विज्ञापन
Story ProgressBack

राजस्थान से पैसा कमाने गए थे रोमानिया, खाने-पीने के भी पड़े लाले, भारत सरकार से गुहार- हमें बचाइए

राजस्थान और कुछ अन्य प्रदेशों से कामगार एक कंस्ट्रक्शन कंपनी में काम करने यूरोप के रोमानिया देश गए थे. मगर कंपनी उन्हें वेतन ही नहीं दे रही है.

राजस्थान से पैसा कमाने गए थे रोमानिया, खाने-पीने के भी पड़े लाले, भारत सरकार से गुहार- हमें बचाइए
रोमानिया में फंसे राजस्थान समेत अन्य राज्यों के कामगार

बेरोजगारी की मार झेल रहे अच्छी नौकरी और अच्छे पैसे कमाने के उद्देश्य से विदेश जाते हैं. लेकिन कई बार वहां धोखाधड़ी का शिकार हो जाते हैं. ऐसा ही एक ताजा मामला सामने आया हैं, जॉब के लिए रोमानिया गए कामगार वहां फंस गए हैं. उन्हें पिछले लंबे समय से ना तो सैलेरी मिली है ना ही उनके दस्तावेज वापस दिए जा रहे हैं. ऐसे में अब उन्होंने भारत सरकार के विदेश मंत्रालय से मदद की गुहार लगाईं है. 

रोमानिया देश के टुल्सिया शहर में कार्यरत निर्माण कंपनी ओम्नी कंस्ट्रक्ट कॉन्स्पेक्ट एसआरएल में 40 से ज्यादा भारतीय कामगार लंबे समय से कार्यरत हैं लेकिन उनका आरोप है कि इस कंपनी ने उनको 45 दिन से ज्यादा समय से तनख्वाह नहीं दी है.

रोमानिया में फंसे भारतीय कामगारों ने बताया कि यहां कार्यरत कामगारों के पास अब खाने पीने के लिए भी पैसे नहीं बचे हैं क्योंकि जब तनख्वाह मिलती है तो कुछ पैसा वो अपने पास रखते हैं और बाकी घर परिवार के लिए भेज देते हैं.

विदेश मंत्रालय से की शिकायत 

कामगारों ने बताया की तनख्वाह नहीं मिलने की वजह से सभी कामगारों ने टुल्सिया शहर के प्रादेशिक श्रम निरीक्षणालय में शिकायत दर्ज करवाई थी लेकिन उनकी शिकायत पर अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है. अब कामगारों ने अपनी शिकायत टुल्सिया शहर के जनरल इंस्पेक्टरेट फॉर इमिग्रेशन और आईपीजे टुल्सिया को भेजी है लेकिन कामगारों द्वारा की गई शिकायत पर अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई. ऐसे में परेशान कामगार ऑफिस दर ऑफिस चक्कर लगा रहे है.

रोमानिया के टुल्सिया शहर में फंसे कामगार पंजाब, हरियाणा और अन्य प्रदेशों के हैं लेकिन ज्यादातर राजस्थान के निवासी बताए जा रहे हैं. अब कामगारों ने अपनी शिकायत भारतीय एंबेसी के साथ-साथ विदेश मंत्रालय को भेजकर समस्या का समाधान करवाने की गुहार लगाई है.

डीडवाना के यह लोग फंसे

रोमानिया में फंसे हुए लोगों में कई डीडवाना जिले के हैं जिनमें डीडवाना जिले के घाटवा कस्बे  का रहने वाला गयारसी लाल, कुचामन का रहने वाला महबूब खान, मौलासर के रियाज और आजवा गांव के अनिल बेड़ा का नाम शामिल है.

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
किरोड़ी लाल मीणा के लिए सीएम भजनलाल को लिखा खून से पत्र, कहा- 'राजस्थान को उनकी जरूरत है'
राजस्थान से पैसा कमाने गए थे रोमानिया, खाने-पीने के भी पड़े लाले, भारत सरकार से गुहार- हमें बचाइए
Sawai Madhopur Mother hanged her 6 year old son then she hanged herself
Next Article
Rajasthan: पहले 6 साल के बेटे को फांसी पर लटकाया, फिर खुद भी फंदे पर झूलकर तड़प-तड़प कर दे दी जान
Close
;