विज्ञापन
Story ProgressBack

सीकर में सड़क पर उतरा विपक्ष, पानी-बिजली की मांग; सांसद अमराराम, राजकुमार रोत ने सरकार पर बोला हमला

Opposition Protest in Sikar: प्रदेश की भाजपा सरकार बदले की भावना से जनता को गर्मी मारने और प्यास मारने का काम कर रही है... उक्त बातें गुरुवार को सीकर सांसद अमराराम ने पानी-बिजली समस्या को दूर करने के लेफ्ट द्वारा बुलाई गई आक्रोश रैली में कही. उन्होंने नीमकाथाना कलेक्टर के बदलने की मांग उठाते हुए कहा कि अभी तो ट्रेलर है, मांगें नहीं मानी तो जनता फिल्म दिखाएगी.

Read Time: 5 mins
सीकर में सड़क पर उतरा विपक्ष, पानी-बिजली की मांग; सांसद अमराराम, राजकुमार रोत ने सरकार पर बोला हमला
Opposition Protest in Sikar: बिजली-पानी की समस्या को लेकर सीकर में विपक्ष का प्रदर्शन.

Opposition Protest in Sikar: लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections Result 2024) में उम्मीद अनुरुप परिणाम मिलने के बाद अब राजस्थान में विपक्ष (Opposition in Rajasthan) काफी मजबूत नजर आ रहा है. विपक्ष के नेता सोशल मीडिया से सड़क तक सरकार को घेरते नजर आ रहे हैं. प्रदेश में पड़ रही भीषण गर्मी के बीच बिजली कटौती और जल संकट के खिलाफ विपक्ष लगातार आवाज बुलंद कर रहा है. विपक्ष के हल्लाबोल का नजारा गुरुवार को सीकर (Sikar) जिले में देखने को मिला. जहां लेफ्ट की आक्रोश रैली में स्थानीय नव-निर्वाचित सांसद अमराराम (Sikar MP Amra ram),  बांसवाड़ा सांसद राजकुमार रोत (Rajkumar Roat)  के साथ-साथ मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (Marxist Communist Party) के सैकड़ों कार्यकर्ता सड़कों पर उतरे. इन लोगों ने प्रदेश में अघोषित बिजली कटौती, पानी की समस्या और बढ़ते अपराध पर अंकुश लगाने की मांग उठाई.

इस दौरान सीकर सांसद अमराराम ने नीमकाथाना कलेक्टर को हटाने की मांग उठाते हुए कहा कि आज का प्रदर्शन ट्रेलर है, अगर नहीं माने तो जिले और प्रदेश की जनता फिल्म दिखाएगी.

बिजली-पानी की समस्या को लेकर निकाली आक्रोश रैली

दरअसल गर्मी के तीखे तेवर के बीच जिले भर में लगातार घोषित बिजली कटौती व पानी की समस्या लगातार बढ़ती जा रही है. बिजली व पानी की समस्या के समाधान की मांग को लेकर आज मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के कार्यकर्ताओं व आमजन ने सीकर सांसद अमराराम और धोद के पूर्व विधायक पेमाराम की अगुवाई में शहर के ढाका भवन से जिला कलेक्ट्रेट तक सरकार के खिलाफ आक्रोश रैली निकाली. आक्रोश रैली में बड़ी संख्या में महिलाएं और माकपा कार्यकर्ता हाथो में बिजली व पानी की समस्या के निदान की मांग के बेनर व तख्तियां लेकर सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए जिला कलेक्टर पहुंचे. 

मुख्यमंत्री ने नाम कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

जहां प्रदर्शनकारियों ने केंद्र व राज्य की भाजपा सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए जोरदार प्रदर्शन किया. प्रदर्शन के बाद जिला कलेक्टर को मुख्यमंत्री के नाम अपनी मांगों का ज्ञापन सौंपा गया. वहीं सीकर सांसद कॉमरेड अमराराम, बांसवाड़ा से सांसद राजकुमार रोत, बागीडोरा से विधायक जयकिशन, धोद के पूर्व विधायक पेमाराम सहित नेताओं ने कलेक्ट्रेट पर सभा को संबोधित करते हुए भाजपा की केंद्र व राज्य सरकार पर जमकर निशाने साधे. 

बिजली, पानी, चिकित्सा, शिक्षा के वादों को पूरा नहीं कर सकी सरकार

प्रदेश में लगातार बढ़नी पानी की समस्या व इसके साथ ही तेज गर्मी में भी अघोषित बिजली कटौती को लेकर प्रदेश की भाजपा सरकार पर कई आरोप लगाए. वक्तओं ने संबोधित करते हुए कहा राजस्थान की भाजपा सरकार ने अपने चुनावी एजेंडा में प्रदेश की जनता को बिजली, पानी, चिकित्सा, शिक्षा की उचित व्यवस्था करने की बात कही थी. जिसे आज तक पूरा नहीं कर पाई. वही प्रदेश में लगातार अपराध भी बढ़ते जा रहे हैं जिन पर अंकुश लगाने में सरकार असफल रही है. अगर सरकार जल्द समस्याओ का समाधान नहीं करेगी तो आगे बड़ा आंदोलन किया जाएगा. प्रदर्शन के दौरान बड़ी संख्या में पुलिस जाब्ता भी कलेक्ट्रेट पर तैनात किया गया.

सीकर की आक्रोश रैली में लाल झंडा लिए बड़ी संख्या में जुटे लोग.

सीकर की आक्रोश रैली में लाल झंडा लिए बड़ी संख्या में जुटे लोग.

लोगों को प्यासे मारने का काम कर रही सरकारः अमराराम

सांसद कॉमरेड अमराराम ने कहा कि प्रदेश में एक तरफ भयंकर गर्मी का दौर चल रहा है उसे पर राज्य सरकार 24 घंटे बिजली देने की बजाय लगातार अघोषित बिजली कटौती कर रही है. एक तरफ गर्मी मारने का और दूसरी तरफ प्रदेश की जनता को पानी के बिना प्यासा मारने का काम प्रदेश की सरकार कर रही है. उन्होंने कहा जबकि प्रदेश व जिले की जनता पैसे देकर बिजली उपयोग कर रही है. अब जब तेज गर्मी पड़ रही है तो अघोषित बिजली कटौती कर जनता को गर्मी मारने का काम सरकार कर रही है. 

बदले की भावना से काम कर रही सरकार

सांसद अमराराम ने आगे कहा कि तेज गर्मी के बाद भी पीने के पानी की कोई उचित व्यवस्था भी नहीं की जा रही है वहीं जनता तक वैकल्पिक रूप से कोई पानी के टैंकर तक पहुंच रहे हैं और ना ही अन्य कोई व्यवस्था की जा रही है. जिले में दर्जनों ऐसे ट्यूबवेल है जिन्हें खोदने पर भी रोक लगा दी गई. यह पहली ऐसी सरकार होगी जो पानी की व्यवस्था करने के बजाय हाथ पर हाथ रखकर बैठी है और केवल बरसात का इंतजार कर रही है. उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा प्रदेश की भाजपा सरकार बदले की भावना से जनता को गर्मी मारने और प्यास मारने का काम कर रही है. 

27 जून को उग्र आंदोलन की चेतावनी

सीकर सांसद ने आगे कहा हम इसे बिल्कुल बर्दाश्त नहीं करेंगे आज मुख्यमंत्री के नाम मांगों का ज्ञापन सौंपा गया है. अगर समय रहते समुचित व्यवस्था नहीं की गई तो आगामी 27 जून को तमाम सहायक अभियंता कार्यालय को ठप करने का काम सीकर जिले की जनता करेगी. सांसद अमराराम ने कहा कल सुबह 11 बजे नीमकाथाना कलेक्टर को आज के प्रदर्शन की तरह ट्रेलर दिखाएंगे और ट्रेलर से नहीं माने तो फिल्म दिखाने का काम सीकर और राजस्थान की जनता करेगी.

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
झाबर सिंह खर्रा के बयान पर गोविंद सिंह डोटासरा बोले- 'अब उपचुनाव में 5 सीट भी हारेगी बीजेपी'
सीकर में सड़क पर उतरा विपक्ष, पानी-बिजली की मांग; सांसद अमराराम, राजकुमार रोत ने सरकार पर बोला हमला
Rajasthan Budget 2024 5 important announcements for the farmers of Rajasthan, 100 farmers will go to Israel
Next Article
राजस्थान के किसानों के लिए बजट में हुई यह 5 अहम घोषणाएं, इजराइल जाएंगे 100 किसान
Close
;