विज्ञापन
Story ProgressBack

दबंगों ने दलित दूल्हे की बारात निकालने पर लगाई रोक, राजस्थान से फिर सामने आई जातिभेद की शर्मनाक तस्वीर

दबंगों से मिली धमकी के बाद गांव में खौफ है, पीड़ित परिवार दहशत में है. दबंगों की धमकी के बाद दलित परिवार ने पुलिस को शिकायत दी कि उनकी निकासी नहीं निकलने दी जाएगी. अगर निकासी निकालने की कोशिश की तो उनको अंजाम बुरा होने की धमकी दी गई है.

Read Time: 3 mins
दबंगों ने दलित दूल्हे की बारात निकालने पर लगाई रोक, राजस्थान से फिर सामने आई जातिभेद की शर्मनाक तस्वीर
राजस्थान में दंबगों ने रोकी दलित दूल्हे की बारात, दी चेतावनी.

Casteism in India: देश को आजाद हुए 70 साल से अधिक हो गए लेकिन आज भी दलित समाज (Dalit Samaj) को बराबरी का नहीं समझा जाता है. उनको हमेशा छोटा ही समझा जाता है. इसका जीता-जागता उदाहरण झालावाड़ (Jhalawar) जिला मुख्यालय से महज 10 किलोमीटर दूर गाव निमोदा में देखने को मिला. जहां दलित दूल्हे परमेश्वर मेघवाल ने अपनी निकासी के लिए DJ क्या बुक किया कि गांव के दबंगों ने उसे निकासी नहीं निकलने की धमकी दे डाली. दूल्हे की निकासी यानि की डोल-बाजे के साथ बारात का निकलना. आज शाम उसकी निकासी निकलनी है लेकिन गांव के दबंगों ने इसके निकासी निकालने पर प्रतिबंध लगा दिया और परिवार को धमकी दे डाली.

बारात निकाली तो अंजाम भुगतने को तैयार रहना

दबंगों से मिली धमकी के बाद गांव में खौफ है ओर परिवार दहशत में है. दबंगों की धमकी के बाद दलित परिवार ने पुलिस को शिकायत दी कि उनकी निकासी नहीं निकलने दी जाएगी. अगर निकासी निकालने की कोशिश की तो उनको अंजाम बुरा होने की धमकी दी गई है.

दबंगों की धमकी के बाद गांव में पुलिस की तैनाती.

दबंगों की धमकी के बाद गांव में पुलिस की तैनाती.


निमोदा में दलित भाई-बहन की आज होनी है शादी

मालूम हो कि निमोदा गांव के दलित परिवार में आज दोनों भाई-बहनों की शादी है. दूल्हे की निकासी है उसमें दबंगों के डर के मारे गांव के दलित परिवार में दहशत का माहौल है. हालांकि सूचना के बाद पुलिस ने मोर्चा संभाला है और मौके पर तीन थानों की पुलिस तैनात है. घटना के बाद बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात हो गया गांव में समझाइश की जा रही है. कोई पुलिस द्वारा दलित परिवार को आश्वस्त किया गया है कि उनकी शादी पुलिस सुरक्षा में संपन्न करवाई जाएगी.

बड़ी संख्या में पुलिस के जवान गांव में तैनात

मौके पर एएसपी चिरंजीलाल मीणा, एसडीएम सन्तोष मीणा, डीएसपी हर्षराज सिह, और तहसीलदार  सहित कई अधिकारी मौके पर है. गावों में दोनों पक्षो को समझाने की कोशिश की जा रही है और पुलिस के पहरे में निकासी की बात की गई है. मालूम हो कि इससे पहले भी राजस्थान से ऐसी खबरें सामने आती रही है. जिसमें दंबगों की धमकी के बाद दलित की बारात पुलिस की निगरानी में निकली है. लेकिन समस्या यह है कि आखिर ऐसी सोच पर रोक कब लगेगी. 

यह भी पढ़ें - दलित युवक को घोड़ी पर नहीं चढ़ने की मिली थी चेतावनी, पुलिस की सुरक्षा में शान से निकला दूल्हा

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Rajasthan Politics: इस्तीफे के सवालों में घिरे किरोड़ी लाल मीणा, अपने ही बयानों में फंसे
दबंगों ने दलित दूल्हे की बारात निकालने पर लगाई रोक, राजस्थान से फिर सामने आई जातिभेद की शर्मनाक तस्वीर
Gajendra Singh Shekhawat got Two ministry it is Minister of Culture and Minister of Tourism
Next Article
गजेंद्र सिंह शेखावत का जल शक्ति मंत्रालय सीआर पाटिल को, जानें कौन से दो नए मंत्रालय को संभालेंगे
Close
;