विज्ञापन
Story ProgressBack

1 साल में 5 सरकारी नौकरियों में सलेक्शन, अब RAS बनने का सपना, जोश से भर देगी दशरथ सिंह के सफलता की कहानी

दशरथ सिंह की असफलताओं पर लोगों ने कई ताने मारे, लेकिन उन्होंने तानों का जवाब देते हुए सब इंस्पेक्टर परीक्षा-2021 में फिर प्रयास किया. 2023 में रिजल्ट आया तो ऑल राजस्थान 201वी रेंक प्राप्त कर सबके मुंह बंद कर दिया.

Read Time: 4 min
1 साल में 5 सरकारी नौकरियों में सलेक्शन, अब RAS बनने का सपना, जोश से भर देगी दशरथ सिंह के सफलता की कहानी
दशरथ सिंह (फाइल फोटो)

Success Story: कहते हैं कि सफलता की गाड़ी असफलता के प्लेटफॉर्मस पर रुकती-रुकती सफलता के स्टेशन तक पहुंचती है. जो धैर्य के साथ जमकर मेहनत करता है तो सफलता उनके पैर चूमती है. ऐसी ही कहानी जैसलमेर के दशरथ सिंह (Dashrath Singh) की है, जिन्होंने धैर्य रखते हुए मुश्किल समय में न रुकने के संकल्प के साथ मेहनत के दम पर ताने मारने वाले सभी तीखे जुबानी हमलों को अब मीठी तारीफो में बदल दिया.

यह कहानी है जैसलमेर जिले में छंतागढ़ गांव के रहने वाले दशरथ सिंह की, जिन्होंने एक साल में पांच प्रतियोगी परीक्षाएं दीं और पांचों में ही चयन हो गया. इससे बड़ी खुशी क्या हो सकती है? ग्राम सेवक, तृतीय श्रेणी शिक्षक, फिर पुलिस सब इंस्पेक्टर पद पर चयन, इसके बाद सैकंड ग्रेड और अब फर्स्ट ग्रेड में चयन हुआ है. इतना ही नहीं दशरथ ने आरएएस प्री क्लियर कर रखा है और अब वे मुख्य परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं.

RAS बनने का है सपना

दशरथ सिंह का सबसे पहले अप्रैल 2023 में ग्राम विकास अधिकारी के पद पर चयन हुआ. जिसके बाद दशरथ सिंह ने ज्वाइन भी कर ली. फिलहाल वे सम में ग्राम विकास अधिकारी पद पर कार्यरत हैं. इसके बाद उनका चयन थर्ड ग्रेड, सब इंस्पेक्टर, सेकंड ग्रेड व फर्स्ट ग्रेड शिक्षक के रूप में हो गया है. हालांकि दशरथ सिंह ने आरएएस प्री भी क्लियर कर लिया है. जिसकी परीक्षा आगामी 27 जनवरी को है. इसी की तैयारी में वह जुटे हुए हैं. उन्हें उम्मीद है कि इस साल उनका आरएएस में भी चयन हो जाएगा. इससे पहले वे दो बार 2018 व 2021 में आरएएस प्री पास कर मैन्स की परीक्षा दे चुके हैं. लेकिन मैन्स में उनका चयन नहीं हुआ है. जिसके बाद वे अब फर्स्ट ग्रेड शिक्षक के रूप में ज्वाइन करेंगे.

रीट परीक्षा में 0.16 नंबर से चुके

पढ़ाई में हमेशा से ही अव्वल रहने वाले दशरथ की किस्मत ने उन्होंने खूब भटकाया भी, लेकिन कहते हैं ना कि ऊपर वाला जब देता है तो झपड़ फाड़ कर देता है. फिर वो सफलता हो या असफलता. 2013 में बीएसटीसी का एग्जाम क्लियर किया, लेकिन कॉलेज जैसलमेर की बहार मिलने के कारण छोड़ दी. तमाम प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए तैयारी की. वर्ष 2015 में कांस्टेबल के एग्जाम में अंतिम मेरिट में लाइन पर आकर चुक गया. इस बीच कुछ निजी विद्यालयों में भी पढ़ाया. रीट मुख्य परीक्षा 2018 में 0.16 अंको से चुक गए. उम्मीद दी  किस्मत साथ दे तो वेटिंग में हो जाएगा, लेकिन इस बार भी हाथ लगी केवल मायूसी.

आधार कार्ड खोने से छूट गया एग्जाम 

सबसे मुश्किल दौर तो वो था जब में अंदर से टूटने लगा. 2019 में पटवार सीधी भर्ती परीक्षा में चयन की दौड़ की तैयारी में सबसे आगे था, लेकिन किस्मत ने साथ नहीं दिया और एग्जाम होल के रास्ते में आधार कार्ड खो गया तो एग्जाम होल में एंट्री नहीं मिली, वो सबसे कठिन समय था. सब इंस्पेक्टर परीक्षा 2019 में रिटर्न एग्जाम कॉलीफाइड किया, लेकिन फिजिकल में दौड़ के दौरान पैर फिसलने से पिछड़ गया. रीट 2021 में 136 नंबर लाकर अपने चयन को लेकर आवश्वत हुए लेकिन रीट भर्ती रद्द करने से एक बार फिर केवल मायूसी हाथ लगी. लोगों ने कई ताने मारे, फिर मैंने तानों का जवाब देते हुए सब इंस्पेक्टर परीक्षा-2021 में फिर प्रयास किया. 2023 में रिजल्ट आया तो ऑल राजस्थान 201वी रेंक प्राप्त कर सबके मुंह बंद कर दिए.

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close