विज्ञापन
Story ProgressBack

Rajasthan: गर्मी से बचने का देसी जुगाड़ 'मडबाथ' ले रहे किसान, परंपरागत नुस्ख़ा कर रहा है गर्मी को छूमंतर

प्राकृतिक चिकित्सा में मिट्टी का इस्तेमाल कई रोगों के निवारण में आदिकाल से ही होता आया है. वैज्ञानिक शोध में यह प्रमाणित हो चुका है कि मिट्टी चिकित्सा  शरीर को तरो ताजा करने, जीवंत और उर्जावान बनाती है. चर्म रोग के साथ विभिन्न रोगों जैसे कब्ज, स्नायु-दुर्बलता, तनावजन्य सिरदर्द, उच्च रक्तचाप, मोटापा सहित अन्य रोग में कारगर साबित होता है. 

Read Time: 3 mins
Rajasthan: गर्मी से बचने का देसी जुगाड़ 'मडबाथ' ले रहे किसान, परंपरागत नुस्ख़ा कर रहा है गर्मी को छूमंतर
मड बाथ सेहत के लिए फायदे मंद

Kota News: राजस्थान में गर्मी के तल्ख़ तेवर कम होने का नाम नही ले रहे . इंसान तो इंसान वन्य जीव ,परिंदे मवेशी भी गर्मी से परेशान है. हाड़ौती में भी गर्मी अपना भीषण रूप दिखा रहीं है. ऐसे में गर्मी से राहत पाने के लिए सभी जतन किए जा रहे है.  परंपरागत तरीके एक बार फिर कारगर साबित होते नजर आ रहे हैं कोटा में किसान भीषण गर्मी से गजब तरीके से राहत पा रहे हैं. कोटा जिले के किसान मडबाथ ले रहे है. शरीर के मिट्टी का लेप कर रहे हैं. ग्रामीण इलाकों में किसान रोजाना शाम को मडबाथ का आनंद लेते खेत के धोरों में नजर आते है. किसान अब्दुल हमीद गोड़ और रामदयाल धाकड़ दोनों किसान है हर रोज़ अपने खेत मे जाकर मडबाथ करके खुद को तरोताजा महसूस करने के साथ गर्मी से भी राहत पा रहे है.  मडबाथ मतलब शरीर पर मिट्टी का लेप करके नहाना पुरानी पद्धति है.

हमीद गोड, रामदयाल रोजाना खेत पर जाते है. ट्यूबवेल चलाकर, धोरों की मिट्टी का लेप शरीर पर करते है. एक घंटा मिट्टी लगाकर बैठते जिससे उनकी गर्मी भाग जाती है. हामिद गौड ने बताया कि इन दिनों उनके खेत में चावल की पौध तैयार की जा रही है. दिनभर खेत पर काम करते है, फिर शाम होने पर मडबाथ करते है. हमीद गोड कहते है की कैसा भी रोग हो मिट्टी के स्नान से उसमें राहत जरूर मिलती है. 

प्राकृतिक चिकित्सा का नुस्खा 

प्राकृतिक चिकित्सा में मिट्टी का इस्तेमाल कई रोगों के निवारण में आदिकाल से ही होता आया है. वैज्ञानिक शोध में यह प्रमाणित हो चुका है कि मिट्टी चिकित्सा  शरीर को तरो ताजा करने, जीवंत और उर्जावान बनाती है. चर्म रोग के साथ विभिन्न रोगों जैसे कब्ज, स्नायु-दुर्बलता, तनावजन्य सिरदर्द, उच्च रक्तचाप, मोटापा सहित अन्य रोग में कारगर साबित होता है. 

खेत की मिट्टी ही बन रही है मददगार

किसान रामदयाल धाकड़ बताते हैं कि वैसे तो हाडोती में गर्मी हमेशा ही तेज होती है लेकिन अब जो गर्मी हो रही है वह असहनीय हो रही है सालों पहले हमारे पूर्वज भी मिट्टी से स्नान किया करते थे खेत की मिट्टी ही हमारे लिए जीवन दायिनी होती है अब भीषण गर्मी में खेती किसानी के साथ गर्मी से राहत दिलाने में भी खेत की मिट्टी महत्वपूर्ण  भूमिका में है. गांव के नोजवान भी हमारे जैसे मड़बाथ के लिए उतसाहित रहते है . कुदरत के इस सौगात से किसी को कोई नुकसान नहीं होता. फायदे ही फायदे है. बस इस बात का ध्यान रखा जाता है कि मिट्टी में कंकर पत्थर ना हो जिसके लिए हम खेत में फसल कटाई के बाद सफाई करते रहते है.

यह भी पढ़ें- चुनाव परिणाम से पूर्व मेहंदीपुर बालाजी में मत्था टेकने पहुंचे राजस्थान CM, गोयल-बिरला भी रहे मौजूद

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
दो दिवसीय दौरे पर जैसलमेर पहुंचे उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़, तनोट मंदिर में पूजा के बाद करेंगे भारत-पाक सीमा का निरीक्षण
Rajasthan: गर्मी से बचने का देसी जुगाड़ 'मडबाथ' ले रहे किसान, परंपरागत नुस्ख़ा कर रहा है गर्मी को छूमंतर
Jaipur: Fake jewelery worth Rs 6 crore sold to foreign woman, lookout notice issued against father and son
Next Article
Rajasthan: इंस्टाग्राम बिजनेस से विदेशी महिला को बेच दी 6 करोड़ की नकली ज्वेलरी, जयपुर के व्यापारी का लुकआउट नोटिस जारी
Close
;