विज्ञापन
Story ProgressBack

मारवाड़ में जन्मे BSF के ADG रवि गांधी अब संभालेंगे बांग्लादेश सीमा की कमान, UNO में भी कर चुके हैं काम

BSF ADG Ravi Gandhi: राजस्थान के मारवाड़ी क्षेत्र जोधपुर में जन्मे बीएसएस के अतिरिक्त महानिदेशक रवि गांधी को एक बड़ी जिम्मेदारी मिली है. उन्हें भारत-बांग्लादेश सीमा की सुरक्षा की कमान सौंपी गई है. रवि गांधी 36 साल से बीएसएफ की नौकरी में हैं.

Read Time: 3 mins
मारवाड़ में जन्मे BSF के ADG रवि गांधी अब संभालेंगे बांग्लादेश सीमा की कमान, UNO में भी कर चुके हैं काम
बीएसएस के एडीजी रवि गांधी.

BSF ADG Ravi Gandhi: राजस्थान को शुरवीरों की धरती के रूप में संबोधित किया जाता है. यहां से कई बड़े शुरवीर निकले, जिन्होंने अलग-अलग समय पर देश की सुरक्षा में बड़ा कीर्तिमान स्थापित किया. अब राजस्थान के एक और लाल को बड़ी जिम्मेदारी दी गई है. हम बात कर रहे हैं राजस्थान के मारवाड़ क्षेत्र में जन्मे सीमा सुरक्षा बल (BSF) में अतिरिक्त महानिदेशक(ADG) रवि गांधी की. रवि गांधी को अब एक बड़ी जिम्मेदारी दी गई है. वो अब भारत से सटे पड़ोसी मुल्क बांग्लादेश सीमा की कमान संभालेंगे. दरअसल बीएसएफ ने अतिरिक्त महानिदेशक (एडीजी) रवि गांधी को कोलकाता स्थित बीएसएफ की ईस्टर्न कमान का प्रमुख नियुक्त किया है.

ईस्टर्न कमान के अधीन बांग्लादेश से सटे करीब 4 हजार किमी लंबी बॉर्डर और उसकी निगरानी रखने वाले छह फ्रंटियर शामिल हैं. जिसमे साउथ बंगाल, नॉर्थ बंगाल, गुवाहाटी, मेघालय, त्रिपुरा और मिजोरम और कच्छार फ्रंटियर भी शामिल हैं.



मारवाड़ के जाए जन्मे एडीजी रवि गांधी इससे पूर्व जोधपुर स्थित सीमा सुरक्षा बल के राजस्थान फ्रंटियर मुख्यालय में भी कही महत्वपूर्ण पदों पर रह चुके हैं. उनका कहना है कि पहली प्राथमिकता इस महत्वपूर्ण बॉर्डर के मैनेजमेंट की होगी. जहा सीमा सुरक्षा बल उत्तर बंगाल फ्रंटियर अत्यंत संवेदनशील हैं. अपने कार्यकाल के दौरान सीमा प्रबंधन में की गई विभिन्न नई पहल की वजह से बांग्लादेश के साथ लगी पूर्वी सीमा की प्रभावी ढंग से देखभाल की है.
 

इसके अलावा बीएसएफ के प्रमुख प्रशिक्षण संस्थानों में से एक प्रशिक्षण केंद्र और स्कूल, हजारीबाग जो कि कमांडो और विस्फेटक प्रशिक्षण के लिए उत्कृष्टता का केन्द्र माना जाता है वहां की भी कमान संभाली थी. 

गौरतलब है कि रवि गांधी 1986 बैच के बीएसएफ अधिकारी हैं. जिन्हें राष्ट्र की समर्पित सेवा का 36 से अधिक सालों का अनुभव है. उन्होंने भारत की पूर्वी और पश्चिमी सीमाओं के अलावा प्रशिक्षक और स्टाफ अधिकारी जैसे महत्वपूर्व पदों की जिम्मेदारी का भी निर्वहन कर चुके हैं जहां 1996-97 में बोस्निया में संयुक्त राष्ट्र शांति मिशन में भी कार्य किया है उन्हें वीरता के लिए राष्ट्रपति पुलिस पदक, सराहनीय सेवा के लिए पुलिस पदक, विशिष्ट सेवा के लिए राष्ट्रपति पुलिस पदक और अति उत्कृष्ट सेवा पदक से सम्मानित किया गया है.

यह भी पढ़ें - जानें कौन हैं बांसवाड़ा के नए SP हर्ष वर्धन अग्रवाला जिन्हें राजभवन में मिली थी पहली पोस्टिंग
 

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
जानें कौन हैं बांसवाड़ा के नए SP हर्ष वर्धन अग्रवाला जिन्हें राजभवन में मिली थी पहली पोस्टिंग
मारवाड़ में जन्मे BSF के ADG रवि गांधी अब संभालेंगे बांग्लादेश सीमा की कमान, UNO में भी कर चुके हैं काम
International Women's Day: IPS Richa Tomar, who rebelled against challenges to create her own identity
Next Article
International Women's Day: आईपीएस ऋचा तोमर, जिन्होंने चुनौतियों से बगावत कर बनाई अपनी अलग पहचान
Close
;