विज्ञापन
Story ProgressBack

कोटा को भारतीय रेलवे का तोहफा, इस तारीख से तिरुपति बालाजी धाम के लिए चलेगी स्पेशल ट्रेन

तिरुपति बालाजी धाम के दर्शन करने जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए खुशखबरी है. श्रद्धालु अब कोटा (Kota) से सीधे ट्रेन से तिरुपति बालाजी धाम (Tirupati Balaji Dham) के दर्शन करने जा सकेंगे.

कोटा को भारतीय रेलवे का तोहफा, इस तारीख से तिरुपति बालाजी धाम के लिए चलेगी स्पेशल ट्रेन

Tirupati Balaji Dham: तिरुपति बालाजी धाम के दर्शन करने जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए खुशखबरी है. श्रद्धालु अब कोटा (Kota) से सीधे ट्रेन से तिरुपति बालाजी धाम (Tirupati Balaji Dham) के दर्शन करने जा सकेंगे. इसके लिए रेलवे (Indian Railway) ने बड़ा फैसला लिया है. कोटा से या फिर हिसार-तिरुपति होकर स्पेशल ट्रेन ( Hisar Tirupati Train) चलाने का फैसला किया है. ये ट्रेन 8 जुलाई से तिरुपति (Tirupati) से शुरू होगी. लेकिन इससे पहले ये ट्रेन 6 जुलाई को हिसार से चलेगी. ये ट्रेन 28 सितंबर तक कोटा से तिरुपति जाएगी. आखिरी ट्रेन 30 सितंबर तक तिरुपति से चलेगी. जो कोटा होते हुए हिसार जाएगी. इस ट्रेन के दोनों तरफ से 13-13 फेरे होंगे.

इन स्टेशनों से होकर गुजरेगी हिसार-तिरुपति ट्रेन

कोटा रेल मंडल के वरिष्ठ वाणिज्य प्रबंधक रोहित मालवीय ने बताया कि रेलवे प्रशासन ने यात्रियों की सुविधा और सीजन के दौरान अतिरिक्त यात्री भार को कम करने के लिए हिसार-तिरुपति-हिसार के बीच 13-13 फेरे चलाने का निर्णय लिया है. यह ट्रेन कोटा रेल मंडल के सवाई माधोपुर, कोटा और रामगंज मंडी स्टेशनों से होकर गुजरेगी. मालवीय के अनुसार सीजन के दौरान यात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए स्पेशल ट्रेनों का संचालन किया जाता है. फिलहाल हिसार-तिरुपति ट्रेन के वाया कोटा संचालन के संबंध में संबंधित स्टेशनों और स्टाफ को निर्देश दिए गए हैं. इस बारे में  रेलवे ने यात्रियों से अपील की है कि वे ट्रेन की सही स्थिति और समय सारिणी की जानकारी स्टेशन, रेलवे कंट्रोल 139 और ऑनलाइन से लें. जिससे वह इश अवसर का फायदा उठा सकें.

तिरुपति बालाजी धाम 

यह मंदिर भगवान वेंकटेश्वर को समर्पित है, जो भगवान विष्णु का एक रूप है, जिनके बारे में माना जाता है कि वे कलियुग में मानव जाति को बचाने के लिए पृथ्वी पर प्रकट हुए थे. इसलिए, इस स्थान को कलियुग वैकुंठ भी कहा जाता है और देवता को कलियुग प्रत्यक्ष दैवम कहा जाता है. यह  मंदिर आंध्र प्रदेश के तिरुपति जिले में तिरुमाला पहाड़ी पर स्थित है. औसतन, हर महीने लगभग 1.2 मिलियन तीर्थयात्री मंदिर में आते हैं.

यह भी पढ़ें: सलमान खान को मारने के लिए 25 लाख की सुपारी, लॉरेंस गैंग ने नाबालिग लड़कों को किया था तैयार: सूत्र

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
फोन टैपिंग मामले में राजस्थान सरकार हुई सक्रिय, अशोक गहलोत को घेरने की बना रही यह रणनीति
कोटा को भारतीय रेलवे का तोहफा, इस तारीख से तिरुपति बालाजी धाम के लिए चलेगी स्पेशल ट्रेन
4 soldiers including constable from Jhunjhunu martyred in Jammu and Kashmir's Dota, CM Bhajan Lal pays tribute
Next Article
Encounter in Doda: जम्मू-कश्मीर के डोडा में झुंझुनू के 2 जवान समेत 4 शहीद, सीएम भजनलाल ने दी श्रद्धांजलि
Close
;