विज्ञापन
Story ProgressBack

राजस्थान और पंजाब के तस्करों की अब खैर नहीं, दोनों राज्यों की पुलिस ने मिलकर बनाई ऐसी रणनीति

अपराधियों के खिलाफ राजस्थान और पंजाब पुलिस अब मिल करकाम करेगी. दोनों राज्यों के पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक हुई.

राजस्थान और पंजाब के तस्करों की अब खैर नहीं, दोनों राज्यों की पुलिस ने मिलकर बनाई ऐसी रणनीति
पंजाब के फाजिल्का में आयोजित बैठक की तस्वीर

Rajasthan News: लोकसभा चुनाव के चलते अपराधियों पर सख्ती से कार्रवाई की जाएगी. इसके लिए राजस्थान और पंजाब पुलिस मिलकर बेहतर तालमेल के साथ करेगी. शनिवार को इस संबंध में पंजाब के फाजिल्का में एक बैठक आयोजित की गई. जिसमें दोनों राज्यों की पुलिस ने सुरक्षा व्यवस्था की रणनीति को लेकर बात की. इस दौरान बैठक की अध्यक्षता फाजिल्का के डिप्टी कमिश्नर डॉ. सेनू दुग्गल ने की. बैठक में श्रीगंगानगर जिला कलक्टर लोकबंधु, श्रीगंगानगर एसपी गौरव यादव के अलावा फाजिल्का और हनुमानगढ़ जिलों के अधिकारी मौजूद रहें. 

इस दौरान श्रीगंगानगर जिला कलक्टर लोकबंधु ने बताया की लोकसभा चुनाव के दौरान पड़ोसी राज्यों में अपराधियों, मादक पदार्थों और धन बल की आवाजाही को रोकने के लिए अंतरराज्यीय स्तर पर प्रयासों के समन्वय के लिए यह बैठक फाजिल्का के जिला प्रबन्धक कार्यालय में आयोजित की गई. 

CCTV कैमरे की निगरानी में होगी नाकाबंदी

डॉ. सेनू दुग्गल ने कहा कि यह आवश्यक है कि पुलिस, एक्साइज और अन्य विभागों के बीच बेहतर समन्वय हो. उन्होंने कहा कि असामाजिक तत्वों के अंतरर्राज्यीय प्रवाह को रोकने के लिए पंजाब और राजस्थान की सीमा पर नाकाबंदी की जा रही है. यह नाकाबंदी सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में होगी. सीमा पर 24 चौकियां लगाई जा रही हैं. इसके अलावा शराब और अन्य नशीले पदार्थों की एक राज्य से दूसरे राज्य में आवाजाही पर भी सख्ती से रोक रहेगी. 

समन्वय से होगा शांतिपूर्ण चुनाव

बैठक में बीकानेर आईजी ओम प्रकाश भी वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से जुड़े. उन्होंने कहा कि दोनों जिलों के बीच चौकी स्तर से लेकर एसएसपी स्तर तक बेहतर समन्वय होगा तो शांतिपूर्ण चुनाव कराने में कोई दिक्कत नहीं आएगी. श्रीगंगानगर जिला कलेक्टर लोकबंधु ने बताया कि जिले की 48 किमी सीमा और हनुमानगढ़ की 18 किमी सीमा पंजाब से लगती है. असामाजिक तत्वों को यहां से एक-दूसरे राज्य में आने की अनुमति नहीं दी जायेगी. आपसी मेलजोल से बुरे तत्वों को जड़ से खत्म करना बहुत आसान हो जाता है.

सूचनाओं का होगा आदान-प्रदान

गंगानगर एसपी गौरव यादव ने बताया कि नाकाबंदी के साथ-साथ दोनों राज्यों की पुलिस असामाजिक तत्वों के खिलाफ संयुक्त अभियान भी चलाएगी और एक-दूसरे से सूचनाओं का आदान-प्रदान करेगी. उन्होंने कहा कि परमिटशुदा शराब की आवाजाही के बारे में एक-दूसरे को भी सूचित करेंगे और यदि अवैध तस्करी के बारे में कोई जानकारी है, तो इसे भी उनके बीच साझा किया जाएगा.

ये भी पढ़ें- जयपुर में फिर बड़ा हादसा, केमिकल फैक्ट्री में लगी भीषण आग, जिंदा जल गए 5 मजदूर

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
ERCP पर सुरेश रावत ने अशोक गहलोत को घेरा, कहा- 10 हजार करोड़ के टेंडर की बात सच लेकिन मंशा सही नहीं
राजस्थान और पंजाब के तस्करों की अब खैर नहीं, दोनों राज्यों की पुलिस ने मिलकर बनाई ऐसी रणनीति
Rajasthan State Open 10th-12th Board Exam students cheat in board exams, vigilance team climbed the wall
Next Article
Rajasthan: स्कूल के गेट पर ताला लगाकर टीचर करा रहे थे बोर्ड एग्जाम में नकल, दीवार फांदकर गई विजिलेंस टीम
Close
;