विज्ञापन
Story ProgressBack

Rajasthan Politics: कांग्रेस की बैठक में बुलाने पर भी नहीं आए हनुमान बेनीवाल, राजकुमार रोत ने भी किया किनारा  

आज भाजपा सरकार अपना पहला पूर्ण बजट पेश करेगी. इससे पहले कांग्रेस ने सरकार को घेरने के लिए गुरुवार को एक बैठक में रणनीति बनाई.

Rajasthan Politics: कांग्रेस की बैठक में बुलाने पर भी नहीं आए हनुमान बेनीवाल, राजकुमार रोत ने भी किया किनारा  
'इंडिया' गठबंधन की बैठक में नहीं पहुंचे हनुमान बेनीवाल और राजकुमार रोत

Hanuman Beniwal and Rajkumar Roat: राजस्थान की उपमुख्यमंत्री और वित्त मंत्री दीया कुमारी आज विधानसभा में राज्य का बजट पेश करेंगी. यह भजनलाल सरकार का पहला पूर्ण बजट होगा. मंगलवार को बजट सत्र के दौरान सरकार को घेरने के लिए कांग्रेस ने रणनीति बनाई. इस मौके पर ‘इंडिया' गठबंधन  के नवनिर्वाचित सांसदों का भी सम्मान किया गया. हालांकि दो सांसद-बीएपी के राजकुमार रोत और आरएलपी के हनुमान बेनीवाल अलग-अलग कारणों से बैठक में नहीं पहुंचे. 

दोनों सांसद 'इंडिया' गठबंधन का हिस्सा हैं. ऐसे में उनका बैठक में नहीं पहुंचना कई सवाल भी खड़ा कर रहा है. इससे पहले भी गठबंधन को लेकर राजकुमार रोत और हनुमान बेनीवाल की तरफ से कुछ बयान भी सामने आये थे. दिल्ली में 'इंडिया' गठबंधन की बैठक में हनुमान बेनीवाल को नहीं बुलाये जाने पर भी बेनीवाल ने नाराजगी जाहिर की थी. 

भाजपा को घेरने की बनाई रणनीति 

ऐसे में विपक्ष भी सरकार को घेरने की रणनीति बना रहा है. राजस्थान में नेता प्रतिपक्ष टीकाराम जूली ने मंगलवार को कांग्रेस विधायकों से आगामी विधानसभा सत्र में जनहित और हाशिए पर पड़े लोगों की चिंताओं से जुड़े मुद्दों को जोरदार तरीके से उठाने का आग्रह किया. विधानसभा के सत्र में भाजपा सरकार को घेरने के लिए रणनीति बनाने के मद्देनजर मंगलवार को कांग्रेस विधायक दल की बैठक में कई पहलुओं पर मंथन किया गया. बैठक में नेता प्रतिपक्ष टीकाराम जूली ने दलित समुदाय के सदस्य को इतनी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी सौंपने के लिए पार्टी नेतृत्व का आभार व्यक्त किया और सभी विधायकों से सहयोग मांगा.

बैठक के दौरान जूली ने विधायकों से जनहित के मुद्दों और हाशिए पर पड़े लोगों की चिंताओं को जोरदार तरीके से उठाने का आग्रह किया. उन्होंने भाजपा सरकार को जवाबदेह बनाने के उद्देश्य से एक ‘शैडो मंत्रिमंडल' बनाने की योजनाओं के बारे में भी बात की.

मंत्रियों के सहायक ही कर रहे मंत्रियों की जासूसी 

बैठक में डोटासरा ने भाजपा सरकार की आलोचना करते हुए आरोप लगाया कि मंत्रियों के विशेष सहायक मंत्रियों की जासूसी कर रहे हैं. डोटासरा ने संवाददाताओं से बातचीत में दावा किया कि ये सहायक फाइलों से जुड़ी सूचनाएं दिल्ली और मुख्य सचिव से साझा कर रहे हैं. डोटासरा ने किरोड़ी मीणा के मंत्री पद से इस्तीफे पर भी चुटकी ली और उनके इस्तीफे की स्वीकृति की स्थिति पर सवाल उठाए.

मीणा ने हाल में कहा था कि लोकसभा चुनाव में दौसा और कुछ अन्य लोकसभा सीटों पर भाजपा को जीत नहीं दिला पाने के कारण उन्होंने मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है. हालांकि अब तक उनका इस्तीफा स्वीकार नहीं किया गया है.

यह भी पढ़ें- राजस्थान में मूसलाधार बारिश का अलर्ट, मौसम विभाग की नई भविष्यवाणी

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Sawan Somwar 2024: सावन में इस बार अद्भुत संयोग, इस मंत्र के जाप दूर होंगे सारे दुख
Rajasthan Politics: कांग्रेस की बैठक में बुलाने पर भी नहीं आए हनुमान बेनीवाल, राजकुमार रोत ने भी किया किनारा  
Bhilwara: Businessman kidnapped and ransom demanded of Rs 45 lakh, police rescued him after 8 hours
Next Article
भीलवाड़ा: व्यापारी को किडनैप कर 45 लाख की मांगी फिरौती, रातभर चले सर्च अभियान के बाद छुड़ाया
Close
;