विज्ञापन
Story ProgressBack

राजस्थान में मार्च में हो रही बर्फबारी, माइनस 2 तक लुढ़का पारा, गर्म कपड़े निकालने को मजबूर हुए लोग

Weather patterns changed in Rajasthan in March: मार्च महीने में सरहदी जिले श्रीगंगानगर और सिरोही जिले के माउंट आबू में लगातार तापमान में गिरावट दर्ज की जा रही है. सोमवार को माउंट आबू में जहां तामपान माइनस में पहुंच गया, तो श्रीगंगानगर में दर्ज किए गए न्यूनतम तापमान ने पिछले 6 साल का रिकार्ड तोड़ दिया है.

Read Time: 3 mins
राजस्थान में मार्च में हो रही बर्फबारी, माइनस 2 तक लुढ़का पारा, गर्म कपड़े निकालने को मजबूर हुए लोग
प्रतीकात्मक तस्वीर

Weather of Rajasthan: मार्च का महीना शुरू हो गया है, अमूमन मार्च महीने में गर्मी अपना प्रभाव दिखाना शुरू कर देती है, लेकिन इस साल राजस्थान में मार्च महीने में गर्मी थोड़ी भटक गई लगती है. सरहदी जिले श्रीगंगानगर और सिरोही जिले में सर्दी वापस लौटने का नाम नहीं ले रही है.

मार्च महीने में सरहदी जिले श्रीगंगानगर और सिरोही जिले के माउंट आबू में लगातार तापमान में गिरावट दर्ज की जा रही है. सोमवार को माउंट आबू में जहां तामपान माइनस में पहुंच गया, तो श्रीगंगानगर में दर्ज किए गए न्यूनतम तापमान ने पिछले 6 साल का रिकार्ड तोड़ दिया है.

छह डिग्री दर्ज किया गया न्यूनतम तापमान 

मौसम विभाग की माने तो पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने के कारण हिमाचल में बर्फ़बारी हुई और ठंडी हवाएं चलने से राजस्थान में भी इसका असर देखने को मिला. मौसम विभाग के अनुसार आगामी तीन चार दिन तक मौसम ऐसा ही बने रहने की संभावना है. खेतो में फसलों पर ओस की बूंदे भी दिखाई दी.

मार्च महीने में दर्ज की जा रही तामपान में गिरावट की वजह हिमाचल में बर्फ़बारी और पंजाब में ओलावृष्टि बताई जा रही है. बताया गया है कि ठंडी हवाएं चलने से मार्च महीने में न्यूनतम तापमान दर्ज किया गया है.

संदूक में रखे गर्म कपड़े निकालने को मजबूर हुए लोग

फरवरी के अंतिम सप्ताह में तेज धूप के कारण लोगो ने गर्म कपडे़ संभालने शुरू कर दिए थे,लेकिन मार्च महीने अप्रत्याशित रूप से जब सर्दी के लौटने पर लोग अपने गर्म कपडे़ फिर से निकालने को मजबूर है. दिलचस्प यह है कि दिन में तेज धूप निकलती है, लेकिन ठंडी हवा के कारण धूप में गर्माहट का असर कम ही रहता है.

मौसम विभाग की माने तो मार्च के महीने के दो पश्चिमी विक्षोभ और आएंगे, जिससे मौसम में बदलाव आएगा. उधर किसानों का कहना है की यदि अब ओलावृष्टि हुई तो उनकी पकी- पकाई सरसों की फसल को अच्छा ख़ासा नुक्सान पहुंचेगा. 

माउंट आबू में लगातार तीसरे दिन माइनस 2 डिग्री रहा तापमान

माउंट आबू में लगातार तीसरे दिन माइनस 2 डिग्री तापमान दर्ज किया है, जो बहुत बड़ा उलटफेर है, जहां दिसम्बर और जनवरी सरीखे सर्दी की वापसी हो गई है. मार्च महीने में माइनस में पारा लुढ़कने के कारण माउंट आबू में बर्फ जमी हुई नजर आ रही है.अचानक सर्दी के तीखे तेवर से पुनः सर्दियों जैसा मौहाल हो गया है.

मार्च के महीने में बढ़ी सर्दी से प्रदेश के एकमात्र हिल स्टेशन माउंट आबू में पर्यटकों को बर्फ का आनंद लेने का एक और मौका दे दिया है. यहां सुबह के समय मैदानी इलाकों में बर्फ की परत देखने को मिल रही है और सर्दी से बचने के लिए अलाव का सहारा लेना पड़ रहा है.

ये भी पढ़ें-माउंट आबू के मौसम में बड़ा उलटफेर, मार्च में जमाव बिंदु पर पहुंचा पारा, माइनस 2 हुआ तापमान

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Rajasthan Politics: हरीश चौधरी की कविता से क्यों हुआ विवाद? विरोध करने सत्ता पक्ष के साथ खड़े हो गए रविंद्र सिंह भाटी
राजस्थान में मार्च में हो रही बर्फबारी, माइनस 2 तक लुढ़का पारा, गर्म कपड़े निकालने को मजबूर हुए लोग
Dummy candidates caught in 10th-12th open examination, were giving exam in place of Sarpanches in Barmer Rajasthan
Next Article
अब 10वीं-12वीं की ओपन परीक्षा में भी पकड़े गए डमी कैंडिडेट, सरपंचों के बदले दे रहे थे परीक्षा
Close
;