विज्ञापन
Story ProgressBack

कौन हैं मन्नालाल रावत? जिन्होंने उदयपुर लोकसभा सीट पर काटा सीटिंग एमपी अर्जुन मीणा का टिकट

उदयपुर लोकसभा सीट पर बीजेपी ने सीटिंग एमपी अर्जुन लाल मीणा का टिकट काटकर मन्नालाल रावत को टिकट देकर बड़ा दांव खेला है जो कि एक राजकीय अधिकारी हैं.

कौन हैं मन्नालाल रावत? जिन्होंने उदयपुर लोकसभा सीट पर काटा सीटिंग एमपी अर्जुन मीणा का टिकट
उदयपुर सीट से बीजेपी उम्मीदवार मन्नालाल रावत

Lok Sabha Elections 2024: राजस्थान के 15 लोकसभा सीटों पर बीजेपी ने अपने उम्मीदवारों की घोषणा 2 मार्च को किया है. इसमें उदयपुर लोकसभा सीट (Udaipur Lok Sabha Seat) से बीजेपी ने जिस उम्मीदवार पर दांव खेला है. वह चर्चा का विषय बना है. बीजेपी ने उदयपुर लोकसभा सीट पर सीटिंग एमपी यानी वर्तमान सांसद अर्जुन लाल मीणा (Arjun Meena) का टिकट काट दिया है. वहीं, उनकी जगह पर मन्नालाल रावत (Mannalal Rawat) पर बड़ा दांव खेला है. उदयपुर सीट पर मन्नालाल रावत के नाम पर मुहर लगना सभी को चौंकाने वाला है. क्योंकि यह यहां सबसे नया चेहरा है. माना जा रहा है कि इस सीट पर BTP का ज्यादा दबदबा है और उससे पार पाने के लिए मन्नालाल रावत पर दांव खेला गया है. हालांकि, अब खबर यह भी आ रही है कि बीटीपी का जल्द ही बीजेपी में विलय होने वाला है. इससे उदयपुर सीट पर बीजेपी का रास्ता साफ हो सकता है.

सबसे आश्चर्य की बात यह है कि उदयपुर लोकसभा सीट पर सांसद अर्जुन लाल मीणा जो साल 2014 और 2019 दोनों बार लगातार जीत हासिल की है. लेकिन इसके बावजूद उनका टिकट काट दिया गया. हालांकि यह भी कहा जा रहा है कि अर्जुन लाल मीणा लंबे समय से अस्वस्थ्य हैं और अस्पताल में भर्ती भी रह चुके हैं. इसलिए उन्हें टिकट नहीं दिया गया. जबकि उनके बाद चुन्नीलाल गरासिया दावेदार थे. लेकिन उन्हें भी इस बार राज्यसभा भेज दिया गया. ऐसे में मन्नालाल रावत को टिकट दिया गया है.

कौन है मन्नालाल रावत

बीजेपी ने जिस मन्नालाल रावत को उदयपुर से टिकट दिया है. वह उदयपुर में आरटीओ पद पर है. वह डीटीओ, एआरटीओ पद पर भी काम कर चुके हैं. वह वर्तमान समये में राजस्थान परिवहन विभाग के अतिरिक्त आयुक्त (RTO Officer) जयपुर में सेवा दे रहे हैं. ऐसा कहा जा रहा है कि सरकारी सेवा में रहते वह सार्वजनिक कार्यक्रमों में हिस्सा नहीं ले रहे थे. लेकिन अपनी नौकरी के दौरान उन्होंने आदिवासी समाज और आदिवासी क्षेत्र में अपनी मजबूत पकड़ बनाई है. आदिवासी समाज भी उन्हें काफी सपोर्ट करता है. ऐसे में बीजेपी ने मन्नालाल रावत पर बड़ा दांव खेला है.

पर्यटन, शिक्षा और जनजाति क्षेत्र में विकास रहेंगी मुख्य प्राथमिकता

टिकट मिलने के बाद से मन्नालाल रावत के उदयपुर स्थित घर पर उन्हें बधाई देने वालों का तांता लग गया. बीजेपी के कई पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं ने उनके घर पहुंचकर बधाई दी और मिठाई खिलाई. इस अवसर पर मन्नालाल रावत ने कहा कि 2047 तक राष्ट्र को विकसित भारत का सपना पूरा करने के लिए जिस तरह काम हो रहा है. उस काम में जिस तरह के प्रवाह की आवश्यकता है उसके एक छोटे से सदस्य के रूप में मुझे चुना गया है.

उन्होंने कहा कि राष्ट्र नेतृत्व ने विश्वास जताया है. ये मेरे लिए गौरव की बात है. जो भी काम होंगे, उन्हें अच्छे ढंग से करने की कोशिश करेंगे. उदयपुर को लेकर पर्यटन, जनजाति क्षेत्र में विकास और शिक्षा नीति को लेकर बेहतर काम करने पर प्राथमिकता रहेगी. जनजाति अंचल में युवाओं और विशेषज्ञों से वार्ता कर समस्या का हल निकालने का प्रयास करेंगे.

यह भी पढ़ेंः Lok Sabha Elections 2024: कौन सुनेगा, किसको सुनाए, इसलिये चुप रहते हैं... भाजपा की पहली लिस्ट आने के बाद छलका वरिष्ठ नेता का दर्द

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Rajasthan Politics: विधायक हरीश चौधरी ने अपने खून से सीएम को लिखी चिट्ठी, सरकार से की बड़ी मांग
कौन हैं मन्नालाल रावत? जिन्होंने उदयपुर लोकसभा सीट पर काटा सीटिंग एमपी अर्जुन मीणा का टिकट
6 killed and 10 injured in a horrific accident on Ahmedabad-Vadodara highway, mostly passengers from Rajasthan involved.
Next Article
अहमदाबाद-वडोदरा हाईवे पर भीषण हादसे में 6 की मौत और 10 घायल, ज्यादातर राजस्थान के यात्री हैं शामिल
Close
;