विज्ञापन
Story ProgressBack

Rajasthan Politics: बालोतरा में SP ऑफिस के बाहर धरने पर बैठे रविंद्र सिंह भाटी, बड़ी संख्या में समर्थक मौजूद, पुलिस बल की तैनाती

Ravindra Singh Bhati Balotra Visit: बालोतरा एसपी कार्यलय के सामने रविंद्र सिंह भाटी के समर्थकों का बड़ा जमावड़ा है. इसी के चलते एसपी कार्यलय के बहार सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए हैं. भारी संख्या में यहां पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है.

Read Time: 3 mins
Rajasthan Politics: बालोतरा में SP ऑफिस के बाहर धरने पर बैठे रविंद्र सिंह भाटी, बड़ी संख्या में समर्थक मौजूद, पुलिस बल की तैनाती
बालोतरा में धरने पर बैठे रविंद्र सिंह भाटी.

Rajasthan News: राजस्थान में लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण की वोटिंग के दौरान रविंद्र सिंह भाटी (Ravindra Singh Bhati) के समर्थकों के साथ बायतु में मारपीट करने का मामला सामने आया था, जिसके बाद भाटी ने बालोतरा पुलिस (Balotra Police) पर गंभीर आरोप लगाए थे. इसी मारपीट के कुछ वीडियो भी वायरल हुए थे, जिस कारण सोशल मीडिया प्लेटफार्म एक्स पर राजस्थान पिछले 24 घंटे से ट्रेंड कर रहा है. ऐसे में अब शनिवार को विरोध जताने के लिए भाटी अपने समर्थकों संग बालोतरा पहुंच गए हैं और एसपी ऑफिस के बाहर धरने (Dharna Outside SP Office) पर बैठ गए हैं.

समर्थकों की भीड़ से जाम हुई सड़कें 

हर बार की तरह आज भी बाड़मेर लोकसभा सीट से निर्दलीय प्रत्याशी रविंद्र सिंह भाटी के समर्थकों की संख्या इतनी है कि पूरा रोड जाम हो गया है. सुरक्षा के मद्देनजर एसपी ऑफिस के बाहर बड़ी संख्या में पुलिस बलों की तैनाती की गई है. इस दौरान की कुछ तस्वीरें भी सामने आई हैं, जिसमें महिला और पुरुष पुलिसकर्मी हाथों में लाठी लिए खड़े नजर आ रहे हैं. भीड़ के भड़कने पर उन्हें कंट्रोल करने के लिए यहां पुलिस ने पूरी तैयारी की है. करीब 11 बजे सोशल मीडियो पर भाटी के मैसेज के बाद से ही यहां अलर्ट है. उसके बाद से ही यहां समर्थक जुटने शुरू हो गए थे.

बूथ एजेंट को धक्के माकर निकाला

भाटी ने शुक्रवार को प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा था कि बायतु विधानसभा में उनके पोलिंग एजेंट को बूथ से बाहर निकाल दिया गया. ईवीएम पर मेरे नाम के आगे एक लेबल लगा दिया गया ताकि मुझे वोट न मिले. मेरे लिए वोट करने आए प्रवासियों की गाड़ियों को रोक दिया गया. मुझे हराने के लिए चाहे कितने भी हथकंडे अपनाए जाएं, मैंने अपने मतदाताओं के दिलों में जगह बना ली है. तुम मुझे उन दिलों से कैसे निकालोगे?' अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा, 'बायतु विधानसभा के अंदर मेरे एजेंटों को बूथ से बाहर निकाला जा रहा है और वोटिंग मशीन पर मेरे नाम के आगे लेबल लगा दिया गया है. ये कैसा लोकतंत्र है? आखिर प्रशासन किसके दबाव में काम कर रहा है.'

भाटी के भाई को किया पाबंद

हालांकि, राजस्थान पुलिस ने उनके आरोपों से इनकार किया और कहा कि उन्हें ऐसी कोई शिकायत नहीं मिली है. भाटी ने प्रशासन, चुनाव आयोग और पुलिस की चुप्पी पर सवाल उठाते हुए कहा, 'सरकार मतदान कम करने की पूरी कोशिश कर रही है. कई गाड़ियों को रोका जा रहा है. कई लोगों को रोका जा रहा है. हम जो भी कर सकते हैं, कर रहे हैं.' मैं उनसे कहना चाहता हूं कि बाड़मेर, जैसलमेर और बालोतरा की जनता मजबूत है. इस तरह रुककर आप कुछ नहीं कर सकते.' इस बीच, जैसलमेर पुलिस ने भाटी के भाई को जैसलमेर निर्वाचन क्षेत्र में घूमने पर प्रतिबंध लगा दिया. पुलिस ने एक पोस्ट में लिखा कि ''निर्दलीय प्रत्याशी रविंद्र सिंह भाटी का भाई, जो जैसलमेर का मतदाता नहीं है, जैसलमेर जिले में घूम-घूम कर मतदाताओं को प्रभावित कर रहा है. जैसलमेर जिला पुलिस निर्दलीय प्रत्याशी के भाई से अपील करती है कि वह तुरंत वहां से चले जाएं.'

ये भी पढ़ें:- Explainer: राजस्थान की बाड़मेर लोकसभा सीट पर 'जातिवाद' में बदला 'वर्चस्व की लड़ाई' का संघर्ष!

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Watch: घर की दीवार की लड़ाई, बुजुर्ग दंपति से बदसलूकी का वीडियो हुआ वायरल
Rajasthan Politics: बालोतरा में SP ऑफिस के बाहर धरने पर बैठे रविंद्र सिंह भाटी, बड़ी संख्या में समर्थक मौजूद, पुलिस बल की तैनाती
Dausa Road Accident: 20 injured after bus carrying pilgrims overturns in Rajasthan
Next Article
Dausa Bus Accident: चार धाम यात्रा से लौट रहे तीर्थयात्रियों की बस हादसे का शिकार, नींद की झपकी के बाद मची चीख-पुकार
Close
;