विज्ञापन
Story ProgressBack

लखपति दीदी योजना लागू करने के लिए पूरी तरह तैयार है राजस्थान सरकार, जानिए इसके लाभ

राजस्थान में लखपति दीदी योजना की शुरूआत करने के लिए राजस्थान सरकार पूरी तरह से तैयार है, इस बार के बजट में इसे लागू करने की उम्मीद जताई जा रही है. इस योजना से जुड़ी सारी बातें जानिए.

Read Time: 4 min
लखपति दीदी योजना लागू करने के लिए पूरी तरह तैयार है राजस्थान सरकार, जानिए इसके लाभ
लखपति दीदी योजना का रजिस्ट्रेशन कराती महिलाएं

Rajasthan News: राज्य बजट में इस बार लखपति दीदी योजना का लाभ मिल प्रदेश की महिलाओं को मिल सकता है. बेणेश्वर धाम पर राष्ट्रपति के हाथों यह योजना शुरू हो सकती है. मध्यप्रदेश की सबसे प्रसिद्ध योजना लखपति दीदी योजना को अब पूरे देश में लागू किया गया है. राजस्थान में भी नई सरकार के बजट में लखपति दीदी योजना को लेकर लगभग सारी तैयारी पूरी हो चुकी है.

राजस्थान की वित्त मंत्री दीया कुमारी इस विधानसभा में लागू कर सकती है. योजना राजस्थान में सबसे पहले बेणेश्वर धाम पर राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू के हाथों शुभारंभ किया जा सकता है. राजस्थान में राजीविका के माध्यम से कई महिला स्वयं सहायता समूह संचालित हो रहे है. 

बिजनेस प्लान तैयार करेंगी महिलाएं

जिले में झोथरी क्षेत्र में महिला स्वयं सहायता समूह सोलर लैम्प का उत्पादन कर पूरे देश में प्रसिद्धी प्राप्त कर चुकी है. इस योजना से आदिवासी क्षेत्र में महिलाओं को आत्मनिर्भर करने का प्रयास शुरू किया जा रहा है. इसके लिए बेणेश्वर धाम पर आने वाली महिला स्वयं सहायता समूह की 10 हजार सदस्यों को अब लखपति दीदी के माध्यम से लाभ दिया जाएगा. योजना में यहां की महिला स्वयं सहायता समूह बिजनेस प्लान तैयार करेंगी. इस बिजनेस प्लान को राजीविका के माध्यम से राज्य सरकार के पास भेजा जाएगा.

सरकार करेगी देगी अप्रुवल, बढ़ेगा बिजनेस

स्वयं सहायता समूह के बिजनेस प्लान को अप्रुवल मिलने के बाद सरकार की ओर से पात्र महिला स्वयं सहायता समूह को पहले कौशल विकास से ट्रेनिंग दी जाएगी. ट्रेनिंग के बाद राज्य सरकार की ओर से इंन्ट्रेस्ट फ्री लोन दिया जाएगा. अब इस लोन के राशि की सीमा राज्य के बजट में तय होगी. आदिवासी क्षेत्र में सबसे पहले इसकी शुरुआत होगी. डूंगरपुर जिले में ग्रामीण क्षेत्र की महिलाएं घरों में चूल्हा चौका संभालने तक ही सीमित रहती थी, इन दिनों जिले के ग्रामीण क्षेत्र की महिलाएं घर से बाहर निकलकर समाज के साथ कदम से कदम मिलाकर चल रही हैं.

91 हजार महिलाए बनी आर्थिक रूप से सक्षम

लखपति दीदी योजना के जरिये डूंगरपुर जिले की 91 हजार महिलाओं को अगले एक साल में आत्मनिर्भर बनाते हुए रोजगार के अवसर प्रदान कर आर्थिक रुप से समक्ष बनाया जाएगा. इसके लिए 912 कम्यूनिटी रिसोर्स पर्सन यानि सीआरपी की ट्रेनिंग अंतिम दौर पर चल रही है. इस प्रशिक्षण के बाद एक-एक कम्यूनिटी रिसोर्स पर्सन अपने अपने क्षेत्र की 90-100 महिलाओं को रोजगार से जोड़ने का काम करेंगी. इनके स्टार्टअप की नियमित एक साल तक मॉनिटरिंग होगी. स्वयं सहायता समूह के माध्यम से रोजगार शुरू करने वाली महिला को सर्वप्रथम आर्थिक सहयोग प्रदान किया जाएगा. आवश्यकता पड़ने पर बैंक से लोन की सुविधा भी उपलब्ध कराई जाएगी.

छोटे-छोटे लघु उद्योग शुरू कराए जाएंगे

डूंगरपुर जिले में 13 हजार 900 समूह में 1.81 लाख महिलाएं जुड़ी हुई है, इन्ही में से 91 हजार महिलाओं को चिन्हित किया जाएगा. योजना के तहत ग्रामीण महिलाओं को आर्थिक सहायता देना है. इसके जरिये रोजगार के लिए छोटे-छोटे लघु उद्योग शुरू कराए जाएंगे. जिले में 13 हजार 900 स्वयं सहायता समूह चल रहे हैं. इसमें 1.81 लाख महिलाएं जुड़ी हुई है. जिले में 79 हजार 400 परिवारों को अब तक आजीविका की विभिन्न गतिविधियों के तहत जोड़ा गया है. दिसंबर माह में रूरल मार्ट आउटलेट भी महिलाओं की तरफ से शुरू किया गया है.

ये भी पढ़ें- टोंक में हुई जांच तो खुला राज, एक साथ 326 सरकारी कर्मचारी और अधिकारी थे गायब

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close