विज्ञापन
Story ProgressBack

भीषण गर्मी में पानी का संकट, जलमाफियाओं की चोरी का नहीं थम रहा सिलसिला, एक्शन में पुलिस 5 गिरफ्तार

बालोतरा जिले की पेयजल की मुख्य स्रोत नहरी पानी परियोजना है. लेकिन लम्बे समय से इस लाइन में अवैध कनेक्शन के साथ एयर वाल्व से जलमाफियाओं द्वारा पानी की चोरी कर ली जाती .

Read Time: 3 mins
भीषण गर्मी में पानी का संकट, जलमाफियाओं की चोरी का नहीं थम रहा सिलसिला, एक्शन में पुलिस 5 गिरफ्तार
पकड़े गए जल माफियाओं की तस्वीर

Rajasthan water crisis: राजस्थान के कई इलाकों में भीषण गर्मी का सितम जारी है. ऐसे में बालोतरा जिले का तापमान करीब 48 डिग्री बना हुआ है, ऐसे में बिजली और पानी की सप्लाई भी लड़खड़ाई हुई है.जिले में कई गांवों में पेयजल उपलब्ध नहीं हो पा रहा है. बार-बार मुख्य पेयजल लाइनों के क्षतिग्रस्त होने और बिजली सप्लाई नहीं होने से ग्रामीण क्षेत्रों तक पानी पहुंचाने में जलदाय और बिजली विभाग के भी पसीने छूट रहे हैं. 

बता दें कि अब विभाग सक्रिय हो गया है. लाइनों को दुरुस्त करने के साथ ही अवैध कनेक्शनों व पानी चोरी करने वालो के खिलाफ एक्शन देखने को मिल रहा है. विभाग द्वारा पानी चोरी व अवैध कनेक्शन लेने वालों के खिलाफ पुलिस की मदद से कार्रवाई की जा रही है.

जलदाय विभाग अधिकारियों की शिकायत पर एक्शन

बालोतरा जिले की पेयजल की मुख्य स्रोत पोकरण-फलसुंड-बालोतरा-सिवाना नहरी पानी परियोजना है. लेकिन लम्बे समय से इस लाइन में अवैध कनेक्शन के साथ एयर वाल्व से पानी चोरी का सिलसिला जारी है. जलमाफिया लाइन के एयर वाल्व को क्षतिग्रस्त करके टैंकर भर रहे है और महंगे दामों पर सप्लाई कर रहे है. यही हाल उम्मेदसागर-धवा-कल्याणपुर-खण्डप परियोजना का भी है. यहां से भी पानी चोरी की शिकायतें लगातार मिल रही है.

विभाग ने हाल में समदडी के पास अवैध कनेक्शन काटकर पानी चोरों के खिलाफ मामला भी दर्ज करवाया. आज सिणधरी पुलिस ने भी नहरी पानी परियोजना की लाइन से चोरी करते हुए 5 जलमाफियाओं को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने आरोपी के पानी से भरे टंकियों को भी जब्त किया.

अवैध कनेक्शन और जल माफियाओं के खिलाफ एक्शन

सिणधरी पुलिस ने पानी चोरी और सरकारी सम्पति को नुकसान पहुंचाने के आरोप में सिणधरी निवासी शेराराम पुत्र उदाराम जाट, गेनाराम पुत्र मिश्रराम भील, केशरराम पुत्र शेराराम, पन्नराम पुत्र लाखाराम व विरमाराम पुत्र आदूराम को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता के तहत पीडीपीपी व 379,430 के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू की. विभाग के अधीक्षण अभियंता बाबूलाल मीणा ने बताया कि पानी की लाइनों को क्षतिग्रस्त करने व अवैध कनेक्शन करने वालों के खिलाफ अभियान आगे भी जारी रहेगा.

ये भी पढ़ें- नौतपा के पहले ही दिन राजस्थान में 50⁰ पहुंचा पारा; इन जिलों में हालात गंभीर, डेढ़ दर्जन लोगों की मौत

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
1 जुलाई से लागू होने जा रहा है तीन नए कानून, सुधांश पंत ने विभागों को दिये यह निर्देश
भीषण गर्मी में पानी का संकट, जलमाफियाओं की चोरी का नहीं थम रहा सिलसिला, एक्शन में पुलिस 5 गिरफ्तार
how much rich is banswara mp rajkumar roat who won on bharat adivasi party ticket
Next Article
Rajasthan Politics: बांसवाड़ा के लोकसभा सांसद राजकुमार रोत कितने अमीर हैं
Close
;