विज्ञापन
Story ProgressBack

पारिवारिक विवाद में खूनी संघर्ष, देवर ने की भाभी की हत्या, 5 आरोपी गिरफ्तार

जोधपुर में एक परिवार के आपसी विवाद ने खूनी रूप ले लिया. यहां देवर ने अपने ही भाभी की बीच सड़क पर चाकू मारकर हत्या कर दी. 

पारिवारिक विवाद में खूनी संघर्ष, देवर ने की भाभी की हत्या, 5 आरोपी गिरफ्तार
(प्रतीकात्मक तस्वीर)

Jodhpur Murder Case: राजस्थान में बीते शनिवार को पारिवारिक विवाद में खूनी संघर्ष की खबरे सामने आने से इलाके में सनसनी फैल गई है. जोधपुर के डांगियावास थाना क्षेत्र में शनिवार रात को पारिवारिक विवाद में चाकू और तलवारों से हुए हमले में एक महिला की मौत हो गई, जबकि तीन अन्य लोग घायल हो गए. सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और हत्या सहित अन्य धाराओं में मामला दर्ज किया. इस मामले में पांच आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. मृतका के शव का पोस्टमार्टम एमडीएम अस्पताल में करवाया गया है.

डीसीपी ईस्ट आलोक श्रीवास्तव के अनुसार डांगियावास थाना अंतर्गत गौड़ों की ढाणी बुद्ध नगर निवासी 19 वर्षीय भवानी सिंह ने घटनाक्रम की रिपोर्ट दर्ज करवाई है. घटनाक्रम में भवानी सिंह की मां किरण कंवर की मृत्यु हो गई, जबकि घायल हुए तीनों लोगों का उपचार जारी है.

बचाव में महिला की हुई मौत

रिपोर्ट में बताया गया है कि शनिवार रात करीब 8 बजे भवानी सिंह अपनी बड़ी मां मुन्नी कंवर पत्नी स्वरूप सिंह को तबीयत खराब होने पर अस्पताल लेकर जा रही थी. इस दौरान शेर सिंह पुत्र भंवर सिंह अपनी बंदूक लेकर आया और घर के चौक में आकर उसने भवानी के साथ मारपीट कर दी. उसने चाकू से उसके हाथ पर वार किया. बीच बचाव करने आई भवानी की मां किरण कंवर पर भी उसने छाती पर वार किए, जिससे वह गंभीर घायल होकर गिर गई. बता दें कि शेर सिंह मृतक किरण का देवर है.

बीच बचाव करने आए लोगों पर भी किया हमला

रिपोर्ट में बताया गया कि इस दौरान शेर सिंह के भाई रूप सिंह और हुकम सिंह, कल्याण सिंह और सांवत सिंह तलवार और कुल्हाड़ी लेकर आए. उन्होंने भी मारपीट शुरू कर दी. उन्होंने विनोद कंवर को भी चाकू मारा. बीच बचाव करने आए लिखमाराम और हनुमान सिंह पर भी हमला किया. इसके बाद आरोपी वहां से फरार हो गए. इस दौरान मुन्नी कंवर के पति स्वरूप सिंह मौके पर पहुंचे. उन्होंने घायलों को निजी अस्पताल पहुंचाया, जहां किरण कंवर को चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया.

पांच आरोपी गिरफ्तार

पुलिस ने मौके पर पहुंच कर साक्ष्य जुटाए और शव को मथुरादास माथुर अस्पताल की मोर्चरी भेजा. भवानी सिंह ने अपनी रिपोर्ट में शेर सिंह, रूप सिंह, सांवत सिंह, हुकम सिंह व कल्याण सिंह पर जान से मारने की योजना बनाकर हमला करने का आरोप लगाया था, जिस पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया.

ये भी पढ़ें- इनवेस्टमेंट का झांसा देकर रिटायर्ड प्रोफेसर से ठगे 25 लाख, ऐप से सिलसिलेवार लिये पैसे

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
आनंदपाल एनकाउंटर में शामिल पुलिसकर्मियों को गहलोत सरकार ने दिया था स्पेशल प्रमोशन, अब चलेगा हत्या का केस
पारिवारिक विवाद में खूनी संघर्ष, देवर ने की भाभी की हत्या, 5 आरोपी गिरफ्तार
BJP MLA Samaram Garasia said tribal who do not consider himself a Hindu should not get benefit of reservation
Next Article
Rajasthan Politics: जो आदिवासी ख़ुद को हिंदू नहीं मानते, उन्हें आरक्षण का लाभ न मिले- BJP विधायक
Close
;