विज्ञापन
Story ProgressBack

बेटे वैभव गहलोत के लिए हनुमान बने पिता अशोक गहलोत, जीत सुनिश्चित करने के लिए जालोर में दौर पर पूर्व सीएम

पूर्व सीएम अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत पिछले लोकसभा चुनाव में जोधपुर लोकसभा सीट से चुनाव में उतरे थे, लेकिन हार का सामना करना पड़ा था. उन्हें भाजपा प्रत्याशी और केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने हराया था.

बेटे वैभव गहलोत के लिए हनुमान बने पिता अशोक गहलोत, जीत सुनिश्चित करने के लिए जालोर में दौर पर पूर्व सीएम
पूर्व सीएम अशोक गहलोत (फाइल फोटो)

Vaibhav Gehlot: जालोर-सिरोही संसदीय सीट पर इस बार पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत मैदान में है. वैभव गहलोत की सुनिश्चित करने के लिए पूर्व सीएम अशोक गहलोत खुद मैदान में उतर गए हैं जालोर दौरे पर पहुंचे पूर्व सीएम ने  सांचौर ज़िले के कार्यकर्ताओं से फीडबैक ले रहे हैं.

पूर्व सीएम अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत पिछले लोकसभा चुनाव में जोधपुर लोकसभा सीट से चुनाव में उतरे थे, लेकिन हार का सामना करना पड़ा था. उन्हें भाजपा प्रत्याशी और केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने हराया था.

 रिपोर्ट के मुताबिक पिछले 2 दिन अशोक गहलोत जालोर सिरोही में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं से संवाद किया और गांव के बूथ लेवल पर कांग्रेस कैसे मज़बूत हो इन तमाम चीज़ों पर रणनीति बनाई.  इतना ही नहीं, पूर्व मुख्यमंत्री जालोर में ही रुके और देर रात तक अलग अलग समाज के लोगों से मुलाक़ात की ताकि बेटे वैभव गहलोत की जीत पक्की हो सके.

जालोर-सिरोही लोकसभा सीट से वैभव गहलोत को टिकट मिलने के बाद शनिवार की शाम पूर्व सीएम गहलोत पहली बार जालोर पहुंचे. कांग्रेस के अग्रिम पंक्ति के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं की बैठक में उन्होंने कहा कि वैभव को इस बार जालोर-सिरोही को सौंप रहा हूं. इस दौरान उनके बेटे वैभव भी साथ थे.

सामतीपुरा रोड़ पर स्थित चामुंडा गार्डन में कांग्रेस पार्टी के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं की बैठक के दौरान गहलोत ने जालोर में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा,  देश के दो मुख्यमंत्री जेल में बैठे हैं, बहुत विकट परिस्थितियों में चुनाव हो रहे हैं. उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी के 12 नेताओं के अकाउंट फ्रिज किए गए, जो गलत है.

चार अप्रैल को निकला है वैभव गहलोत का नामांकन मुहूर्त

पूर्व सीएम गहलोत ने बताया की वैभव के नामाकंन का 4 अप्रैल को मुहूर्त निकला हैं. उस मुहूर्त में वैभव अपना नामांकन भरेंगे. इस दौरान होने वाली रैली के लिए उन्होंने हर गांव, हर घर से मतदाता को लाने की अपील की. साथ ही कहा कि जालोर में समस्याएं बहुत ज्यादा हैं. जिला मुख्यालय का स्वरूप निखरना चाहिए. मेडिकल कॉलेज के साथ 500 बेड का हॉस्पिटल बनेगा, तब पता चलेगा कि यह जिला मुख्यालय हैं.

इस दौरान पूर्व सीेएम ने जालोर-सिरोही में विकास को लेकर पदाधिकारियों से सुझाव मांगे. उन्होंने कहा कि आज सिर्फ घर-घर के लोगों को समझाने के लिए मीटिंग रखी हैं और आज वो वैभव गहलोत को जालोर-सिरोही की जनता को सौप रहा हूं. आप सबको वैभव गहलोत बनकर चुनाव लड़ना हैं. पूर्व सीएम ने कहा, जालोर-सिरोही के विकास के मुद्दों पर लड़ना हैं कि यहां विकास कैसे हो?

ये भी पढ़ें-भाजपा के गले की फांस बन गए रवींद्र भाटी, जल्द करेंगे लोकसभा चुनाव लड़ने का औपचारिक ऐलान?

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Rajasthan Politics: विधायक हरीश चौधरी ने अपने खून से सीएम को लिखी चिट्ठी, सरकार से की बड़ी मांग
बेटे वैभव गहलोत के लिए हनुमान बने पिता अशोक गहलोत, जीत सुनिश्चित करने के लिए जालोर में दौर पर पूर्व सीएम
6 killed and 10 injured in a horrific accident on Ahmedabad-Vadodara highway, mostly passengers from Rajasthan involved.
Next Article
अहमदाबाद-वडोदरा हाईवे पर भीषण हादसे में 6 की मौत और 10 घायल, ज्यादातर राजस्थान के यात्री हैं शामिल
Close
;