विज्ञापन
Story ProgressBack

राजस्थान में चुनाव प्रचार के मात्र 13 दिन शेष, अभी तक राहुल गांधी का अता-पता नहीं, क्या है वजह?

3 दिसम्बर को पांच राज्यों में हो रहे चुनावों के नतीजे आएंगे.उनमें से राजस्थान भी है. राहुल गांधी अभी तक राजस्थान में प्रचार के लिए नहीं आये हैं. यह बात राजनैतिक गलियारों में चर्चा का केंद्र बनी हुई है.

Read Time: 5 min
राजस्थान में चुनाव प्रचार के मात्र 13 दिन शेष, अभी तक राहुल गांधी का अता-पता नहीं, क्या है वजह?
राहुल गांधी (फाइल फोटो )

Rajasthan Election:  राजस्थान में 25 नवंबर को एक चरण में चुनाव होना है. मतदान में अब बस मात्र 15 दिन बचे हैं. सभी राजनैतिक दल प्रचार में लगे हैं. लेकिन एक बात जिसकी चर्चा सियासी गलियारों में हर तरफ है वो है कि राहुल गांधी अब तक राजस्थान में क्यों नहीं आए? कांग्रेस ने 40 स्टार प्रचारकों की सूची जारी की है, जिसमें राहुल गांधी का नाम मल्लिकार्जुन खरगे और सोनिया गांधी के बाद तीसरे नंबर पर है. लेकिन राहुल राज्य में चुनाव की घोषणा के बाद से अभी तक एक बार भी राजस्थान नहीं पहुंचे हैं.  

इस चर्चा ने उस समय अधिक ज़ोर पकड़ा जब कांग्रेस के " सात गारंटियों' के वादे के उद्घाटन प्रोग्राम में भी राहुल गांधी नहीं आये. इसमें मुख्य अतिथि के तौर पर प्रियंका गांधी शामिल हुईं थीं. गौरतलब है कि कांग्रेस ने सात गारंटियों के वादे को अपने चुनावी अभियान का मुख्य चेहरा बनाया है. इसके लिए प्रदेश भर में '' गारंटी यात्रा " की शुरुआत की है. 

आचार संहिता के बाद प्रियंका गांधी दो बार राजस्थान आ चुकी है. पहले वो दौसा के सिकराय में ERCP यात्रा के समापन सभा में आईं और उसके बाद 25 अक्टूबर को झुंझुनू में गारंटी योजना की घोषणा सभा में मौजूद रहीं. 

हालांकि राहुल गांधी के पास पार्टी में कोई आधिकारिक पद नहीं है, लेकिन वो कांग्रेस पार्टी का चेहरा हैं, और पार्टी के सबसे बड़े " स्टार प्रचारक" भी हैं. प्रदेश के प्रभारी रंधावा ने कहा है कि राहुल गांधी अन्य राज्यों के चुनावों में प्रचार में व्यस्त हैं. वो दिवाली के बाद राजस्थान आएंगे. 

कुछ दिन पहले राहुल गांधी ने मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान के विधानसभा चुनाव पर कहा था कि मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में हम जीत रहे हैं. लेकिन राजस्थान में जीतने के करीब हैं. राहुल के इस बयान पर खूब राजनीति हुई थी. भाजपा ने कहा था कि राहुल ने चुनाव से पहले ही हार मान ली है. राहुल का बयान वायरल होने पर CM गहलोत ने कहा था कि ' यह हमारे नेता राहुल गांधी की चुनौती है और हम चुनौती स्वीकार करते हैं, हम चुनाव जीतेंगे. 

छत्तीसगढ़ में प्रचार के दौरान राहुल गांधी और CM बघेल

छत्तीसगढ़ में प्रचार के दौरान राहुल गांधी और CM बघेल

टिकट बंटवारे के दौरान नाराज हुए राहुल गांधी! 

कहा जा रहा है कि राहुल गांधी नाराज़ है. टिकट बंटवारे के दौरान मीडिया में ऐसी ख़बरें भी तैरती रहीं कि, राहुल गांधी सर्वे के आधार पर कई विधायकों का टिकट काटने की बात कर रहे थे. लेकिन जब सूची आई थी करीब 80 प्रतिशत सीटों पर वर्तमान विधायकों को फिर से टिकट दिया गया. उम्मीदवारों की लिस्ट में अशोक गहलोत का असर साफ़ दिखाई दिया. 

वहीं ' कौन आलाकमान ' कहने वाले शांति धारीवाल को भी टिकट मिला. जबकि धारीवाल के बारे में CEC की मीटिंग में कथित तौर पर राहुल गांधी ने कहा था कि भारत जोड़ो यात्रा के दौरान इनके बारे में कई शिकायतें आईं थीं. 

MP, छत्तीसगढ़ और तेलंगाना में प्रचार कर रहे राहुल 

छत्तीसगढ़ में दो चरण में चुनाव है. जबकि मध्यप्रदेश और राजस्थान में एक ही चरण में वोटिंह होनी है. राहुल गांधी छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और तेलंगाना में तो रैली कर रहे हैं. लेकिन राजस्थान नहीं आ रहे. जबकि कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे बारां में ERCP यात्रा की शुरुआत सभा में शामिल हुए उसके बाद 6 नवंबर को CM  गहलोत की नमानकन सभा में भी वो शामिल थे. 

यह भी पढ़ें- कन्हैया लाल मर्डरकेस पर PM मोदी का बयान, CM गहलोत बोले- 'प्रधानमंत्री से ऐसी भाषा की उम्मीद नहीं'

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • 24X7
Choose Your Destination
Close