विज्ञापन
Story ProgressBack

राजस्थान में गुड गवर्नेंस पर उठ रहे सवाल! इसे जिले के सरकारी दफ्तरों में कहीं लटका मिला ताला तो कहीं कर्मचारी नदारद

दौसा जिले के बांदीकुई उपखंड क्षेत्र में औचक निरीक्षण के दौरान कई सरकारी दफ्तरों में ताला लटका मिला तो कई दफ्तरों में कर्मचारी नदारद मिले.

Read Time: 3 mins
राजस्थान में गुड गवर्नेंस पर उठ रहे सवाल! इसे जिले के सरकारी दफ्तरों में कहीं लटका मिला ताला तो कहीं कर्मचारी नदारद

Rajasthan News: भले ही राजस्थान में राज बदलने के साथ सरकारी दफ्तरों में सुधार और समय पर आफिस खुलने से लोगों को भजनलाल सरकार के गुड गवर्नेंस की बात कर रही हो. लेकिन दौसा जिले के बांदीकुई उपखंड क्षेत्र में औचक निरीक्षण के दौरान कई सरकारी दफ्तरों में ताला लटका मिला तो कई दफ्तरों में कर्मचारी नदारद मिले. बांदीकुई उपखंड अधिकारी रामसिंह राजावत ने गुड गवर्नेंस के तहत मंगलवार को उपखंड क्षेत्र के विभिन्न सरकारी विभागों के दफ्तरों का औचक निरीक्षण किया था. 

इन कार्यालयों में किया गया निरीक्षण

दौसा  जिले मैं गुड गवर्नेंस के नाम पर चौंका देने वाले मामले सामने आए हैं. जिसमें तहसीलदार बांदीकुई, नायब तहसीलदार बड़ियाल कलां, नायब तहसीलदार आभानेरी द्वारा विभिन्न सरकारी कार्यालयों जेवीवीएनएल बांदीकुई (शहरी), उपजिला अस्पताल बांदीकुई, कार्यालय पंचायत समिति बांदीकुई, कार्यालय सहायक कृषि अधिकारी बांदीकुई, कार्यालय महिला एवं बाल विकास विभाग बांदीकुई, कार्यालय साख्यिकी अधिकारी बांदीकुई, कार्यालय सामाजिक सुरक्षा अधिकारी बांदीकुई, कार्यालय सूचना प्रोद्योगिकी एवं संचार विभाग बांदीकुई, आंगनबाड़ी केंद्र, पटवार भवन, ग्राम पंचायत कार्यालय, कार्यालय पशुचिकित्सक केंद्र बांदीकुई, कार्यालय नगरपालिका बांदीकुई, पीएचईडी के पंप हाउस का औचक निरीक्षण राज्य सरकार के निर्देशानुसार गुड गवर्नेस के परिपेक्ष्य में किया. निरीक्षण के दौरान कई कार्यालयों पर निर्धारित समय पर ताले लटके हुए मिले.

इन केंद्रों पर लटका मिला ताला

आंगनबाड़ी केंद्र गुढलिया प्रथम पर 9 बजे ताला लगा पाया गया. तो पशुधन उपस्वास्थ्य केंद्र गुढलिया पर 9:15 पर कोई भी कर्मचारी पहुंचा ही नहीं गया.यही हाल ग्राम पंचायत पीचूपाड़ा कलां पर 9:35 पर ताला लगा मिला . कृषि पर्यवेक्षक कार्यालय प्रतापपुरा के तो हाल ही बेहाल मिले वहां तो 10:18 AM तक भी ताले नहीं खुल पाए. ऐसा ही कुछ कृषि पर्यवेक्षक कार्यालय पीचूपाड़ा कलां 9:45 बजे तक कर्मचारी नज़रथ और कार्यालय पर ताला लगा था. ग्राम पंचायत प्रतापपुरा कार्यालय पर 10:20 पर ताला लटका हुआ था, कोई कर्मचारी उपस्थित नहीं मिला. ग्राम पंचायत खेड़ी आइटी केंद्र पर 10:12 बजे ताला लगा मिला.

राज्य सरकार के निर्देशों के बावजूद भी कर्मचारी , अधिकारियों का समय पर कार्यालय नहीं आना तथा कई कार्यालयों पर ताले लटके मिलना राज्य सरकार के निर्देशों की अवहेलना को दर्शाता है. 

निरीक्षण मे कुछ ब्लॉक स्तरीय अधिकारी भी अनुपस्थित पाए गए. कुछ कार्यालयों में साफ-सफाई बेहद अंसतोषजनक पाई गई. अनुपस्थित कर्मचारी , अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी. अनुपस्थित पाए गए ब्लॉक स्तरीय अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही संबंधित जिला स्तरीय अधिकारी को लिखा जाएगा.

यह भी पढ़ेंः कांग्रेस के पूर्व विधायक विवेक धाकड़ के मौत मामले आया नया मोड़, अब पत्नी पर ही दर्ज हुआ मुकदमा

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Rajasthan: पीबीएम अस्पताल की इस सुविधा से मिलेगा बीकानेर संभाग को फायदा, मरीजों के इलाज के लिए जयपुर से आएंगे डॉक्टर
राजस्थान में गुड गवर्नेंस पर उठ रहे सवाल! इसे जिले के सरकारी दफ्तरों में कहीं लटका मिला ताला तो कहीं कर्मचारी नदारद
Ravindra Bhati's Shiv Vidhan Sabha and Vasundhara Raje's plan ignored in Rajasthan Budget 2024 Know What Barmer get and what is Disappointment
Next Article
बजट में रविंद्र भाटी की शिव विधानसभा और वसुंधरा की योजना की अनदेखी, जानें बाड़मेर को क्या मिला और क्या है निराशा
Close
;