विज्ञापन
Story ProgressBack

ACB action: अजमेर में ACB का एक्शन, 50 हजार रुपए घूस लेते रंगे हाथ पकड़े गए रेंजर और वनरक्षक

ACB action in Ajmer: शुक्रवार को राजस्थान में एसीबी ने दो बड़ी कार्रवाई की. पहली राजधानी जयपुर में, जहां एक पुलिस सब इंस्पेक्टर को 20 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया. दूसरी अजमेर में, जहां 50 हजार रुपए रिश्वत लेते रेंजर और वन रक्षक को रंगे हाथों को दबोचा.

Read Time: 3 min
ACB action: अजमेर में ACB का एक्शन, 50 हजार रुपए घूस लेते रंगे हाथ पकड़े गए रेंजर और वनरक्षक
50 हजार रुपए घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार हुए रेंजर और वन रक्षक.

ACB action in Ajmer: शुक्रवार को जयपुर के साथ-साथ एंटी करप्शन ब्यूरो ने अजमेर में भी दो सरकारी अधिकारियों को घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया. शुक्रवार को एसीबी की पहली कार्रवाई की खबर जयपुर से सामने आई, जहां सब इंस्पेक्टर अशोक मीणा को 20 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों को पकड़ा गया था. एसीबी की दूसरी कार्रवाई  अजमेर में हुई. जहां अजमेर एसीबी ने बड़ी कार्रवाई करते हुए कोयले से भरे ट्रक को अवैध रूप से रोक कर ट्रक चालक से अवैध वसूली करने के आरोप में ब्यावर के रेंजर नितिन शर्मा और वनरक्षक नरसी राम को 50 हजार रुपए रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया है.

एसीबी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक भागचंद मीणा ने जानकारी देते हुए बताया कि भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की अजमेर इकाई को पीड़ित द्वारा शिकायत दी गई कि उसकी कोयले की गाड़ी को बेवजह ब्यावर रेंजर ने पकड़ा है जबकि ट्रक में कोयल लाने ले जाने के जरूरी दस्तावेज और बिल्टी ट्रक ड्राइवर के पास थी. उसके बाद भी ब्यावर वन अधिकारी ने करीब 85 हजार रुपए रिश्वत के रूप में ले लिए थे. उसके बाद भी वन अधिकारी और वनरक्षक ने 50 हजार रुपए की और डिमांड कर रहे है.

शिकायत सत्यापन के बाद एसीबी ने बिछाया जाल

रिश्वत की मांग की शिकायत पीड़ित परिवादी ने अजमेर एसीबी ऑफिस में शिकायत देकर कानूनी कार्रवाई करने की मांग की. शिकायत पुख्ता होने के बाद एसीबी ने जाल बिछाया था. जिसके बाद भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो अजमेर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक भागचंद मीणा ने परिवादी के शिकायत के बाद शिकायत को पुख्ता और सत्यापन किया और आज ट्रैप की कार्रवाई के लिए ब्यावर क्षेत्रीय वन कार्यालय में परिवादी से 50 हजार रुपए रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों दोनों को गिरफ्तार कर लिया.

अब रेंजर और वनरक्षक के घर और अन्य ठिकानों पर हो रही तलाशी  

ट्रैप की कार्रवाई को अंजाम देने के बाद एसीबी के अधिकारियों ने वन अधिकारी और वनरक्षक के निवास स्थान और अन्य  ठीकानों पर दबिश दी गई, एसीबी के उप महान निरीक्षक पुलिस रणवीर सिंह के सुपरविजन में आरोपियों से पूछताछ और अग्रिम कार्रवाई की जा रही है एसीपी द्वारा मामले में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के अंतर्गत प्रकरण दर्ज कर अग्रिम अनुसंधान किया जा रहा है और कल दोनों रिश्वतखोरों अधिकारियों को मान्य न्यायालय के समक्ष पेश किया जाएगा.

एसीबी ने आम लोगों से की यह अपील 

अजमेर की कार्रवाई के बाद एसीबी ने आम लोगों से अपील करते हुए कहा कि रिश्वतखोरी की शिकायत एसीबी को टोल फ्री नंबर पर कॉल कर दें. शिकायत मिलते ही कार्रवाई की जाएगी. भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर 1064 और व्हाट्सएप हेल्पलाइन नंबर 9413502834 पर रिश्वत लेने संबंधी शिकायत की जा सकती है. एसीबी मामले की पड़ताल कर पीड़ित लोगों की मदद करेगी.

यह भी पढ़ें - जयपुर में ACB का बड़ा एक्शन, थाने में घूस लेते सब इंस्पेक्टर को रंगे हाथ किया गिरफ्तार
 

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close