विज्ञापन
Story ProgressBack

EVM Machine: जोधपुर में बन रहे EVM, बेंगलुरु से पहुंचे 11 इंजीनियर; हर रोज 15 मशीन हो रही तैयार

EVM Machine Manufacturing: लोकसभा चुनाव 2024 की तैयारी पूरे देश में शुरू हो चुकी है. भाजपा, कांग्रेस सहित सभी राजनीतिक पार्टियों के साथ-साथ निर्वाचन आयोग और प्रशासन भी अपनी-अपनी तैयारियों में जुटा है. इस बीच राजस्थान के जोधपुर में ईवीएम मशीनें तैयार की जा रही है.

Read Time: 3 min
EVM Machine: जोधपुर में बन रहे EVM, बेंगलुरु से पहुंचे 11 इंजीनियर; हर रोज 15 मशीन हो रही तैयार
लोकसभा चुनाव 2024 के लिए जोधपुर में तैयार हो रहे ईवीएम.

EVM Machine Manufacturing: लोकसभा चुनाव 2024 की तैयारी शुरू हो चुकी है. अप्रैल-मई के महीने में चुनाव होना है. अभी तारीखों का ऐलान तो नहीं हुआ है लेकिन सभी राजनीतिक दलों के साथ-साथ निर्वाचन आयोग और प्रशासन भी अपनी-अपनी तैयारी में जुटी है. यूपी में समाजवादी पार्टी ने तो उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया है. नेताओं के दौरे, बयानबाजी, एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप से चुनावी माहौल बन रहा है. इस बीच निर्वाचन आयोग अपनी मशीनरी को दुरुस्त करने में जुटा है. इस कड़ी में राजस्थान के जोधपुर जिले में ईवीएम मशीनों का निर्माण शुरू हो चुका है. जोधपुर में करीब 5000 से अधिक इलेक्टोनिक वोटिंग मशीन(EVM) तैयार हो रही है जिसके लिए बेंगलुरु से 11 इंजीनियरों का एक दल भी जोधपुर पहुंच चुका है. 

बताया गया कि जोधपुर में बन रहे इन सभी ईवीएम को आगामी लोकसभा चुनाव 2024 में मतदान दिवस के दिन उपयोग में ली जाएगी. जोधपुर की पॉलिटेक्निक कॉलेज में बने वेयरहाउस में इन सभी ईवीएम को इंजीनियर तैयार कर रहे हैं. जहां सभी 11 इंजीनियर अगले एक महीने तक जोधपुर में रहकर करीब 5000 से अधिक ईवीएम को तैयार करेंगे जिसमें प्रतिदिन प्रति इंजीनियर करीब 15 ईवीएम को तैयार कर रहे हैं. 

शुरुआती दौर में करीब 2500 से अधिक मतदान केंद्रों पर लगने वाली ईवीएम को तैयार करने के साथ ही रिजर्व और प्रशिक्षण में उपयोग ली जाने वाली ईवीएम को इसमें शामिल किया गया है. जहा आंकड़ों के अनुसार 4180 बेलेटिंग यूनिट(BU),3657 कंट्रोल यूनिट(CU) व 3657 विविपेट(VVPAT)  शामिल है.

डीएम बोले- चुनाव पूर्व ईवीएम की जा रही तैयार

जोधपुर के जिला कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी गौरव अग्रवाल ने एनडीटीवी से बात करते हुए बताया कि लोकसभा चुनाव की तैयारी में ईवीएम को तैयार करना अहम काम है. इसी कड़ी में जोधपुर जिले में 11 इंजीनियर एफएलसी प्रक्रिया के तहत आगामी लोकसभा चुनाव के लिए इन सभी ईवीएम को तैयार कर रहे हैं.

डीएम ने आगे बताया कि पिछली विधानसभा में ईवीएम उपयोग में लाई गई थी, इसके बाद में 45 दिन की एक समयाअवधि होती है जिसको इलेक्शन पिटिशन पीरियड कहते हैं. जिसमें कोई इलेक्शन पिटिशन दायर कर सकता है और यह जब इलेक्शन पिटिशन पीरियड पूर्ण होता है और अगर इसमें कोई पिटीशन दायर नहीं होती है तो उन ईवीएम को अगले चुनावों के लिए तैयार किया जाता है. जोधपुर में अभी यही प्रक्रिया चल रही है. जहां बेंगलुरु से आए इंजीनियर इन ईवीएम को तैयार कर रहे हैं. जहा प्रतिदिन 15 से 16 ईवीएम तैयार की जा रही है. कलेक्टर ने बताया कि यह प्रक्रिया 20 से 25 फरवरी तक चलेगी.

यह भी पढ़ें -  जोधपुर फार्म हाउस पर चित्रा सिंह का अंतिम संस्कार, हाथों में पट्टी बांध बेटे हमीर ने दी मुखाग्नि; नहीं शामिल हो सके मानवेंद्र सिंह

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close