विज्ञापन
Story ProgressBack

अलवर में किसान महापंचायत, टिकैत बोले- यदि नूंह में ब्रजमंडल यात्रा निकली तो हम भी टैक्ट्रर रैली निकालेंगे

शनिवार को राजस्थान के अलवर में संयुक्त किसान मोर्चा की ओर से किसान-मजदूर भाईचारा महापंचायत का आयोजन किया गया. इसमें किसान नेता राकेश टिकैत भी शामिल हुए. उन्होंने नूंह हिंसा को लेकर हरियाणा सरकार पर जमकर हमला बोला.

Read Time: 5 min
अलवर में किसान महापंचायत, टिकैत बोले- यदि नूंह में ब्रजमंडल यात्रा निकली तो हम भी टैक्ट्रर रैली निकालेंगे
किसान नेता राकेश टिकैत.

शनिवार को अलवर में किसान-मजदूर भाईचारा महापंचायत आयोजित किया गया. संयुक्त किसान मोर्चा की ओर से आयोजित इस महापंचायत में किसान नेता राकेश टिकैत ने हरियाणा की भाजपा सरकार पर तीखा हमला किया. नूंह हिंसा का जिक्र करते हुए टिकैत ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार जहां है, उन राज्यों में माहौल खराब करना चाहती है. उन्होंने आगे कहा कि अगर हरियाणा सरकार ने नूंह में ब्रजमंडल यात्रा 28 सितंबर को निकालने की स्वीकृति दी तो हम भी ट्रैक्टर रैली निकालेंगे. जिसकी तारीख निश्चित की जाएगी. इसके लिए पंचायत होगी और पंचायत में निर्णय लिया जाएगा. किसान नेता ने भाजपा पर जमकर हमला बोला और कहा कि देश की तरक्की इनसे नहीं होती, तरक्की करनी है तो स्कूल-कॉलेज, अस्पताल खोलो, युवाओं को रोजगार दो.

सत्यपाल मलिक, किसान नेता चढूनी सहित हुए शामिल

अलवर के बडौदामेव शीतल में इस महापंचायत का आयोजन संयुक्त किसान मोर्चा की ओर से किया गया था. इसमें राजस्थान, हरियाणा, पंजाब व यूपी के किसान व आमजन पहुंचे. महापंचायत में पूर्व राजयपाल डॉ. सत्यपाल मलिक, गुरनाम सिंह चढूनी किसान नेता राकेश टिकैत, डॉ दर्शनपाल, मौलाना अरशद, राजाराम मील, रामलखन मीणा, पूनम पंडित, समय सिंह यादव, जितेंद्र मीणा सहित हर्ष छिकारा मौजूद थे.

राजनीतिक पार्टी नहीं आंदोलन देश को बचाएगाः टिकैत

इस महापंचायत का उद्देश्य हरियाणा के नूंह में दंगों के बाद सामाजिक सौहार्द और भाईचारा बनाए रखने का माहौल बनाना था. राकेश टिकैत ने सीधे-सीधे कहा कि देश को कोई भी राजनीतिक पार्टी नहीं बचा सकती. अगर बचाएगा तो आंदोलन बचाएगा. इस आंदोलन में किसान-मजदूर, बेरोजगार पीड़ित शोषित सब भाग लेंगे. तभी सरकारें झुकेंगी. उन्होंने कहा कि देश के राजा की पॉलिसी है जनता को लड़ाओ और अपना शासन करो. 

हम भाईचारा जोड़ने की बात करेंगेः टिकैत

अलवर महापंचायत के बारे में ट्वीट करते हुए राकेश टिकैत ने लिखा- राजस्थान के अलवर में आयोजित किसान-मजदूर भाईचारा महापंचायत में हिस्सा लिया और पंचायत को संबोधित किया. यह देश कौमी एकता,सद्भाव,भाईचारे का देश है.वह भाईचारा तोड़ने की बात करेंगे,हम भाईचारा जोड़ने की बात करेंगे.
 

विपक्ष कमजोर होने पर तानाशाह लेता है जन्म

टिकैत ने आगे कहा कि जब विपक्ष कमजोर होता है तो तानाशाह जन्म लेता है. विपक्ष कमजोर है इसको बंटने मत दो. उन्होंने कहा कि सभी शांतिपूर्ण तरीके से आंदोलन करें और आंदोलन में खाप पंचायत भी लगी हुई है. राजस्थान यूपी हरियाणा में किसानों और अन्य मांगों को लेकर पंचायत करेंगे. उन्होंने सभी को कहा कि घबराने की जरूरत नहीं है अगर एकजुट रहेंगे तो कोई भी सरकार हमें हिला नहीं सकती.

टिकैत ने कहा- अपने बच्चों को पढ़ाओ, रोजगार पर लगाओ. दंगो में मत भेजो. हम सब हिंदू हैं. हिंदू दो तरह के हैं, एक तो वह हिंदू जो नागपुर से चलते हैं और एक हिंदू हम भारतीय हिंदू हैं और भारतीय हिंदू कभी लड़ते नहीं.


टिकैत ने उत्तर प्रदेश सरकार पर आरोप लगाया कि इन विधानसभा चुनाव में 100 से अधिक विधायक जो बने हैं वह ऐसे थे जो हार गए थे लेकिन निर्वाचन विभाग ने उन्हें जीत का सर्टिफिकेट दे दिया. यह किसान भाईचारा महापंचायत समाजिक भाइचारे के ताने-बाने को बनाए रखने के लिए आयोजित किया गया था. सामाजिक भाईचारा कायम होना चाहिए, यही इस महापंचायत का मकसद है. सामाजिक भाईचारा बढ़े इसलिए इसी मकसद से आमजन से चर्चा की गई. भाईचारे को आपस में बढ़ाने के लिए एक विचार को मंच के रूप में सामने रखा गया.

यह भी पढ़ें -  नूंह में 28 अगस्त को फिर निकलेगी शोभायात्रा, प्रशासन ने 4 दिन इंटरनेट बंद करने का लिया फैसला
 

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • 24X7
Choose Your Destination
Close