विज्ञापन
Story ProgressBack

कैबिनेट मंत्री किरोड़ी लाल मीणा ने क्यों कहा, सत्ता में होने की वजह से मेरी कुछ सीमाएं हैं वरना...?

नांदरी गांव के लोगों से अपील करते हुए कैबिनेट मंत्री डा. किरोड़ी लाल मीणा ने अपील करते हुए कहा कि, किसी से डरने की जरूरत नही, बिनां संकोच के गांव में ही रहें. बता दे, मुकदमा दर्ज होने के बाद बड़ी मात्रा में लोग पलायन कर चुके हैं. 

Read Time: 5 mins
कैबिनेट मंत्री किरोड़ी लाल मीणा ने क्यों कहा, सत्ता में होने की वजह से मेरी कुछ सीमाएं हैं वरना...?
कृषि मंत्री डा. किरोड़ी लाल मीणा (फाइल फोटो)

Nandari Village of Dausa: राजस्थान में सत्तासीन भजनलाल सरकार में कैबिनेट मंत्री डा. किरोड़ी लाल मीणा ने दौसा जिले के सिकराय विधानसभा क्षेत्र के नांदरी गांव के लोगोंं को भयभीत नहीं होने और गांव में ही रहने की अपील की है. बीते रविवार नांदरी गांव में एक महिला की हत्या के बाद हुए विवाद ने उग्र ले लिया था, जिसके बाद पुलिस ने सैंकड़ों लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था.

नांदरी गांव के लोगों से अपील करते हुए कैबिनेट मंत्री डा. किरोड़ी लाल मीणा ने अपील करते हुए कहा कि, किसी से डरने की जरूरत नही, बिनां संकोच के गांव में ही रहें. बता दे, मुकदमा दर्ज होने के बाद बड़ी मात्रा में लोग पलायन कर चुके हैं. 

किरोड़ी लाल मीणा बोले, ग्रामीणों का बाल भी बांका नहीं होने दूंगा.

गत 2 मई को मेहंदीपुर बालाजी थाना क्षेत्र में हुए एक अग्निकांड मामले को लेकर कृषि मंत्री किरोड़ी लाल मीणा की अध्यक्षता में नांदरी गांव में आयोजित महापंचायत में दर्जनों गांवों के ग्रामीण शामिल हुए. इस दौरान उन्होंने ग्रामीणों को आश्वस्त किया कि वो हत्यारों के घरों को जलाने वाले ग्रामीणों का बाल भी बांका नहीं होने दूंगा,चाहे इसके लिए उन्हें खुद बलिदान देना पड़े

मुकदमा दर्ज होने के बाद नांदरी गांव में बड़ी संख्या में किया पलायन

गौरतलब है सिकराय विधानसभा के नांदरी गांव में महिला की हत्या के बाद शुरू हुए उपद्रव के बाद दौसा पुलिस में सैकड़ों गांव वालों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया .बताया जा रहा है कि मुकदमा दर्ज होने के बाद से अब तक नांदरी गांव के अंदर घरों में ताले लगे हुए हैं और बड़ी मात्रा मे लोग गांव छोड़कर पलायन कर चुके हैं .

उपद्रव के बाद पुलिस ने सैंकड़ों के खिलाफ दर्ज किया है मुकदमा

दरअसल, महिला की हत्या के बाद ग्रामीणों ने हत्यारों घरों को आग के हवाले कर दिया था. पुलिस ने मामले में नांदरी गांव के सैंकड़ों ग्रामीणों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है. मुकदमा दर्ज होने के बाद नांदरी गांव के ग्रामीण भयाक्रांत है और घर छोड़कर दूसरी जगह पलायन कर रहे हैं. 

महापंचायत को संबोधित करते हुए कैबिनेट मंत्री डा. किरोड़ी लाल मीणा

महापंचायत को संबोधित करते हुए कैबिनेट मंत्री डा. किरोड़ी लाल मीणा

नांदरी गांव पहुंचे दौसा एडिशनल एसपी दिनेश अग्रवाल, मानपुर पुलिस उपाधीक्षक दीपक मीना के थाना प्रभारी गौरव प्रधान से देर रात कृषि मंत्री और ग्रामीणों ने बंद कमरे में वार्ता की. एएसपी ने आश्वस्त किया है कि मामले में पुलिस किसी भी निर्दोष व्यक्ति पर कार्रवाई नहीं करेगी.

जरूरत पड़ी तो एसपी, आईजी क्या, सीएम को गांव में बुला दूंगा

ग्रामीणों से चर्चा करते हुए मंत्री किरोड़ी लाल मीणा ने कहा कि,अगर आवश्यकता हुई तो एसपी और आईजी क्या, मुख्यमंत्री को भी गांव में बुला दूंगा. इस दौरान कृषि मंत्री ने पुलिस की कार्यप्रणाली पर भी सवाल खड़े किए. ग्रामीणों को आश्वस्त करते हुए उन्होंने कहा कि मामले में जो भी पुलिसकर्मी दोषी होंगे और आचार संहिता के बाद उनका इलाज किया जाएगा..

महापंचायत के बाद एएसपी को बुलाकर मंत्री ने ग्रामीणों से की चर्चा

बीती रात आयोजित महापंचायत के बाद कृषि मंत्री ने एडिशनल एसपी दिनेश अग्रवाल को गांव में बुलाकर ग्रामीणों के साथ वार्ता की. प्रशासन से वार्ता के बाद कृषि मंत्री ने पूरी रात गांव में ही गुजारी. ग्रामीणों को भरोसा दिलाते हुए किरोड़ी लाल मीणा ने आश्वस्त किया कि उनके रहते उनका कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता है. 

ग्रामीणों ने महिला से दुष्कर्म और हत्या के आरोपी का घर जला दिया

गत 29 अप्रैल को मेहंदीपुर बालाजी थाना क्षेत्र की महिला के साथ दुष्कर्म कर उसकी हत्या कर दी गई थी. इस घटना से आक्रोशित ग्रामीणों ने दुष्कर्म और हत्यारोपी युवक सहित उसके परिवारजनों के 4 घरों को आग के हवाले कर दिया था. 
मामले में पुलिस पर निर्दोष लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उन्हें जबरन मामले में फंसाने का आरोप लगाया था.

अगर मैं विपक्ष में होता तो पुलिस को बताता कि रात के समय गांव में घुसकर ग्रामीणों को परेशान करने का नतीजा क्या होता है,लेकिन सत्ता में होने की वजह से मेरी कुछ सीमाएं है. 

डा. किरोड़ी लाल मीणा

कृषि मंत्री, राजस्थान

कैबिनेट मंत्री ने मामले में पुलिस की कार्रवाई पर उठाए सवाल

महापंचायत में पुलिस को कटघरे में खड़ा करते हुए कृषि मंत्री किरोड़ीलाल मीणा ने कहा कि अगर समय रहते पुलिस सचेत हो जाती तो इस घटना को रोक सकती थी. मंत्री ने आगे कहा,. ग्रामीणों ने हत्यारोपी युवक को पुलिस के हवाले कर दिया था, वरना पुलिस तो अब तक आरोपी को ढूंढ भी नहीं पाती.

आचार संहिता खत्म होने के बाद होगा दोषी पुलिसकर्मियों का इलाज 

महापंचायत में ग्रामीणों को समझाते हुए कैबिनेट मंत्री ने कहा कि, आरोपी को सजा देना आम जनता का काम नहीं है, इसलिए कोई भी कानून को अपने हाथ में ना लें. साथ ही, आश्वस्त किया कि मामले में जिन पुलिसकर्मियों ने गड़बड़ किया है, आचार संहिता खत्म होने के बाद उनका इलाज करने की जिम्मेदारी मेरी है.

किरोड़ी बोले, सत्ता में होने की वजह से मेरी कुछ सीमाएं हैं वरना...

महापंचायत में डा. किरोड़ी मीणा ने कहा कि, अगर मैं विपक्ष में होता तो पुलिस को बताता कि रात के समय गांव में घुसकर ग्रामीणों को परेशान करने का नतीजा क्या होता है,लेकिन सत्ता में होने की वजह से मेरी कुछ सीमाएं है. उन्होंने ग्रामीणों से कहा, भयमुक्त होकर गांव मे रहें किसी से डरने की जरूरत नहीं है. 

मामले मेंकिसी भी निर्दोष व्यक्ति पर कार्रवाई नहीं करेगी पुलिसः एएसपी

महापंचायत के बाद नांदरी गांव पहुंचे दौसा एडिशनल एसपी दिनेश अग्रवाल, मानपुर पुलिस उपाधीक्षक दीपक मीना के थाना प्रभारी गौरव प्रधान से देर रात तक कृषि मंत्री और ग्रामीणों ने बंद कमरे में वार्ता की. वार्ता के बाद सामने आए एएसपी ने आश्वस्त किया किस मामले में पुलिस किसी भी निर्दोष व्यक्ति पर कार्रवाई नहीं करेगी.

ये भी पढ़ें-Lok Sabha 2024: राजस्थान में बीजेपी की मिशन 25 को बड़ा झटका, केंद्रीय गृह मंत्री का बड़ा बयान, जानें कितनी कम हो रही हैं सीटें?

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
हनुमान बेनीवाल ने उठाया बड़ा मुद्दा, कहा- विधायक रहते सांसद बनने वालों को दोनों सदनों की सदस्यता मिलनी चाहिए
कैबिनेट मंत्री किरोड़ी लाल मीणा ने क्यों कहा, सत्ता में होने की वजह से मेरी कुछ सीमाएं हैं वरना...?
ACB Action: ACB raid on Apex Bank MD premises, search operation from Jaipur-Jodhpur to Jhunjhunu.
Next Article
ACB Action: बैंक एमडी के ठिकानों पर एसीबी की छापेमारी, जयपुर-जोधपुर से लेकर झुंझुनूं तक सर्च ऑपरेशन
Close
;