विज्ञापन
Story ProgressBack

Rajasthan Politics: राजस्थान कांग्रेस का एक और दिग्गज छोड़ने वाला है पार्टी, बोला- देखिए जी अति हो गई, बंधुआ मजदूर नहीं है...

Rajasthan Politics: कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी भारत जोड़ो न्याय यात्रा के जरिए पूरे देश को जोड़ने की बात कर रहे हैं. लेकिन उनकी पार्टी अपने ही नेताओं को अपने साथ जोड़ कर रख पाने में विफल हो रही है. कांग्रेस के कई बड़े नेता भाजपा में शामिल होने की खबरें भी सामने आ रही है. ऐसे में राजस्थान, झारखंड मध्य प्रदेश जैसे राज्यों के कई बड़े नेताओं के नाम बताई जा रहे हैं.

Read Time: 3 mins
Rajasthan Politics: राजस्थान कांग्रेस का एक और दिग्गज छोड़ने वाला है पार्टी, बोला- देखिए जी अति हो गई, बंधुआ मजदूर नहीं है...
राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के साथ खिलाड़ी लाल बैरवा व अन्य.

Rajasthan Politics: लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस में भगदड़ मची है. पार्टी के कई सीनियर नेता भाजपा में जाने की तैयारी कर रहे हैं. बात राजस्थान की करें तो यहां से सीडब्ल्यूसी मेंबर और बागीदौरा विधायक महेंद्रजीत सिंह मालवीय के साथ-साथ पूर्व मंत्री लालचंद कटारिया, उदयलाल आंजना और पूर्व विधायक रिछपाल मिर्धा के भाजपा में शामिल होने की अटकलें लगाई जा रही है. लेकिन अब यह फेहरिस्त और लंबी होती दिखाई रही है. राजस्थान कांग्रेस के एक और कद्दावर नेता पार्टी से नाराज हैं. चर्चा है कि वो भी भाजपा का दामन थाम सकते हैं. हम बात कर रहे हैं कि कांग्रेस के पूर्व सांसद, विधायक और एससी कमीशन के चेयरमैन खिलाड़ी लाल बैरवा की. बैरवा ने रविवार को कांग्रेस में मची भगदड़ पर बड़ा हमला बोला है. 

महेंद्रजीत मालवीय छोड़ने वाले हैं कांग्रेस 

इन दिनों देश भर के कई राज्यों के पूर्व मंत्री व विधायक भाजपा में शामिल होने की खबरें सामने आ रही हैं. ऐसे में लोकसभा चुनाव के नजदीक कांग्रेस के सामने इस डैमेज को रोकना अपने आप में चुनौती दिखाई दे रही है. ऐसे ही हालत राजस्थान में भी नजर आ रहे हैं. पूर्ववर्ती सरकार में मंत्री रहे कई नेता भाजपा के संपर्क में हैं. महेंद्रजीत सिंह मालवीय ने कांग्रेस के खिलाफ खुलकर बयान भी दिया है.

वहीं आज दिल्ली में पूर्व सासंद और विधायक खिलाड़ी लाल बैरवा ने भी कांग्रेस नेताओं की पार्टी छोड़ने के सवाल पर कहा कि प्रदेश में कांग्रेस को खत्म करने का काम अशोक गहलोत ने किया है उनके कारण ही कांग्रेस नेता पार्टी छोड़कर दूसरी पार्टियों में जा रहे हैं इस बयान के बाद राजनीतिक माहौल गर्माया हुआ है.

बंधुआ मजदूर तो नहीं है, कैसे बर्दाश्त कर लेंः बैरवा 

खिलाड़ी लाल बैरवा ने कहा- देखिए जी अति हो गई है. मिलते-मिलते मेरा एमपी का टिकट काटा सीटिंग का. मैं एमएलए था, चेयरमैन एससी कमीशन था. इतना काम किया जो देखने लायक है. इसके बावजूद भी इन्होंने किसी ने एक नहीं सुनी, किसी ने ध्यान दिया. न मिलने का टाइम दिया. एक नया लड़का तैयार किया हमारे खिलाफ. जो कोई मतलब का नहीं है. क्या मजाक है.. बधुआ मजदूर तो नहीं है. हम भी जनता को लेकर बैठे है. पॉलिटिक्स करते हैं. एमपी रहे हैं, एमएलए रहे हैं. ऐसे कैसे बर्दाश्त कर लेंगे. यह बर्दाश्त करने वाली बात नहीं है.

पायलट गुट के नेता माने जाते हैं खिलाड़ी लाल बैरवा

खिलाड़ी लाल बैरवा बसेड़ी से पूर्व विधायक हैं. इन्हें सचिन पायलट गुट का माना जाता है. इससे पहले भी बैरवा ने अशोक गहलोत के खिलाफ विधानसभा चुनाव के समय भी बयान दिया था कि उनकी टिकट काटने के पीछे अशोक गहलोत का हाथ है क्योंकि (25 सितंबर) की घटना विधायकों के सामूहिक इस्तीफे के दौरान उन्होंने अशोक गहलोत के समर्थन में इस्तीफा नहीं दिया था. इसी के चलते उनका टिकट काटा गया. अब बैरवा कांग्रेस छोड़ भाजपा के साथ जाने को तैयार दिख रहे हैं.  

यह भी पढ़ें - महेंद्रजीत मालवीय ही नहीं राजस्थान कांग्रेस के 3 और कद्दावर नेता भाजपा में होने वाले हैं शामिल

न कांग्रेस से इस्तीफा, न भाजपा में हुए शामिल, महेंद्रजीत सिंह मालवीय के सियासी बवंडर पर अब सामने आई नई अपडेट

 

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
India Post Bharti 2024: डाक विभाग में 10वीं पास के लिए बंपर भर्ती, 44 हजार पदों के लिए आवेदन शुरू
Rajasthan Politics: राजस्थान कांग्रेस का एक और दिग्गज छोड़ने वाला है पार्टी, बोला- देखिए जी अति हो गई, बंधुआ मजदूर नहीं है...
Father's death shown in an accident for Rs 50 lakh, compassionate appointment taken in Banswara
Next Article
बांसवाड़ा: 50 लाख रुपये के लिए पिता की एक्सीडेंट में दिखा दी मौत, ले ली अनुकंपा नियुक्ति; पुत्र समेत 3 गिरफ्तार
Close
;