विज्ञापन
Story ProgressBack

Rajasthan Election 2023: 'मेरी चिंता करने की किसी को जरूरत नहीं', सचिन पायलट ने PM मोदी को दिया जवाब

Rajasthan Chunav: राजस्थान की 199 विधानसभा सीटों पर वोटिंग से 24 घंटे पहले कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जवाब दिया है. उन्होंने कहा, 'किसी को मेरी चिंता करने की जरूरत नहीं है.'

Read Time: 5 min
Rajasthan Election 2023: 'मेरी चिंता करने की किसी को जरूरत नहीं', सचिन पायलट ने PM मोदी को दिया जवाब
टोंक विधायक सचिन पायलट (फाइल फोटो)

Rajasthan Elections: राजस्थान के पूर्व डिप्टी सीएम और वर्तमान में टोंक विधायक सचिन पायलट (Sachin Pilot) ने मतदान से एक दिन पहले जनता के बीच पहुंचकर वोट के लिए अपील की. इस दौरान उन्होंने मीडिया से बातचीत करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के बयान पर पलटवार किया और कहा कि किसी भी नेता को उनकी चिंता करने की जरूरत नहीं है. 

सवाल-1: लोकतंत्र के महापर्व पर किस तरह से आप मतदान की अपील कर रहे हैं?

जवाब: देश में लोकतंत्र बहुत मैच्योर हो गया है और मतदाता बहुत जागरूक हो गए हैं. ये बहुत खुशी की बात है कि भारत में जब लोकतंत्र स्थापित हुआ था 70 साल पहले, तब से अब तक का जो सफर रहा, इसमें बहुत कुछ देखा-सीखा, लेकिन हमारी जनता इतनी समझदार हो गई है कि सबका भरोसा उनके विवेक के ऊपर है. कल राजस्थान में वोट पड़ेगा. ये चुनाव बहुत महत्वपूर्ण है, और बहुत इंटरेस्टिंग है. क्योंकि यहां पर तमाम तरह के मुद्दों को उठाने की कोशिश की गई, लेकिन कांग्रेस के काम करने के तरीकों को लोग पसंद कर रहे हैं. तमाम कोशिशों के बावजूद भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का जो चुनाव प्रचार था वो उठ नहीं पाया. उनका मामला जमा नहीं. उनकी विश्वसनीयता जो नेताओं के प्रति है, वो कायम नहीं रख पाए हैं. इसीलिए फायदा हमें मिलेगा. मैं अपील करता हूं सभी से कि अपने मत का प्रयोग करें और बटन दबाकर लोकतंत्र को और मजबूत करना चाहिए.

सवाल-2: राजस्थान में कांग्रेस सरकार के रिपीट होने का कितनी मजबूती से दावा करते हैं?

जवाब: गन्ने को हाथ में लेकर किसानों को मजबूत करने की बात बोलते हुए सचिन पायलट ने आगे कहा, 'सभी चुनाव लड़ते हैं जीतने के लिए, लेकिन हम इसीलिए चुनाव लड़ रहे हैं ताकि पिछले 25-30 सालों में नहीं हुआ, वो काम किया जा सके. आपको याद होगा हम सरकार बनाते हैं फिर 50 पर सिमट जाते हैं. फिर बनाते हैं, 21 पर सिमट जाते हैं. ये पार्टी के लिए भी अच्छा नहीं है. न ही प्रदेश के लिए अच्छा है. इसीलिए हमनें इस बार कुछ अहम बदलाव किए. सालभर पहले हमनें बातों को रखा. पार्टी ने संज्ञान लेकर उसको दुरुस्त करने का भी काम किया. आज हम इस मुकाम पर खड़े हैं कि हम बोल सकते हैं कि हम चुनाव जीतेंगे. ये माहौल जो बना है ये सब लोगों के प्रयास से बना है. मैं ऐसा महसूस करता हूं कि पब्लिक का जो रिस्पोंस है उसका अच्छा इंपेक्ट पड़ेगा और इस बार कांग्रेस पार्टी की सरकार जैसे बन रही मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में, राजस्थान में भी इस बार कांग्रेस को यहां बहुमत मिलेगा.'

सवाल-3: जनता के लाडले सचिन पायलट मतदान की तारीख आते-आते प्रधानमंत्री और अशोक गहलोत के लाडले बन गए हैं? 

जवाब: लाडला अगर किसी को बनना है तो पब्लिक का बनना चाहिए. लाडला बनने के लिए मुझे नहीं लगता किसी नेता की जरूरत है. ये अपना प्यार, तपस्या, समर्पण, सेवा और लगातार जनता के बीच रहकर जो रिश्ता कायम होता है, वही नेता की सबसे बड़ी पूंजी होती है, और मैं उसी दिशा में काम कर रहा हूं. बचपन से यही संस्कार मुझे मिले हैं. बहुत कुछ कहा गया, आरोप लगाए गए, लेकिन मैंने कोशिश की है किमैं अपना संयम न खोऊं, और पब्लिक के बीच एक मर्यादित भाषा का प्रयोग करूं. लोकतंत्र को मजबूत करने के लिए विरोधियों को भी आलोचना करनी है तो संयमित भाषा से करनी चाहिए.

सवाल-4: आप 'एसेट' है कांग्रेस के, राहुल गांधी ऐसा बोलते हैं, अब पीएम मोदी भी आपकी चिंता करने लगे हैं?

जवाब: किसी नेता को मेरी चिंता करने की जरूरत नहीं है. मेरी चिंता मेरी पार्टी, मेरी जनता करेगी. हम उसके प्रति समर्पित हैं, और विचारधारा को लेकर जो हमारा संघर्ष है उसमें हम जीतकर आएंगे, और देशभर में कांग्रेस पार्टी विजयी बनकर आएगी.

सवाल-5: पीएम को देखकर लगता था कि आपका नाम लिए बिना नींद भी नहीं आएगी, क्या अब वे नींद ले पाएंगे क्योंकि चुनाव प्रचार खत्म हो गया है?

जवाब: शनिवार को मतदान होगा, और जो भी परिणाम होगा वो किसी के कहने से आने वाला नहीं है. मतगणना तीन तारीख को होगी. तब पता पड़ेगा किसका भाषण सबसे प्रभावी था, कौन झूठ बोल रहा था, कौन सच बोल रहा था. पोलिंग के माध्यम से बहुतों की पोल खुलेगी. मैं सिर्फ इतना कहना चाहता हूं कि व्यक्तिगत बात करने के बजाय सैद्धांतिक बात करें, आरोप लगाने के बजाय अपने गिरेबान में झांक कर देखें, और दूसरों की कमियां निकालने की बजाय अपना रिपोर्ट कार्ड जनता के बीच लेकर जाएं, वो एक बेहतर तरह की राजनीति होती है. 

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close