विज्ञापन
Story ProgressBack

जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल में पहुंचे मणिशंकर अय्यर, कहा- सोनिया गांधी नहीं चाहती थीं कि मैं राजनीतिक जीवन में रहूं

Jaipur Literature Festival 2024: राजस्थान की राजधानी जयपुर में दुनिया का सबसे बड़ा साहित्यिक आयोजन जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल जारी है. शुक्रवार को इस फेस्टिवल में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर भी शामिल हुए. उन्होंने अपनी किताब पर बात की. साथ ही देश की राजनीति और अन्य मुद्दों पर बेबाकी से अपनी राय रखी.

Read Time: 4 min
जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल में पहुंचे मणिशंकर अय्यर, कहा- सोनिया गांधी नहीं चाहती थीं कि मैं राजनीतिक जीवन में रहूं
जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल में पहुंचे कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने सोनिया गांधी, राजीव गांधी सहित कई मुद्दों पर बात की.

Jaipur Literature Festival 2024: जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल में दूसरे दिन कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर भी पहुंचे. इस दौरान उन्होंने अपनी किताब के साथ भारतीय राजनीति, भारत-पाकिस्तान संबंध के साथ-साथ अन्य मुद्दों पर बेबाकी से अपनी राय रखी. मणिशंकर अय्यर अपनी किताब 'राजीव आई नो ' पर बात करने जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल में पहुंचे थे. उनके लिए शुक्रवार को एक सेशन रखा गया था. जिसमें उन्होंने कहा कि राजीव गांधी जैसा नेता आज तक कोई नहीं हुआ. लेकिन शाहबानों और बोफोर्स केस में उनकी इमेज खराब करने की कोशिश की गई. सीबीआई की 16 साल की जांच में बोफोर्स में कुछ नहीं निकला. इसके साथ-साथ मणिशंकर अय्यर ने एक बयान ऐसा दिया जो सुर्खियों में बना है. उन्होंने कहा कि सोनिया गांधी नहीं चाहती थी कि मैं राजनीतिक जीवन में रहूं. इस बयान की चर्चा जयपुर से निकलकर पूरे देश में हो रही है.

सोनिया गांधी ने मुझे लिखने के लिए प्रेरित कियाः अय्यर

दरअसल पूर्व केंद्रीय मंत्री मणिशंकर अय्यर ने कहा- राजीव गांधी के साथ मैंने लंबे वक्त तक काम किया था. उनको लेकर आम जनता के बीच काफी गलत धारणाएं थी. कुछ लोगों ने मुझसे कहा था कि मैं अपनी आत्मकथा लिखूं. तो मैंने सोचा मेरी आत्मकथा लोग क्यों पढ़ना चाहेंगे. उन्होंने यह भी कहा कि कुछ लोगों ने मुझे सुझाव दिया था कि मैं अपनी आत्मकथा लिखूं, तो मैंने सोचा मेरी जिंदगी में ऐसी कौन सी उपलब्धियां रही है,  जो लोग मुझे पढ़ना चाहेंगे. उस वक्त सोनिया गांधी जी ने मुझे लिखने के लिए प्रेरित किया. तब मुझे पता चला था कि वह नहीं चाहती थी मैं राजनीतिक जीवन में लगा रहूं.

भारत सर्जिकल स्ट्राइक करने की हिम्मत रखता है लेकिन बातचीत की नहीं

भारत-पाकिस्तान के रिश्ते पर मणिशंकर अय्यर ने कहा- भारत और पाकिस्तान के बीच कश्मीर मुद्दे को लेकर टेबल पर बातचीत होनी चाहिए थी. भारतीय विदेश नीति पर तंज करते हुए उन्होंने कहा कि भारत के पास सर्जिकल स्ट्राइक करने की हिम्मत है, लेकिन पाकिस्तान से टेबल पर बात करने की हिम्मत नहीं है. कांग्रेस नेता ने आगे कहा कि कश्मीर को लेकर पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ से मेरी बात हुई थी. कश्मीर मामले के समाधान को लेकर उनके पास 4 अहम सुझाव थे. न जाने क्यों इस मुद्दे पर बैठकर बात नहीं हुई. 2014 से 2024 तक भारत-पाकिस्तान के बीच कोई बातचीत नहीं हुई. 

राजीव गांधी की हत्या देश की सबसे बड़ी त्रासदीः अय्यर

मणिशंकर अय्यर ने आगे कहा कि मेरे हिसाब से राजीव गांधी की हत्या देश के लिए सबसे बड़ी त्रासदी है. अगर आज वह जिंदा होते, चाहे विपक्ष या फिर सरकार में तो आज देश की यह हालत नहीं होती. तब की राजनीति नेक थी. आज की राजनीति नापाक है. मालूम हो कि जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल की शुरुआत एक फरवरी को हुई है. पांच दिनों के इस आयोजन के दूसरे दिन मणिशंकर अय्यर सहित कई नामचीन लोग यहां पहुंचे. मशहूर गीतकार गुलजार दूसरे दिन भी जयपुर लिटरचेर फेस्टिवल में रहें. उन्होंने खुद पर लिखी यतींद्र मिश्र की किताब गुलजार साब पर बातचीत की.

यह भी पढ़ें - जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल के पहले दिन गुलजार ने बांधा समां, अजय जडेजा बोले- देवों के देव थे कपिल देव

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close