विज्ञापन
Story ProgressBack

कोटा में NEET की तैयारी कर रही छात्रा ने की सुसाइड की कोशिश, एंटी हैंगिंग डिवाइस से बची जान

Kota Suicide Case: शुक्रवार को कोटा में NEET की तैयारी कर रही यूपी की एक छात्रा ने की सुसाइड की कोशिश की. लेकिन गनीमत है कि एंटी हैंगिंग डिवाइस से उस छात्रा की जान बच गई.

Read Time: 3 min
कोटा में NEET की तैयारी कर रही छात्रा ने की सुसाइड की कोशिश, एंटी हैंगिंग डिवाइस से बची जान
Kota Suicide: एंटी हैंगिंग डिवाइस ने बचाई छात्रा की जान.

Kota Suicide Case: कोचिंग सिटी कोटा से शुक्रवार को भी एक बुरी खबर आने वाली थी. लेकिन शुक्र है एंटी हैंगिंग डिवाइस (Anti Hanging Device) की, जिसने एक छात्रा की जान बचा ली. दरअसल कोटा (Kota) में शुक्रवार को NEET की तैयारी कर रही एक छात्रा ने पंखे से लटकर सुसाइड की कोशिश की. लेकिन पंखे में लगे एंटी हैंगिंग डिवाइस से छात्रा की जान बच गई. अब पुलिस छात्रा की काउंसिलिंग कर रही है.

दरअसल कोटा में कोचिंग स्टूडेंटस का प्रतियोगी परीक्षा का स्ट्रेस कम होने का नाम नहीं ले रहा है. कई बार इसी तनाव के चलते स्टूडेंटस आत्मघाती कदम उठा रहे हैं. एक बार फिर एक कोचिंग छात्रा ने हॉस्टल के कमरे में पंखे पर फंदा लगाकर आत्महत्या करने की कोशिश की. लेकिन गनीमत यह रही की हॉस्टल के कमरे में लगा एंटी हैंगिंग डिवाइस संजीवनी बन गया और छात्रा की जान बच गई.

फिलहाल छात्र की काउंसलिंग कर ली गई है. उसके परिजनों को भी जवाहर नगर थाना पुलिस ने सूचना दे दी है.

यूपी की छात्रा 9 महीने से कोटा में कर रही थी नीट की तैयारी


मामला कोटा के जवाहर नगर थाना इलाके की है. जहां पिछले 9 महीने से एक हॉस्टल में रहकर उत्तर प्रदेश की एक छात्रा नीट की तैयारी कर रही हैं. घटनाक्रम की जानकारी हॉस्टल संचालक को तब लगी जब छात्र ने खुद ही हॉस्टल वार्डन को आकर कहा कि उसके कमरे का पंखा नीचे लटक गया है.

काउंसलिंग में छात्रा ने बताया- खुदकुशी का प्लान

हॉस्टल वार्डन ने इसकी सूचना तुरंत हॉस्टल संचालक को दी और पूरा माजरा समझ में आ गया ऐसे में स्टूडेंट वेलफेयर सोसाइटी की टीम भी मौके पर पहुंच गई और उन्होंने जब छात्र की काउंसलिंग की तो पता चला कि छात्रा डिप्रेशन का शिकार थी और उसने इसीलिए आत्मघाती कदम उठाया था. लेकिन गनीमत यह रही की हॉस्टल के कमरे में एंटी हैंगिंग डिवाइस लगा हुआ था जिससे उसकी जान बच गई.

कोटा में पिछले साल कोचिंग स्टूडेंट्स के सुसाइड के 26 मामले सामने आए थे. इस साल अभी तक जिले से पांच सुसाइड केस सामने आ चुके हैं.

जानिए कैसे काम करता है एंटी हैंगिंग डिवाइस

एंटी हैंगिंग डिवाइस पंखे के नीचे स्प्रिंग नुमा एक डिवाइस होता है. जैसे ही उस पर वजन पड़ता है तो स्प्रिंग नीचे आ जाता है और पंखे का लोड स्प्रिंग पर आ जाता है. कोटा में सभी हॉस्टल्स और पीजी संचालकों को कमरों में एंटी हैंगिंग डिवाइस लगाने की अनिवार्यता के आदेश पिछले दिनों जारी किए गए थे. इसके बाद लगातार जिला प्रशासन की टीम में स्टूडेंट सुरक्षा को लेकर लगातार मॉनीटरिंग भी कर रही है. आज इस मशीन की उपयोगिता फिर से लोगों को समझ आई. 

यह भी पढ़ें - कोटा में JEE की तैयारी कर रहे छात्र की खुदकुशी मामले में पिता ने जताया गड़बड़ी का संदेह, निष्पक्ष जांच की मांग

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close