विज्ञापन
Story ProgressBack

Rajasthan Politics: रविंद्र भाटी को सपोर्ट करने वाले पूर्व विधायक अमीन खान पर गिरी राज, कांग्रेस ने 6 साल के लिए किया निष्कासित

Amin Khan Expelled from Congress: लोकसभा चुनाव का मतदान समाप्त होते ही कांग्रेस ने राजस्थान में पार्टी विरोधी कामों में लिप्त रहे नेताओं पर एक्शन लेना शुरू कर दिया है. इसी कड़ी में पार्टी ने पूर्व विधायक अमीन खान सहित दो नेता को 6 साल के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया है.

Read Time: 3 mins
Rajasthan Politics: रविंद्र भाटी को सपोर्ट करने वाले पूर्व विधायक अमीन खान पर गिरी राज, कांग्रेस ने 6 साल के लिए किया निष्कासित
कांग्रेस विधायक अमीन खान और निर्दलीय प्रत्याशी रविंद्र भाटी.

Lok Sabha Elections 2024: राजस्थान में लोकसभा चुनाव का मतदान समाप्त होने के तुरंत बाद कांग्रेस ने पार्टी के वैसे नेताओं पर एक्शन लेना शुरू कर दिया है, जिन्होंने चुनाव प्रचार में पार्टी के फैसले के खिलाफ जाकर काम किया था. इस कार्रवाई की जद में सबसे पहले पश्चिमी राजस्थान के कांग्रेस के बड़े नेता, पूर्व विधायक और मंत्री अमीन खान (Amin Khan) आए हैं. अमीन खान को कांग्रेस ने 6 साल के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया है. अमीन खान के साथ-साथ कांग्रेस ने जालौर के कांग्रेस नेता बालेंदु सिंह शेखावत (Balendu Singh Shekhawat) को पार्टी से 6 साल के लिए निष्कासित कर दिया है. बालेंदु प्रदेश कांग्रेस के पूर्व सचिव हैं.

सुखजिंदर सिंह रंधावा ने निकाला पार्टी से बाहर


अमीन खान और बालेंदु सिंह शेखावत को कांग्रेस से 6 साल के लिए निष्कासित करने की चिट्ठी जारी कर दी गई है. कांग्रेस के राजस्थान प्रभारी सुखजिंदर सिंह रंधावा के हस्ताक्षर से जारी हुई चिट्ठी पर दोनों नेताओं को पार्टी ने निष्कासित करने का फरमान सुनाया गया है. 

शिव में भाटी के हाथों अमीन को मिली थी हार

मालूम हो कि अमीन खान बाड़मेर की शिव विधानसभा सीट से पिछली बार चुनावी मैदान में थे. लेकिन उन्हें वहां हार का सामना करना पड़ा था. अमीन खान को हराकर रविंद्र भाटी शिव से निर्दलीय विधायक चुने गए थे. विधानसभा में मिली हार के बाद अमीन सक्रिय राजनीति से दूर से हो गए थे.

चुनाव प्रचार छोड़ हज करने गए थे अमीन खान

लोकसभा चुनाव का बिगुल बजने के बाद भी वो अपने क्षेत्र में सक्रिय नहीं थे. पार्टी ने उन्हें जो काम दिया उससे भी वो दूरी बनाते नजर आ रहे थे. चुनाव प्रचार अभियान के बीच वो हज की यात्रा पर चले गए थे. इसके साथ-साथ प्रचार अभियान के दौरान ही उन्होंने कांग्रेस पर मुसलमान कौम को तवज्जो नहीं देने का आरोप लगा रहे थे. 

सामने से हो रही इन सब घटनाओं के साथ-साथ अमीन खान बाड़मेर लोकसभा सीट के निर्दलीय उम्मीदवार रविंद्र भाटी के समर्थन में थे. बाड़मेर में बीते कुछ दिनों से कई ऐसी चीजें हो रही थी, जो भाटी को अमीन का समर्थन मिलने का संकेत कर रहे थे. ऐसे में अब अमीन पर पार्टी ने बड़ी कार्रवाई कर दी है. 

बालेंदु सिंह शेखावत पर क्यों गिरी गाज

दूसरी ओर जालौर कांग्रेस कमेटी और जालौर के कांग्रेस प्रत्याशी की शिकायत पर पूर्व प्रदेश सचिव बालेंदु सिंह शेखावत को भी पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है. जालौर सिरोही लोकसभा सीट से पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत चुनावी मैदान में थे. वैभव के साथ-साथ जालौर कांग्रेस कमेटी ने भी बालेंदू की शिकायत की थी. जिसपर उन्हें भी 6 साल के लिए पार्टी ने निष्कासित कर दिया गया है. बालेंदु जालौर से कांग्रेस की ओर से टिकट मांग रहे थे. लेकिन उन्हें टिकट नहीं मिला था.

यह भी पढ़ें - अमीन खान को मिली धमकी मामले में रविंद्र भाटी का बड़ा बयान, बोले- IT सेल थार की अपणायत को कर रही खत्म

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
1 जुलाई से लागू होने जा रहा है तीन नए कानून, सुधांश पंत ने विभागों को दिये यह निर्देश
Rajasthan Politics: रविंद्र भाटी को सपोर्ट करने वाले पूर्व विधायक अमीन खान पर गिरी राज, कांग्रेस ने 6 साल के लिए किया निष्कासित
how much rich is banswara mp rajkumar roat who won on bharat adivasi party ticket
Next Article
Rajasthan Politics: बांसवाड़ा के लोकसभा सांसद राजकुमार रोत कितने अमीर हैं
Close
;