विज्ञापन
Story ProgressBack

Vivek Dhakad Death Case:पूर्व MLA विवेक धाकड़ की मौत पर बढ़ी रार, सड़कों पर उतरे हजारों लोग, कलेक्ट्रेट तक किया मार्च

पूर्व विधायक विवेक धाकड़ ने आत्महत्या कर ली थी. अब उनकी पत्नी और परिवार के अन्य सदस्यों के बीच टकराव की स्थिति बन गयी है. शुक्रवार को धाकड़ समाज के लोग विवेक धाकड़ के पिता कन्हैया लाल धाकड़ के साथ कलेक्टर को ज्ञापन देने पहुंचे और निष्पक्ष जांच की मांग की है.

Read Time: 3 mins
Vivek Dhakad Death Case:पूर्व MLA विवेक धाकड़ की मौत पर बढ़ी रार, सड़कों पर उतरे हजारों लोग, कलेक्ट्रेट तक किया मार्च
कलेक्ट्री पर काफी बड़ी संख्या में इखट्टे हुए लोग

Bhilwara News: भीलवाड़ा जिले के मांडलगढ़ के दिवंगत पूर्व विधायक विवेक धाकड़ की संदेहास्पद मौत पर उठा बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है. अब तक धाकड़ परिवार के बीच चल रही लड़ाई अब सड़कों पर आ गई है. मांडलगढ़ से धाकड़ समाज के आज हजारों लोग भीलवाड़ा पहुंचे. भीलवाड़ा मोदी ग्राउंड से मौन जुलूस के रूप में लोगों की भीड़ जिला कलेक्टर पहुंची जहां प्रदर्शन के बाद कलेक्टर को ज्ञापन दिया और पूरे मामले में निष्पक्ष जांच की मांग की गई. वहीं एक ज्ञापन जस्टिस फॉर विवेक के नाम से बने संस्था ने भी कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक को सौंपा.

विवेक धाकड़ के पिता के साथ आया धाकड़ समाज 

मांडलगढ़ के पूर्व विधायक विवेक धाकड़ की 4 अप्रैल को संदिग्ध हालत में मौत हो गई थी. पूर्व विधायक की निधन के बाद से ही कुछ ना कुछ घटनाक्रम भीलवाड़ा में लगातार जारी है. अब तक परिवार में चल रहा विवाद आज उसे समय सड़कों पर आ गया जब धाकड़ समाज के हजारों लोग पूर्व जिला प्रमुख इंजीनियर कन्हैया लाल धाकड़ के नेतृत्व में न्याय की मांग करते हुए शहर की सड़कों पर मौन जुलूस निकाला. करीब 52 ग्राम पंचायत से ग्रामीण बसों में सवार होकर 12 बजे के आसपास मोदी ग्राउंड पहुंचे. जहां से करीब 1 बजे मौन जुलूस रवाना हुआ.

धाकड़ की पत्नी पद्मिनी के खिलाफ एक और मामला दर्ज

स्वर्गीय पूर्व एमएलए विवेक धाकड़ की बहन ने भाभी के खिलाफ सुभाष नगर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है. मांडलगढ़ के पूर्व विधायक विवेक धाकड़ की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत के बाद परिजनों में आपसी विवाद बढ़ गया है. सुभाषनगर थाने में अब तक एक-दूसरे के खिलाफ तीन मुकदमे दर्ज हो चुके हैं. ताजा मामला विवेक धाकड़ की छोटी बहन व सुगेलैंड (अमेरिका) निवासी दीपशिखा (46) पत्नी वीरेंद्र सिंह धाकड़ ने दर्ज कराया. रिपोर्ट में दीपशिखा ने जानकारी दी कि वह भाई विवेक धाकड़ की मौत की खबर सुनकर 6 अप्रैल को भारत आई. उसके पिता कन्हैयालाल धाकड़ की इस घटनाक्रम के बाद से तबीयत ठीक नहीं है. 5 मई सुबह 8 बजे के करीब पद्मिनी ने पिता के साथ बदतमीजी की. उनको भला बुरा बोलने लगी. टोकने पर पद्मिनी और उसकी अहनें कृष्णा मेहता व नर्मदा सिंह चिल्लाने लगी और हाथापाई पर उतर आई, जिससे उसके हाथ में चोट आई.

ससुर-बहु भी करा चुके मामले दर्ज

ससुर-बहू एक-दूसरे के खिलाफ मामला दर्ज करा चुके. पूर्व जिला प्रमुख कन्हैया लाल धाकड़ और उनकी बहु पद्मिनी धाकड़ भी एक-दूसरे के खिलाफ मुकदमा दर्ज करा चुके हैं. कन्हैयालाल धाकड़ ने पद्मिनी पर विवेक धाकड़ को आतमत्या के लिए मजबूर करने का आरोप लगाया. साथ ही उनसे मारपीट की. यहीं पद्मिनी ने रिपोर्ट में ससुराल के सदस्यों पर जांच नहीं कराने, अपने अनुसार उसके व उसकी पुत्री के बयान कराने को लेकर दबाव बनाने का आरोप लगाया. शारीरिक और मानसिक यातना देने की बात भी कही गई है.

यह भी पढ़ें- कोटा से क्यों 'लापता' हो रहे कोचिंग छात्र? किसी ने सुसाइड नोट छोड़ा तो किसी ने बनाया किडनैपिंग का बहाना

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
गोविंद सिंह डोटासरा ने मदन दिलावर से क्यों कहा- 'जानकारी की कमी है या प्राइवेट स्कूल के एजेंट हैं'
Vivek Dhakad Death Case:पूर्व MLA विवेक धाकड़ की मौत पर बढ़ी रार, सड़कों पर उतरे हजारों लोग, कलेक्ट्रेट तक किया मार्च
Rajasthan Information Assistant Recruitment 2023, Minister increased number of vacant posts
Next Article
राजस्थान सूचना सहायक भर्ती 2023 पर सामने आई बड़ी अपडेट, रिक्त पदों की संख्या बढ़ाई, अब इतने पदों पर होगी बहाली
Close
;