विज्ञापन
Story ProgressBack

नेशनल हाइवे पर जबर्दस्त विस्फोट के बाद भीषण आगजनी, देवदूत बन पुलिस ने बचाई चार की जान

आगजनी इतनी जबर्दस्त थी कि एक के बाद एक हुए तेज विस्फोट से आसपास के लोग वहां से भाग खड़े गए. सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची बरोनी पुलिस थाने के 5 जवानों ने अपनी जिंदगी परवाह न करकते हुए आगजनी में फंसे लोगों बचाकर इंसानियत की मिशाल पेश की.

Read Time: 4 min
नेशनल हाइवे पर जबर्दस्त विस्फोट के बाद भीषण आगजनी, देवदूत बन पुलिस ने बचाई चार की जान
दो ट्रकों में लगी भीषण आग
टोंक:

जिले से सटे नेशनल हाइवे 52 पर शु्क्रवार को एक बड़ा सड़क हादसा हुआ. एक डंपर और ट्रेलर की बीच हुए जबर्दस्त टक्कर में दोनों गाड़ियां आग का गोला बन गए. आगजनी इतनी जबर्दस्त थी कि एक के बाद एक हुए तेज विस्फोट से आसपास के लोग वहां से भाग खड़े गए. टोंक पुलिस अधीक्षक राजर्षि राज ने बरोनी पुलिस थाने के 5 जवानों की प्रशंसा की है, जिन्होंने अपनी जिंदगी परवाह न करते हुए आगजनी में फंसे लोगों बचाकर इंसानियत की मिशाल पेश की.

रिपोर्ट के मुताबिक भीषण आगजनी के बीच जांबाजी दिखाते हुए पुलिस के जवानों ने चार जिंदगियों के अलावा आग में जलते एक शव को भी बाहर निकालने में सफलता पाई. उन्होंने बरौनी पुलिस थाने पर तैनात पांचों जांबाज पुलिस के जवानों की जमकर तारीफ की और उनका हौसला बढ़ाया. 

पुलिस के जवान सिर्फ ड्यूटी ही नही करते बल्कि संकट में संकट हरने वाले भी बन जाते है.

क्या था पूरा मामला

शुक्रवार की शाम को टोंक जिले के पुलिस थाना बरोनी की टीम गश्त पर थी. गश्त के दौरान टीम को सूचना मिली कि नेशनल हाइवे पर मोटूका पुलिया पर एक डंपर और ट्रेलर में आमने-सामने की टक्कर के बाद दोनों वाहनों में भीषण आग लग गई है. सूचना पर यह टीम तुरन्त घटना स्थल पर पहुंची, जहां ट्रेलर व डंपर आपस में टकराकर चकनाचूर हो चुके थे एवं भीषण आग लगी हुई थी.

लगातार ब्लास्ट हो रहे थे डीज़ल टैंक व टायर

आगजनी के चलते हादसे की शिकार हुईं दोनों वाहनों के डीज़ल टेंक व टायर लगातार ब्लास्ट हो रहे थे. ऐसी भयानक परिस्थितियों के बावजूद बरोनी थाने की टीम ने त्वरित कार्यवाही व अपनी सूझबूझ का परिचय देते हुए अपनी जान जोखिम में डालकर ट्रेलर के नीचे फंसी एक मोटर साईकिल को सुरक्षित बाहर निकाला.

केबिन में फंसे चालक व खल्लासी का निकाला गया

हादसे के शिकार हुए मोटर साइकिल सवार दो लोग भी आगजनी में बुरी तरह फंसे हुए थे, जिन्हें तुरन्त निवाई अस्पताल पहुंचाया और ट्रेलर की केबिन में फंसे चालक व खल्लासी को केबिन के शीशे तोड़कर सुरक्षित बाहर निकाला. इसी प्रकार डंपर की ट्राली के नीचे जलते टायरों के पास पड़े एक शव को बाहर निकाला गया.

Latest and Breaking News on NDTV

हादसे से घंटों प्रभावित रहा यातायात

नेशनल हाइवे पर घटी यह सड़क दुर्घटना इतनी भीषण थी कि नेशनल हाईवे 52 पर लगभग 3 किलोमीटर तक यातायात अवरूद्ध हो चुका था. त्वरित कार्यवाही करते हुए 5 दमकलों व आमजन की सहायता से आग पर काबू पाया गया और 3 क्रेनों की मदद से तुरन्त हाइवे पर रास्ता खुलवा कर यातायात सुचारू रूप से चालू किया गया. 

आमजन में विश्वाश ही पुलिस का लक्ष्य

पुलिस जवानों की बहादुरी और मानवता के चर्चे लोगों की जुबान पर है. हादसे के शिकार हुए चार लोगों की जिंदगी बचाने जैसे साहसिक कार्य के लिए टोंक पुलिस अधीक्षक राजर्षि राज ने जवानों के साहस की प्रशंसा करते हुए कहा है कि यह पुलिस का मानवीय चेहरा है और आमजन में विश्वाश ही पुलिस का लक्ष्य है. 

असाधारण कार्य करने वाली पुलिस टीम

1. ओम प्रकाश, उप निरीक्षक, थानाधिकारी थाना बरोनी
2.  कमलेश प्रसाद, हैड कानि. 209 थाना बरोनी
3. मोती लाल कानि. 445 थाना बरोनी
4.  मुनीम कानि. 1057 थाना बरोनी
5.  रामदयाल कानि. 58 थाना बरोनी

ये भी पढ़ें-  झुंझुनूं में आयकर विभाग के दफ्तर में लगी आग, रिकॉर्ड रूम में नुकसान की आशंका

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close