विज्ञापन
Story ProgressBack

Lok Sabha Elections Voting: राजस्थान की 12 लोकसभा सीटों पर मतदान आज, 24370 बूथों पर निष्पक्ष वोटिंग के लिए सवा लाख जवान तैनात

Lok Sabha Elections Voting: लोकसभा चुनाव के पहले चरण में शुक्रवार को राजस्थान की 12 सीटों पर मतदान होना है. निष्पक्ष और भयमुक्त मतदान के लिए सभी आवश्यक तैयारियां पूरी कर ली गई है. प्रदेश में पहले चरण की वोटिंग के लिए 24370 बूथ बनाए गए हैं. वहीं विधि-व्यवस्था के लिए एक लाख से अधिक जवानों को तैनात किया गया है.

Read Time: 5 mins
Lok Sabha Elections Voting: राजस्थान की 12 लोकसभा सीटों पर मतदान आज, 24370 बूथों पर निष्पक्ष वोटिंग के लिए सवा लाख जवान तैनात
लोकसभा चुनाव के लिए धौलपुर में सजा बूथ.

Lok Sabha Elections Voting: लोकसभा चुनाव के पहले चरण में शुक्रवार को 102 सीटों पर मतदान आज यानी कि शुक्रवार को होना है. बात राजस्थान की करें तो यहां की 12 लोकसभा सीटों पर मतदान शुक्रवार को सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक होगा. पहले चरण में जयपुर शहर, जयपुर ग्रामीण, बीकानेर, गंगानगर, चूरू, नागौर, अलवर, झुंझुनू, सीकर, दौसा, भरतपुर और करौली-धौलपुर सीट के लिए चुनाव होना है. जिसके लिए सभी आवश्यक तैयारियां पूरी कर ली गई है. पहले चरण की वोटिंग को लेकर राजस्थान में 24370 बूथ बनाए गए हैं. जबकि शांतिपूर्ण और निष्पक्ष मतदान के लिए प्रदेश में एक लाख से अधिक जवानों की तैनाती की गई है. 

मतदान की पूर्व संध्या पर मुख्य निर्वाचन अधिकारी प्रवीण गुप्ता ने सभी मतदाताओं से लोकतंत्र के महापर्व में अपनी सहभागिता करते हुए मतदान करने का आह्वान किया है. उन्होंने कहा कि प्रदेश के 12 लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों में 19 अप्रैल को सुबह 7 से शाम 6 बजे तक मतदान होगा. मतदान केंद पर पहुंचकर निर्भय होकर मतदान कर भारतीय लोकतंत्र को मजबूत बनाने में अपनी सक्रिय भागीदारी निभाएं. 

गुप्ता ने बताया कि मतदान के दौरान सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. किसी भी तरह की अफवाह फैलाने वालों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जाएगी. बुजुर्गों को कतार में न लगना पड़े, इसके लिए उन्हे पहले मतदान करने की सुविधा मिलेगी. सभी मतदान केंद्रों में व्हीलचेयर, छाया, पीने का पानी, बैठने आदि की समुचित व्यवस्थाएं की गई हैं.

छुट्टी का दिन नहीं, सपरिवार करें मतदानः सीईओ

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि राजस्थान आन-बान-शान की धरती रहा है और यहां के मतदाताओं ने अपनी पहचान और सरोकारों की एक अभिनव परंपरा निरंतर बनाए रखी है. सभी सोचते हैं कि मेरे एक वोट से क्या फर्क पड़ता है? वैसे भी उस दिन मुझे बहुत काम हैं. लेकिन फर्क पड़ता है, आपके एक वोट से लोकतंत्र का फैसला प्रभावित हो सकता है. गुप्ता ने कहा कि मतदान सभी मतदाताओं का अधिकार और कर्तव्य है. मतदान का दिन छुट्टी का दिन नहीं, बल्कि लोकतंत्र का महापर्व है. आप सभी सपरिवार मतदान करने जाएं.

सवा लाख सुरक्षाकर्मी तैनात

पहले चरण के चुनाव के लिए राजस्थान पुलिस ने भी पूरी तरह से कमर कस ली है. कल प्रदेश की 12 लोकसभा सीटों पर चुनाव होने हैं. प्रदेश में सवा लाख सुरक्षाकर्मी सुरक्षा व्यवस्था की जिम्मेदारी निभाएंगे. पहले चरण में राजस्थान पुलिस के 75 हजार जवान, 18 हजार 400 होमगार्ड के जवान, 16 हजार बॉर्डर होम गार्ड एवं केंद्रीय सुरक्षा बल की 175 कंपनियां तैनात रहेंगी. 

एडीजी लॉ एंड ऑर्डर विशाल बंसल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर यह जानकारी दी. प्रथम चरण में राजस्थान के 14 पुलिस जिले आते हैं. इनमें 23 हजार 651 मतदान केंद्र और 719 सहायक मतदान केंद्र बनाए गए हैं. इनमें 17 हजार 500 बूथों को पुलिस ने संवेदनशील और अति संवेदनशील की कैटेगरी में रखा है. 

संवेदनशील बूथ ऐसे बूथ हैं जहां पुलिस को लगता है कि वहां मतदाताओं पर किसी तरह का दबाव हो सकता है. इसकी संख्या 10 हजार है. वहीं अति संवेदनशील बूथ ऐसे हैं जहां पिछले चुनाव में कानून व्यवस्था बिगड़ी हो या 90% से ज्यादा वोटिंग हुई हो, कुल सात ऐसे मानक हैं जिनके आधार पर पुलिस ने इन्हें अति संवेदनशील बूथों के रूप में चिन्हित किया है. इनकी संख्या 7 हजार 500 है. 

सुरक्षा व्यवस्था के कई स्तरीय इंतजाम किए गए हैं 

इनमें बूथ पर सुरक्षा व्यवस्था होगी. प्रत्येक 10 बूथ पर मोबाइल पार्टी रहेगी, इसमें एसआई रैंक के पुलिसकर्मी मौजूद रहेंगे. 8 से 10 मोबाइल वैन की मॉनिटरिंग के लिए डीएसपी रैंक के अधिकारी मौजूद रहेंगे. और इसके ऊपर एसेंबली सुपरवाइजर ऑफिसर्स रहेंगे. फ्लाईंग स्क्वाड टीमों और स्टैटिक सर्विलांस टीमों (एफएसटी एवं एसएसटी) को भी पुलिस जाप्ता दिया गया है. जिला पुलिस अधीक्षकों को त्वरित कार्यवाही दल (क्यूआरटी),स्ट्राइक फोर्स एवं क्रिटीकल कलस्टर मोबाईल टीमों को रणनीतिक रूप से नियोजित कर क्षेत्र में निरंतर भ्रमण करते हुए सघन पर्यवेक्षण के लिए पाबंद किया गया है.

हरियाणा एवं पंजाब पुलिस से भी सामंजस्य बिठाकर सीमावर्ती जिलों पर अतिरिक्त चौकसी बरती जाएगी. इन समस्त चैक पोस्ट पर 5 पुलिसकर्मी एवं 5 होम गार्ड्स का जाप्ता नियोजित कर सीसीटीवी कैमरों और वीडियोग्राफी के जरिए राउंड द क्लॉक मॉनिटरिंग की जा रही है.

विविध टास्क के लिए भी पुलिस बल अलर्ट मोड पर

निर्वाचन से सम्बंधित अन्य महत्वपूर्ण कार्यों में भी पर्याप्त संख्या में पुलिस बल और सुरक्षा कर्मियों को तैनात किया गया है. मतदान के बाद ईवीएम संग्रहण, ईवीएम की सुरक्षा एवं मतगणना केन्द्रों पर सुरक्षा व्यवस्था, संग्रहण एवं मतगणना के दिन यातायात एवं कानून व्यवस्था, वायरलैस संचार व्यवस्था एवं परिवहन सम्बंधी जरूरतों जैसे सभी महत्वपूर्ण टास्क के लिए जिला पुलिस को माकूल प्रबंध करने के निर्देश दिए गए हैं. वहीं किसी भी स्थान पर आकस्मिक स्थिति में पुलिस जिलों में रिजर्व पुलिस टीमें भी अलर्ट पर है.

यह भी पढ़ें - 
मतदान के साथ-साथ गिफ्ट जीतने का भी मौका, पहला पुरस्कार 10 हजार रुपए नकद, जानिए प्रोसेस
राजस्थान में कल पहले चरण का मतदान, दांव पर लगी दो केंद्रीय मंत्री समेत इन दिग्गजों की साख

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Rajasthan: पीबीएम अस्पताल की इस सुविधा से मिलेगा बीकानेर संभाग को फायदा, मरीजों के इलाज के लिए जयपुर से आएंगे डॉक्टर
Lok Sabha Elections Voting: राजस्थान की 12 लोकसभा सीटों पर मतदान आज, 24370 बूथों पर निष्पक्ष वोटिंग के लिए सवा लाख जवान तैनात
Ravindra Bhati's Shiv Vidhan Sabha and Vasundhara Raje's plan ignored in Rajasthan Budget 2024 Know What Barmer get and what is Disappointment
Next Article
बजट में रविंद्र भाटी की शिव विधानसभा और वसुंधरा की योजना की अनदेखी, जानें बाड़मेर को क्या मिला और क्या है निराशा
Close
;