विज्ञापन
Story ProgressBack

कुवैत अग्निकांड में 45 भारतीय मजदूरों की मौत के बाद एक और मुसीबत, राजस्थान से गए श्रमिक हुए बेघर

कुवैत के मंगाफ में 12 जून को इमारत में आग लगने से 45 भारतीय श्रमिकों की मौत के बाद सरकार की सख्त के बाद राजस्थान से गए हजारों श्रमिक बेघर हो गए हैं.

Read Time: 2 mins
कुवैत अग्निकांड में 45 भारतीय मजदूरों की मौत के बाद एक और मुसीबत, राजस्थान से गए श्रमिक हुए बेघर
कुवैत में बेघर हुए भारतीय श्रमिक

Kuwait Fire: कुवैत के दक्षिण शहर मंगाफ में 7 मंजिला इमारत में आग लगने के बाद अब मजदूरों के सामने एक और मुसीबत सामने आ गई है. इमारत में भीषण आग के बाद अब मजदूरों को जर्जर और पुरानी इमारतों से निकाला जा रहा है. इसके कारण अब मजदूर सड़क पर रहने को मजबूर हो गए. सड़कों पर सामान पड़ा होने के कारण मजदूर अब काम पर नहीं जा पा रहे हैं. 

45 भारतीयों की हुई थी मौत

बता दें कि कुवैत के मंगाफ में 12 जून को एक 7 मंजिला इमारत में भीषण आग (Kuwait Fire) लग गई थी. आग की इस घटना में इमारत में रहने वाले 49 विदेशी मजदूरों की मौत हो गई थी. वहीं, 50 अन्य मजदूर घायल हो गए थे. इमारत में आग लगने से मरने वालों में 45 भारतीय मजदूर शामिल हैं. जिस इमारत में आग लगी थी, उसमें 196 प्रवासी मजदूर रह रहे थे. 

Latest and Breaking News on NDTV

बेघर हुए भारत के हजारों श्रमिक

इस घटना के बाद कुवैत में अब जर्जर और पुरानी इमारतों से मजदूरों को निकाला जा रहा है. ऐसे में मजदूर सामान के साथ सड़कों पर रहने को मजबूर हो गए हैं. कुवैत के बेनिद-अल-गर (इस्तिकलाल शहर) में रह रहे राजस्थान के बांसवाड़ा के छींच गांव निवासी मनोज सुथार ने बताया कि मंगाफ शहर में हुए हादसे के बाद कुवैत सरकार और इस्तिकलाल प्रशासन सख्त हो गया है. 

Latest and Breaking News on NDTV

मुसीबत में राजस्थान के हजारों श्रमिक

पुरानी और असुरक्षित इमारतों को खाली करवाया जाया रहा है. ऐसे में राजस्थान के बांसवाड़ा-डूंगरपुर के करीब 5 हजार मजदूर प्रभावित हुए हैं. इन लोगों से इमारत खाली करवा ली गई और ये सभी सड़क पर आ गए हैं. कमरे भी किराए पर नहीं मिल रहे हैं, जिसके कारण सड़कों पर रहने को मजबूर हैं और काम पर भी नहीं जा रहे हैं. ध्यान देने वाली बात है कि ये मजदूर जहां रह रहे हैं, वहां से भारतीय दूतावास महज कुछ ही दूरी पर है. फिर भी इनके लिए कोई वैकल्पिक व्यवस्था नहीं की गई है. 

यह भी पढ़ें- 

जोधपुर में एक रहस्यमयी गुफा, जिसके रास्ते मंदोदरी की शादी में रावण की गुप्त सेना आई थी मंडोर

राजस्थान के 7 जिलों को भजनलाल सरकार का बड़ा तोहफा, चलाई जाएंगी 500 इलेक्ट्रिक बसें

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Rajasthan: पीबीएम अस्पताल की इस सुविधा से मिलेगा बीकानेर संभाग को फायदा, मरीजों के इलाज के लिए जयपुर से आएंगे डॉक्टर
कुवैत अग्निकांड में 45 भारतीय मजदूरों की मौत के बाद एक और मुसीबत, राजस्थान से गए श्रमिक हुए बेघर
Ravindra Bhati's Shiv Vidhan Sabha and Vasundhara Raje's plan ignored in Rajasthan Budget 2024 Know What Barmer get and what is Disappointment
Next Article
बजट में रविंद्र भाटी की शिव विधानसभा और वसुंधरा की योजना की अनदेखी, जानें बाड़मेर को क्या मिला और क्या है निराशा
Close
;