विज्ञापन
Story ProgressBack

धौलपुर में अशोक गहलोत की चुनावी सभा के क्या है सियासी मायने, आखिर क्यों चर्चा में बनीं करौली-धौलपुर सीट?

शोभारानी कुशवाहा ने भाजपा ज्वाइन नहीं की है. लेकिन जिले की सियासत में ऐसी गुफ्तगू देखी जा रही है कि शोभारानी कुशवाह लोकसभा चुनाव में खामोश रहेंगी और उनके परिजन खुलकर भाजपा के साथ काम करेंगे. 

Read Time: 3 mins
धौलपुर में अशोक गहलोत की चुनावी सभा के क्या है सियासी मायने, आखिर क्यों चर्चा में बनीं करौली-धौलपुर सीट?
फाइल फोटो

Ashok Gehlot Dholpur public meeting: धौलपुर में पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की चुनावी सभा का आयोजन शनिवार को करौली धौलपुर संसदीय क्षेत्र के बसई विभाग कस्बे किया जाएगा. चुनावी सभा की तैयारियों के साथ सभा में अधिक से अधिक भीड़ जुटाने के लिए कार्यकर्ता इलाके में लगातार जनसंपर्क कर रहे हैं. शनिवार को बसई नवाब कस्बे में होने वाली पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की चुनावी सभा बहुत कुछ सियासत के मायने स्पष्ट कर देगी. अगर शोभारानी कुशवाह मुख्यमंत्री की सभा में शामिल नहीं हुई तो निश्चित तौर पर करौली-धौलपुर संसदीय सीट पर कांग्रेस को नुकसान उठाना पड़ सकता है.

तैयारियों में जुटे कांग्रेसी कार्यकर्ता

राजाखेड़ा क्षेत्र के कांग्रेसी विधायक रोहित बोहरा ने बताया करौली धौलपुर संसदीय क्षेत्र के बसई नवाब कस्बे में शनिवार को पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत विशाल चुनावी सभा को संबोधित करेंगे. चुनावी सभा की तैयारी का जायजा लेकर कार्यकर्ताओं को उचित दिशा निर्देश दिए हैं. उन्होंने बताया धौलपुर जिला समेत करौली से भारी तादाद में कांग्रेस पार्टी के नेता, कार्यकर्ता, संगठन पदाधिकारी सभा में शामिल होंगे. पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा कांग्रेस प्रत्याशी भजनलाल जाटव के समर्थन में इस सभा का आयोजन किया गया है. 

अशोक गहलोत के संबोधन को सुनने के लिए जिले से भारी तादाद में लोग पहुंचेंगे. कांग्रेस पार्टी के नेता एवं कार्यकर्ताओं द्वारा गांव-गांव जाकर जनसंपर्क किया जा रहा है. विधायक रोहित ने बताया अशोक गहलोत की चुनावी सभा के लिए विशाल टेंट लगाया जा रहा है. शुक्रवार को सभा स्थल का जायजा लेकर कार्यकर्ताओं को बेहतर व्यवस्था उपलब्ध कराने के लिए निर्देश दिए गए हैं. गर्मी का सीजन शुरू होने की वजह से कार्यकर्ताओं के लिए पेयजल की व्यवस्था की जाएगी. पूर्व मुख्यमंत्री की सभा में बसेड़ी विधायक संजय जाटव भी मौजूद रहेंगे.

कांग्रेसी विधायक शोभारानी कुशवाह पर रहेगी नजर

लोकसभा चुनाव में देश भर में नेताओं की दल बदलने का दौर लगातार चल रहा है. जिसका असर धौलपुर की सियासत में भी देखा गया है. धौलपुर से कांग्रेसी विधायक शोभारानी कुशवाहा के विधायक प्रतिनिधि और देवर उपेंद्र कुशवाहा के साथ चाचा ससुर कन्हैया लाल कुशवाहा ने हाल ही में भाजपा का दामन थामा है. हालांकि शोभारानी कुशवाहा ने भाजपा ज्वाइन नहीं की है. लेकिन जिले की सियासत में ऐसी गुफ्तगू देखी जा रही है कि शोभारानी कुशवाह लोकसभा चुनाव में खामोश रहेंगी और उनके परिजन खुलकर भाजपा के साथ काम करेंगे.

ये भी पढ़ें- नागौर में कांग्रेस को लगा बड़ा झटका, 1300 कार्यकर्ताओं ने छोड़ी पार्टी, हनुमान बेनीवाल की बढ़ेगी मुश्किलें

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
दो दिवसीय दौरे पर जैसलमेर पहुंचे उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़, तनोट मंदिर में पूजा के बाद करेंगे भारत-पाक सीमा का निरीक्षण
धौलपुर में अशोक गहलोत की चुनावी सभा के क्या है सियासी मायने, आखिर क्यों चर्चा में बनीं करौली-धौलपुर सीट?
Jaipur: Fake jewelery worth Rs 6 crore sold to foreign woman, lookout notice issued against father and son
Next Article
Rajasthan: इंस्टाग्राम बिजनेस से विदेशी महिला को बेच दी 6 करोड़ की नकली ज्वेलरी, जयपुर के व्यापारी का लुकआउट नोटिस जारी
Close
;