलग सेल बना रखा है. सेल लगातार ऐसे मामलों की मॉनिटरिंग कर रही है. 

कई गिरफ्तार, यूनिक भांबू अब भी फरार

पेपर लीक के अलग - अलग मामलों में एसओजी ने कई गिरफ्तारियां की है. 14 ट्रेनी एसआई की गिरफ्तारी के बाद भी 1 ट्रेनी एसआई और पूर्व से कार्यरत एसआई को गिरफ्तार किया. लेकिन अभी भी कुछ माफिया एसओजी की पहुंच से बाहर हैं. यूनिक भांबू उन्हीं में से एक है. उसी ने आज गिरफ्तार हुए नरेश को 5 लाख रुपए में पेपर बेचा था. एसओजी की सक्रियता देख कर आरोपी यूनिक भांबू दुबई भाग गया है.

यह भी पढ़ें - RPSC ने ADG SOG सहित सभी DM, SP को भेजी 557 संदिग्ध अभ्यर्थियों की सूची, रखी जाएगी नजर

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close