विज्ञापन
Story ProgressBack

लोकसभा चुनावः गहलोत, पायलट को हारने का डर, इसलिए मैदान में नहीं उतर रहे... कांग्रेस नेताओं पर भाजपा का तीखा हमला

Lok Sabha Elections 2024: लोकसभा चुनाव की घोषणा के साथ-साथ प्रचार अभियान और विपक्षी नेताओं पर जुबानी हमले शुरू हो गए हैं. इसी कड़ी में शनिवार को भाजपा के वरिष्ठ नेता ने राजस्थान कांग्रेस के दिग्गज नेताओं पर तीखा हमला बोला है.

Read Time: 4 mins
लोकसभा चुनावः गहलोत, पायलट को हारने का डर, इसलिए मैदान में नहीं उतर रहे... कांग्रेस नेताओं पर भाजपा का तीखा हमला
राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट.

Lok Sabha Elections 2024: लोकसभा चुनाव 2024 की रणभेरी बज चुकी है. 19 अप्रैल से 7 चरणों में पूरे देश में वोटिंग होगी. शनिवार को निर्वाचन आयोग द्वारा चुनाव की घोषणा के साथ ही पूरे देश में आदर्श आचार संहिता लागू हो गई है. वहीं दूसरी ओर भाजपा, कांग्रेस ने जिन-जिन सीटों पर अपने प्रत्याशियों की घोषणा कर दी हैं, वहां प्रचार अभियान जोर पकड़ने लगा है. बात राजस्थान की करें तो प्रदेश की 15 सीटों पर भाजपा ने जबकि 10 सीटों पर कांग्रेस ने अपने उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है. ये सभी प्रत्याशी अपने-अपने क्षेत्र में चुनाव प्रचार अभियान में जुट गए हैं. इस प्रचार अभियान के दौरान विरोधी खेमें पर जमकर जुबानी हमले भी किए जा रहे हैं. इसी कड़ी में शनिवार को भाजपा कद्दावर नेता ने पूर्व सीएम अशोक गहलोत और सचिन पायलट पर तीखा हमला बोला है. उन्होंने कहा कि गहलोत, पाटलट को चुनाव हारने का डर हैं, इसलिए वो मैदान में नहीं उतर रहे हैं. 

अलवर के भाजपा प्रत्याशी भूपेंद्र यादव ने बोला हमला
  
कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं पर तीखा हमला अलवर लोकसभा सीट के भाजपा प्रत्याशी भूपेंद्र यादव ने बोला. भूपेंद्र यादव ने शनिवार को अलवर स्थित पार्टी कार्यालय में पूर्व सीएम अशोक गहलोत, सचिन पायलट और भंवर जितेंद्र सिंह सहित कांग्रेस के बड़े नेताओं के चुनाव नहीं लड़ने पर कहा कि इनको हार का डर है. ये सब सदमे में हैं. कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष खरगे की नहीं सुनी जा रही है. जो कह रहे हैं कि पार्टी के बड़े नेताओं को लोकसभा का चुनाव लड़ना चाहिए. अलवर में मेरे सामने भंवर जितेंद्र को नहीं उतारने का जवाब भी खरगे ही दे सकते हैं. 

कांग्रेस के बड़े नेता चुनाव लड़ने से डर रहेः भूपेंद्र

भूपेंद्र यादव ने मीडिया से बातचीत में यह भी कहा कि पांच साल तक कांग्रेस ने रूमाल-झपट्टा वाली सरकार चलाई है. भूपेंद्र ने खुद को बाहरी नहीं यहीं का बताया. मीडिया के बहुत से सवालों को खुलकर जवाब दिया कांग्रेस के बड़े नेता चुनाव लड़ने से डर रहे हैं. अब बड़े नेताओं की लिस्ट देख लो कौन हैं. पार्टी अपने राष्ट्रीय अध्यक्ष के दर्द को नहीं समझ रही देश की जनता के दर्द के क्या समझेंगे. इसलिए खरगे का बयान दर्शाता है कि कांग्रेस हताश व निराश है. कांग्रेस के नेताओं को लगता है कि अब यह पार्टी चौखट पर जाकर सिमट ना जाए. इसलिए स्वाभिमान के साथ कांग्रेस को छोड़ रहे हैं. 

कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुए नेताओं का किया स्वागत

कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल होने वाले लोगों पर भूपेंद्र यादव ने आगे कहा कि हम उनका सम्मान कर रहे हैं. हम सबका विकास सबका साथ लेकर चलते हैं. मैंने पैतृक गांव में भी पुस्तकालय खोला है. इसके अलावा अलवर जिले में स्वामी विवेकानंदजी के चरण पड़े हैं. उस जगह भी लाइब्रेरी बना दी है. अच्छी लाइब्रेरी मिलेगी. उसके बाद मैंने 57 गांवों में भी ई-लाइब्रेरी खोली हैं. जिसका बजट दिया है. 20 स्कूलों के कक्ष निर्माण का पैसा दिया अब सौभाग्य से मुझे अलवर से चुनाव लड़ा दिया. अब पांच साल का मौका मिलेगा तो दूसरे प्रोजेक्ट पर पूरा काम किया जाएगा.

कांग्रेस ने ललित को दिया टिकट, कई नेताओं ने दिया इस्तीफा

मालूम हो कि कांग्रेस ने अलवर से युवा चेहरे के रूप में ललित यादव को टिकट दिया है. इससे नाराज होकर कांग्रेस के कई नेताओं ने पार्टी छोड़ दी है. शनिवार को ही अलवर से कांग्रेस (Congress) के पूर्व सांसद डॉ. करण सिंह यादव (Karan Singh Yadav) भारतीय जनता पार्टी (BJP) में शामिल हो गए. जयपुर स्थित भाजपा कार्यालय में उन्होंने प्रदेशाध्यक्ष सीपी जोशी (CP Joshi) की मौजूदगी में पार्टी की सदस्यता ग्रहण की. लोकसभा चुनाव के ऐलान से ठीक पहले पूर्व सांसद का ये कदम कांग्रेस के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है. क्योंकि यादव के साथ 18 कांग्रेसी नेताओं समेत कुल 35 लोगों ने भाजपा ज्वाइन की है.


यह भी पढ़ें -  लोकसभा चुनाव: क्या पिछला प्रदर्शन दोहरा पाएगी भाजपा? राजस्थान में 'डबल इंजन' की सरकार के सामने ये हैं चुनौतियां

 

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
India Post Bharti 2024: डाक विभाग में 10वीं पास के लिए बंपर भर्ती, 44 हजार पदों के लिए आवेदन शुरू
लोकसभा चुनावः गहलोत, पायलट को हारने का डर, इसलिए मैदान में नहीं उतर रहे... कांग्रेस नेताओं पर भाजपा का तीखा हमला
Father's death shown in an accident for Rs 50 lakh, compassionate appointment taken in Banswara
Next Article
बांसवाड़ा: 50 लाख रुपये के लिए पिता की एक्सीडेंट में दिखा दी मौत, ले ली अनुकंपा नियुक्ति; पुत्र समेत 3 गिरफ्तार
Close
;