विज्ञापन
Story ProgressBack

Rajasthan Politics: 'नकारा निकम्मा और गद्दार' कहकर काम नहीं चलाता... अशोक गहलोत पर भड़के मंत्री कन्हैया लाल का तीखा तंज

Kanhaiya Lal Choudhary vs Ashok Gehlot: राजस्थान में पेयजल संकट को लेकर भाजपा सरकार के जलदाय मंत्री कन्हैया लाल चौधरी और पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बीच सोशल मीडिया पर जंग शुरू हो गई है. दोनों नेताओं की ओर से जमकर तंज कसे जा रहे हैं.

Rajasthan Politics: 'नकारा निकम्मा और गद्दार' कहकर काम नहीं चलाता... अशोक गहलोत पर भड़के मंत्री कन्हैया लाल का तीखा तंज
राजस्थान सरकार के जलदाय मंत्री कन्हैया लाल चौधरी और पूर्व सीएम अशोक गहलोत.

Kanhaiya Lal Choudhary vs Ashok Gehlot: मैं कोई बालाजी नहीं है जो फूंक मारूं और पानी आ जाए... राजस्थान में भीषण गर्मी के बीच जारी पेयजल संकट पर भजनलाल सरकार के जलदाय मंत्री कन्हैया लाल चौधरी का यह बयान खूब वायरल हो है. मंत्री के इस बयान को लेकर कांग्रेस उन्हें घेर रही है. पूर्व सीएम अशोक गहलोत सहित कांग्रेस के कई नेताओं ने कन्हैया लाल चौधरी के इस गैर जिम्मेदाराना बयान की आलोचना की है.  लेकिन इसी बयान को लेकर जलदाय मंत्री कन्हैया लाल चौधरी और पूर्व सीएम अशोक गहलोत में सोशल मीडिया पर जंग शुरू हो गई है. दोनों नेता एक-दूसरे पर तीखे तंज करते नजर आए.

दरअसल एक दिन पहले पेयजल संकट पर मंत्री कन्हैया लाल चौधरी के बयान के बाद अशोक गहलोत ने सोशल मीडिया पोस्ट पर इसे दुर्भाग्यपूर्ण बताया था. अब सोशल मीडिया पर ही जलदाय मंत्री ने गहलोत कार्यकाल में जल जीवन मिशन में  गड़बड़ी सहित कई गंभीर आरोप लगाए हैं. 

कन्हैया लाल चौधरी ने सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म एक्स पर लिखा है कि अशोक गहलोत साहब जनता सब जानती है आप परेशान क्यों हैं ? आपको चिंता है कि कहीं लोकसभा चुनाव में आपके पुत्र की हार के बाद आपकी राजनीति सिमट न जाए. तो बयानों पर बयान देकर अपने आप को चर्चाओं में रखना चाहते हैं. 


मंत्री ने आगे लिखा कि दूसरी आपको यह भी चिंता है कि कहीं जल जीवन मिशन में आपकी सरकार में जो भ्रष्टाचार हुआ उसकी अब और ज्यादा पोल न खुले. क्योंकि आपकी सरकार के पेयजल (JJM) भ्रष्टाचार के एक के बाद एक मामले जो उजागर हो रहे हैं. और हां आपकी सरकार के दौरान जिन कमाऊ ठेकेदारों को आप गोद मे खिला रहे थे उनकी पोल भाजपा सरकार में खुल रही है और उनके खिलाफ कार्यवाही भी जारी है.

बालाजी महाराज पर विश्वास है कि आपको भी सद्बुद्धि देंगेः कन्हैया लाल

जलदाय मंत्री का कहना है कि जल प्रबंधन को लेकर हमारी सरकार बेहद गंभीर है आपने जल महकमे का जो सत्यानाश किया गया था उसे सुधारने में तो हम अनवरत कार्यरत हैं ही . साथ ही प्रदेश परिवार के लिए पेयजल की व्यवस्था करने में हम जी जान से जुटे हुए हैं.और हां बालाजी महाराज के जल्दी ही सुंदरकांड के पाठ भी करवाऊंगा. जिससे कि बालाजी महाराज प्रसन्न हो और राजस्थान में जमकर बारिश भी हो.  बालाजी महाराज पर विश्वास है कि आपको भी सद्बुद्धि देंगे. किसान का बेटा और BJP कार्यकर्ता हूँ "नकारा निकम्मा और गद्दार" कहकर काम नहीं चलाता बल्कि मेहनत के साथ बालाजी महाराज को याद रखता हूँ.

मैं कोई बालाजी नहीं जो फूंक मारूं और पानी आ जाएं, मंत्री का बयान वायरल

ग़ौरतलब है कि एक दिन पहले जलदाय मंत्री कन्हैयालाल ने पानी के संकट को लेकर कहा था कि वे कोई बालाजी नहीं है जो फूंक मारकर पानी ले आए. पेयजल व्यवस्था को सुचारु होने के लिए जल्द ही मॉनसून के आने की उम्मीद करनी होगी. इस पर अशोक गहलोत ने एक्स पर लिखा था कि राजस्थान सरकार के पेयजल मंत्री का बयान बेहद ही दुर्भाग्यपूर्ण और पानी की किल्लत से परेशान जनता की भावनाओं के साथ खिलवाड़ करने वाला है. एक मंत्री द्वारा ऐसी भाषा इस्तेमाल करना शोभा नहीं देता. 

मंत्री के बयान की अशोक गहलोत ने की थी आलोचना

अशोक गहलोत ने आगे लिखा था कि राजस्थान में जल संकट हर गर्मियों में आता है परन्तु पहले से प्लानिंग कर इसे आसानी से हल किया जा सकता है. छह महीने से सरकार में होने के बावजूद कोई योजना नहीं बनाई गई इसलिए ऐसी परिस्थिति बनी एवं अब पेयजल मंत्री गैर जिम्मेदाराना बयानबाजी कर रहे हैं. यदि पेयजल मंत्री इस परिस्थिति में जनता को राहत पहुंचाने की क्षमता नहीं रखते तो उन्हें मुख्यमंत्री से अपने विभाग में बदलाव करने का निवेदन कर किसी जिम्मेदार व्यक्ति को काम करने देना चाहिए. 

गहलोत ने लिखा है कि पेयजल और बिजली संकट में राज्य सरकार, PHED विभाग, बिजली विभाग, जिला प्रशासन, नगरीय एवं पंचायतीराज निकाय सभी की जिम्मेदारी थी कि पहले से योजना बनाई जाती एवं आकस्मिक परिस्थितियों से भी निपटने की तैयारी की जाती. ऐसा समय पर नहीं किया गया इसलिए जनता त्राहिमाम-त्राहिमाम कर रही है पर सरकार इसे गंभीरता से नहीं ले रही है. मुख्यमंत्री को पेयजल और बिजली संकट पर एक सर्वदलीय बैठक बुलाकर चर्चा करनी चाहिए इसका हल निकाला जाना चाहिए.

यह भी पढ़ें - जलसंकट के बीच राजस्थान के मंत्री का विवादित बयान, बोले- मैं बालाजी नहीं, फूंक मारूं पानी आ जाएगा

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
आनंदपाल एनकाउंटर में शामिल पुलिसकर्मियों को गहलोत सरकार ने दिया था स्पेशल प्रमोशन, अब चलेगा हत्या का केस
Rajasthan Politics: 'नकारा निकम्मा और गद्दार' कहकर काम नहीं चलाता... अशोक गहलोत पर भड़के मंत्री कन्हैया लाल का तीखा तंज
BJP MLA Samaram Garasia said tribal who do not consider himself a Hindu should not get benefit of reservation
Next Article
Rajasthan Politics: जो आदिवासी ख़ुद को हिंदू नहीं मानते, उन्हें आरक्षण का लाभ न मिले- BJP विधायक
Close
;